Advertisement
Advertisement

सीनियर भारतीय महिला फुटबॉल टीम के मुख्य कोच के लिए एल चाओबा देवी के नाम की सिफारिश

L Chaoba Devi: नई दिल्ली, 25 जनवरी (आईएएनएस) अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) की तकनीकी समिति ने भारतीय सीनियर महिला टीम के मुख्य कोच के रूप में भारत की पूर्व अंतर्राष्ट्रीय लंगम चाओबा देवी के नाम की सिफारिश की है।

Advertisement
IANS News
By IANS News January 25, 2024 • 14:26 PM
L Chaoba Devi's name recommended for senior India women's football team head coach
L Chaoba Devi's name recommended for senior India women's football team head coach (Image Source: IANS)
L Chaoba Devi:

नई दिल्ली, 25 जनवरी (आईएएनएस) अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) की तकनीकी समिति ने भारतीय सीनियर महिला टीम के मुख्य कोच के रूप में भारत की पूर्व अंतर्राष्ट्रीय लंगम चाओबा देवी के नाम की सिफारिश की है।

सीनियर महिला टीम के कोचिंग स्टाफ के नामों की सिफारिश करने के लिए तकनीकी समिति की गुरुवार को वर्चुअल बैठक हुई।

एआईएफएफ की विज्ञप्ति में कहा गया है, "बहुत विचार-विमर्श के बाद, तकनीकी समिति ने भारतीय सीनियर महिला टीम के मुख्य कोच के रूप में नियुक्ति के लिए भारत की पूर्व अंतर्राष्ट्रीय लंगम चाओबा देवी के नाम की सिफारिश की।"

चाओबा देवी ने दो एएफसी महिला चैंपियनशिप और 1998 में बैंकॉक में एशियाई खेलों में भारत का प्रतिनिधित्व किया है और वह पहले सीनियर महिला टीम की सहायक कोच थीं। वह किकस्टार्ट एफसी की वर्तमान मुख्य कोच हैं, जो मौजूदा आईडब्लूएल सीज़न में अजेय हैं और वर्तमान में दूसरे स्थान पर हैं।

इसमें कहा गया है, "2023 में एआईएफएफ महिला कोच ऑफ द ईयर नामित प्रिया पीवी को ब्लू टाइग्रेसेस के सहायक कोच के रूप में अनुशंसित किया गया है।"

पिछले साल, प्रिया पीवी भारतीय अंडर17 टीम की मुख्य कोच थीं, जिन्होंने पहली बार अंडर17 महिला एशिया कप क्वालीफायर के राउंड 2 में जगह बनाई थी।

समिति ने सिफारिश की कि लॉरेम्बम रोनिबाला चानू को भारतीय सीनियर महिला टीम के गोलकीपर कोच के रूप में अपनी भूमिका जारी रखनी चाहिए।

फीफा महिला अंतरराष्ट्रीय मैच विंडो के दौरान तुर्की में 19 से 28 फरवरी तक होने वाले 2024 तुर्की महिला कप में ब्लू टाइग्रेसेस के भाग लेने की उम्मीद है। 2019 और 2021 के बाद तुर्की महिला कप में यह भारत की तीसरी भागीदारी हो सकती है।

भाग लेने वाली टीमों और फिक्स्चर की पूरी सूची आयोजकों द्वारा उचित समय पर घोषित की जाएगी। 11 फरवरी को आईडब्लूएल के 10वें राउंड के समापन के बाद, भारतीय टीम तुर्की के लिए प्रस्थान करने से पहले एक सप्ताह के लिए शिविर लगाएगी।

बैठक की अध्यक्षता भारत के पूर्व कप्तान आईएम विजयन ने की और एआईएफएफ के कार्यवाहक महासचिव एम सत्यनारायण, सदस्य पिंकी बोमपाल मगर, हरजिंदर सिंह, अरुण मल्होत्रा, क्लाइमेक्स लॉरेंस, यूजीनसन लिंगदोह और एआईएफएफ के तकनीकी निदेशक सैयद साबिर पाशा ने भाग लिया।

कार्यवाहक महासचिव सत्यनाराणन ने कहा, "हम इस साल अपनी महिला टीम को अधिक अंतरराष्ट्रीय मैच देना चाहते हैं और हमने टीम को इस तुर्की आमंत्रण टूर्नामेंट में भेजने का फैसला किया है। इसलिए, मुझे लगता है कि यह एक अच्छी शुरुआत होगी। उम्मीद है, हमारी लड़कियों को यूरोपीय माहौल में खेलने से बहुत जरूरी अनुभव प्राप्त होगा। तकनीकी समिति ने कोचों की अपनी पसंद की सिफारिश की है, आइए सर्वश्रेष्ठ की आशा करें और भारतीय टीम के लिए कुछ नई प्रतिभा खोजें।


Advertisement
Advertisement
Advertisement