X close
X close
Indibet

AUS vs IND: भारत-ऑस्ट्रेलिया के तीसरे वनडे में लगी रिकॉर्ड्स की झड़ी, पहली बार हुआ ऐसा

Shubham Shah
By Shubham Shah
December 02, 2020 • 17:19 PM View: 550

भारतीय क्रिकेट टीम ने बुधवार को कैनबरा में खेले गए तीसरे और आखिरी वनडे मैच में ऑस्ट्रेलिया को 13 रन से हरा दिया। हालांकि ऑस्ट्रेलिया ने सीरीज 2-1 से अपने नाम की। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए विराट कोहली (63), हार्दिक पांड्या (92*) और रविंद्र जडेजा (66*) के नाबाद अर्धशतकों के दम पर निर्धारित 50 ओवरों में 5 विकेट के नुकसान पर 302 रन रनाए। इसके जवाब में ऑस्ट्रेलियाई टीम 49.3 ओवरों में 289 रनों पर ऑलआउट हो गई। इस मुकाबले में कई रिकॉर्ड्स भी बने, आइए डालते हैं उनपर एक नजर

सबसे तेज 12 हजार रन 

Trending


विराट कोहली ने अपने वनडे करियर के 12000 रन पूरे कर लिए। कोहली ने यह कारनामा 242 पारियों में पूरा किया। इसके साथ ही उन्होंने वनडे में सबसे तेज 12000 पूर करने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। इस मामले में उन्होंने सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़ा। तेंदुलकर ने 300वीं पारी में 12000 रन पूरे किए थे। 

पांड्या-जडेजा का कमाल 

हार्दिक पांड्या और जडेजा ने ऑस्ट्रेलिया  कैनबेरा के मैदान पर छठे विकेट के लिए 108 गेंदों में 150 रनों की साझेदारी की। यह भारत की तरफ से वनडे में छठे विकेट के लिए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सबसे बड़ी साझेदारी है। इसके अलावा ये भारत की तरफ से वनडे में छठे विकेट के लिए तीसरी सबसे बड़ी साझेदारी है। पहले स्थान पर अंबाती रायडू और स्टुअर्ट बिन्नी का नाम है। दोनों ने साल 2015 में जिम्बाब्वे के खिलाफ हरारे के  मैदान पर छठे विकेट के लिए 160 रन बनाए थे। दूसरे स्थान पर महेंद्र सिंह धोनी और युवराज सिंह की जोड़ी मौजूद है। दोनों ने साल 2005 में जिम्बाब्वे के खिलाफ ही हरारे के मैदान पर 158 रन बनाए थे। 

टी नटराजन इस लिस्ट में 11वें खिलाड़ी 

टी नटराजन भारत की तरफ से बतौर बाएं हाथ के तेज गेंदबाज 11वें खिलाड़ी है। भारत ने आज तक कुल 990 वनडे मुकाबले खेले है जिसमें करसन गावरी बाएं हाथ के पहले तेज गेंदबाज थे। उसके बाद  रूद्र प्रताप सिंह(1986), राशिद पटेल, जाहिर खान,आशीष नहेरा, इरफान पठान, रूद्र प्रताप सिंह(2005-11),जयदेव उनादकट, बरिंदर सरन, खलील अहमद, टी नटराजन 

एक भी शतक नहीं

पहली बार ऐसा हुआ है जब ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ द्विपक्षीय वनडे सीरीज में भारत के लिए किसी भी खिलाड़ी ने एक भी व्यक्तिगस शतक नहीं जड़ा है। 

पहली बार हारी

कैनबरा के मनुका ओवर मैदान पर पहली बार ऑस्ट्रेलिया कोई इंटरनेशनल मैच हारी है। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने इस मैदान पर 4 वनडे, एक टेस्ट और एक टी-20 मैच खेला था और सभी मुकाबलों में उसने जीत दर्ज की थी।


 


 
Article