Advertisement
Advertisement

'क्या हमें कुश्ती छोड़ देनी चाहिए': विनेश को एशियाई खेलों के ट्रायल से छूट पर अंतिम ने उठाया सवाल

मौजूदा अंडर20 विश्व चैंपियन पहलवान अंतिम पंघल ने एशियाई खेलों के चयन ट्रायल से विनेश फोगाट को दी गई छूट पर बुधवार को सवाल उठाए और इस फैसले के पीछे के कारण को समझने की कोशिश की।

Advertisement
IANS News
By IANS News July 19, 2023 • 17:11 PM
'What about us, should we quit wrestling': Antim raises question on Vinesh's exemption from Asian Ga
'What about us, should we quit wrestling': Antim raises question on Vinesh's exemption from Asian Ga (Image Source: IANS)

Asian Games:  मौजूदा अंडर20 विश्व चैंपियन पहलवान अंतिम पंघल ने एशियाई खेलों के चयन ट्रायल से विनेश फोगाट को दी गई छूट पर बुधवार को सवाल उठाए और इस फैसले के पीछे के कारण को समझने की कोशिश की।

मंगलवार को एक आश्चर्यजनक कदम में, भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) द्वारा नियुक्त भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) की तदर्थ समिति ने टोक्यो ओलंपिक के कांस्य पदक विजेता बजरंग पुनिया (65 किग्रा) और दो बार की विश्व चैंपियनशिप पदक विजेता विनेश (53 किग्रा) को आगामी एशियाई खेल 2023 के लिए चयन ट्रायल में शामिल होने से छूट की अनुमति दे दी है।

53 किलोग्राम भार वर्ग में प्रतिस्पर्धा करने वाली 19 वर्षीय अंतिम ने इस चौंकाने वाले फैसले पर नाराजगी जताई और ट्रायल छूट के मानदंडों के बारे में पूछा।

"विनेश फोगाट को एशियाई खेलों के लिए सीधे प्रवेश मिला है, जबकि उन्होंने पिछले एक साल में कोई अभ्यास नहीं किया था। पिछले एक साल में उनके नाम कोई उपलब्धि नहीं है।"

ओलंपिक पदक विजेता पहलवान योगेश्वर दत्त द्वारा ट्विटर पर पोस्ट किए गए एक वीडियो में अंतिम ने कहा, ''2022 जूनियर विश्व चैंपियनशिप में मैंने स्वर्ण पदक जीता था और यह उपलब्धि हासिल करने वाली भारत की पहली महिला पहलवान बनी थी। 2023 एशियाई चैंपियनशिप में मैंने रजत पदक जीता, लेकिन विनेश के पास पिछले एक साल में दिखाने के लिए कोई उपलब्धि नहीं है। वह तो घायल हो गई थी।''

अंतिम ने पिछले साल कॉमनवेल्थ गेम्स ट्रायल्स की एक ऐसी ही घटना को भी याद किया और कहा कि बर्मिंघम के ट्रायल्स के दौरान भी उन्हें अनुचित व्यवहार का सामना करना पड़ा था।

19 वर्षीय खिलाड़ी ने कहा, "यहां तक ​​कि कॉमनवेल्थ गेम्स के ट्रायल में भी मेरी उनसे 3-3 बाउट हुई थी। तब भी मुझे धोखा मिला था। मैंने कहा, 'कोई नहीं (यह ठीक है), मैं हांगझाउ एशियाई खेलों में जाकर ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करने की कोशिश करूंगी। लेकिन अब वे कह रहे हैं कि वे विनेश को भेजेंगे। ऐसा नहीं होना चाहिए।''

वे ये भी कह रहे हैं कि जो एशियन गेम्स के लिए जाएगा वो वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए भी जाएगा और जो वर्ल्ड्स में पदक जीतेगा वह ओलंपिक (पेरिस में) जाएगा। हम भी वर्षों से कड़ी ट्रेनिंग कर रहे हैं।' तो, हमारे बारे में क्या? क्या हमें कुश्ती छोड़ देनी चाहिए? हमें बताएं कि उसे (विनेश) किस आधार पर भेजा जा रहा है।”

अंतिम ने कहा, ''साक्षी मलिक ने भी ओलंपिक पदक जीता है, उन्हें भी नहीं भेजा जा रहा है, विनेश में ऐसी क्या खास बात है जो उसे भेजा जा रहा है, बस परीक्षण आयोजित करें, मैं यह नहीं कह रही कि मैं अकेली हूं जो विनेश को हरा सकती हूं। ऐसी कई अन्य लड़कियां हैं जो उसे हरा सकती हैं।"

एशियाई खेल 2023 के लिए कुश्ती चयन ट्रायल 22 और 23 जुलाई को निर्धारित हैं। ग्रीको-रोमन और महिलाओं के फ्रीस्टाइल ट्रायल 22 जुलाई को निर्धारित हैं, जबकि पुरुषों के फ्रीस्टाइल ट्रायल 23 जुलाई को नई दिल्ली के आईजी स्टेडियम में आयोजित किये जाएंगे।

ट्रायल सभी 18 भार वर्गों में आयोजित किए जाएंगे, जिनमें बजरंग और विनेश डिवीजन भी शामिल हैं। इन दो भार वर्गों (पुरुष फ्रीस्टाइल 65 किग्रा और महिला 53 किग्रा) में ट्रायल के विजेता को स्टैंडबाय में रखा जाएगा।

एशियाई खेलों के लिए चयन ट्रायल के लिए डब्ल्यूएफआई के नियम के आधार पर छूट दी गई थी।

Also Read: Major League Cricket 2023 Schedule

डब्ल्यूएफआई के नियमों के अनुसार, "सभी भार वर्गों में चयन ट्रायल अनिवार्य हैं, हालांकि, चयन समिति के पास मुख्य कोच/विदेशी विशेषज्ञ की सिफारिश पर बिना ट्रायल के ओलंपिक/विश्व चैंपियनशिप के पदक विजेताओं जैसे प्रतिष्ठित खिलाड़ियों का चयन करने का विवेक होगा।"


Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement