X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

भारतीय टेस्ट टीम को मिला 'टीम ऑफ द ईयर' अवॉर्ड

by Vishal Bhagat Jan 14, 2020 • 16:54 PM

14 जनवरी भारतीय टेस्ट टीम को स्पोर्ट्सस्टार एसेस पुरस्कार के दौरान 'टीम ऑफ द ईयर' के पुरस्कार से सम्मानित किया गया। भारतीय टेस्ट टीम ने पिछले साल शानदार प्रदर्शन करते हुए आस्ट्रेलिया में 71 साल बाद पहली बार टेस्ट सीरीज जीती थी।

यह पुरस्कार समारोह ओडिशा टूरिज्म, एमआरएफ टिसोट, स्पाइस जेट, विजिट मोनाको, एलआईसी, निप्पन पेंट्स और सोनी टेन-1 के सहयोग से सोमवार को आयोजित किया गया था।

भारतीय टीम के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर ने टीम की तरफ से बीसीसीसीआई अध्यक्ष सौरभ गांगुली के हाथों से यह पुरस्कार ग्रहण किया।

इस अवसर पर गांगुली ने कहा, "टीम ऑफ द ईयर अवार्ड जीतने के लिए विक्रम और उनकी टीम को बधाई। यह एक और बड़े साल की शुरुआत है, जिसमें टी-20 विश्व कप होने वाले हैं और मुझे उम्मीद है कि यह साल भी अच्छा जाएगा।"

सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा को स्पोर्ट्समैन ऑफ द ईयर (क्रिकेट) और स्मृति मंधाना को स्पोर्ट्सवूमैन ऑफ द ईयर (क्रिकेट) के पुरस्कार के लिए चुना गया।

आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज स्टीवन स्मिथ को बैन के बाद राष्ट्रीय टीम में लौटने के बाद उनके शानदार प्रदर्शन के लिए चेयरमैन च्वाइस अवॉर्ड से नवाजा गया।

विश्व चैम्पियन बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु साल का सर्वश्रेष्ठ महिला खिलाड़ी और बी साई प्रणीत को साल का सर्वश्रेष्ठ पुरुष खलाड़ी का पुरस्कार मिला।

ट्रैक एंड फील्ड वर्ग में स्टीपलचेज एथलीट अविनाश साबले को साल का सर्वश्रेष्ठ पुरुष एथलीट के पुरस्कार से सम्मानित किया गया जबकि इसी वर्ग में महिला भाला फेंक एथलीट अनु रानी को साल का सर्वश्रेष्ठ महिला एथलीट का पुरस्कार मिला।

अवार्ड समारोह में भारतीय हॉकी खिलाड़ियों का भी बोलबाला रहा। भारतीय पुरुष हाकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह को वर्ष का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी (टीम खेल) का पुरस्कार मिला जबकि महिला खिलाड़ी दीप ग्रेस एक्का को वर्ष का सर्वश्रेष्ठ महिला हॉकी खिलाड़ी का पुरस्कार मिला।

मनप्रीत के नेतृत्व में भारत पुरुष सीरीज फाइनल जीतने में सफल रहा है और टीम ने टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया है।

पहलवान बजरंग पूनिया ने व्यक्तिगत वर्ग में वर्ष के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार अपने नाम किया।

शतरंज खिलाड़ी कोनेरू हम्पी और निशानेबाज अपूर्वी चंदेला को संयुक्त रूप से वर्ष की सर्वश्रेष्ठ महिला खिलाड़ी का पुरस्कार प्रदान किया गया।

अपनी कप्तानी में 1983 में भारत को विश्व कप जिताने वाले कपिल देव को खेलों में उनके योगदान के लिए लाइफटाइम अचीमेंट अवॉर्ड से नवाजा गया। बैडमिंटन कोच पुलेला गोपीचंद और शतरंज कोच आबी रमेश को संयुक्त रूप से कोच ऑफ द ईयर का पुरस्कार मिला।

उभरते शतरंज खिलाड़ी आर प्रगनंदा और निशानेबाज मेहुली घोष को सर्वश्रेष्ठ युवा महिला खिलाड़ी के पुरस्कार से स्म्मानित किया गया।

ओडिशा ने लगातार दूसरी बार बेस्ट स्टेट ऑफ प्रमोशन अवार्ड अपने नाम किया। अवार्ड 1994 से 2003 तक लगातार शुरू होता आ रहा था और 2018 में इसे फिर से शुरू किया गया था।

अवार्ड जूरी में सुनील गावस्कर, विश्वनाथन आनंद, हिंदू प्रकाशन समूह के अध्यक्ष एन राम, भारतीय हॉकी टीम के पूर्व सदस्य एम एम सोमैया, पूर्व महिला निशानेबाज अंजलि भागवत और टेबल टेनिस खिलाड़ी अपर्णा पोपट शामिल थे।