X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

स्मृति मंधाना और मितारी राज का कमाल, न्यूजीलैंड को हराकर भारत ने रचा इतिहास

by Vishal Bhagat Jan 29, 2019 • 16:10 PM

29 जनवरी।  बे-ओवल मैदान पर मंगलवार को खेले गए दूसरे वनडे मैच में न्यूजीलैंड को आठ विकेट से हराकर भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने नया इतिहास रचा है।

भारतीय टीम ने पहली बार न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में जीत हासिल की है। दोनों टीमों के बीच तीसरा और आखिरी वनडे मैच एक फरवरी को हेमिल्टन में खेला जाएगा।  भारत ने नेपियर में खेले गए पहले वनडे मैच में न्यूजीलैंड को नौ विकेट से हराया था। 

स्मृति मंधाना (90) और मिताली राज (62) की नाबाद अर्धशतकीय पारियों के दम पर भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड को दूसरे वनडे मैच में आठ विकेट से हराया और तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त बनाई है। 

न्यूजीलैंड ने भारतीय टीम की ओर से मिले पहले बल्लेबाजी के प्रस्ताव को स्वीकार करते हुए कप्तान एमी स्टाथवेट (71) की अर्धशतकीय पारी से मेहमान टीम को 162 रनों का लक्ष्य दिया। 

भारतीय टीम ने अपनी महिला गेंदबाजों के अच्छे प्रदर्शन के दम पर न्यूजीलैंड की पारी को 161 रनों पर ही समेट दिया। इस पारी में झूलन गोस्वामी ने सबसे अधिक तीन विकेट लिए, वहीं एकता बिष्ट, दीप्ति शर्मा, पूनम यादव को दो-दो सफलताएं मिलीं। शिखा पांडे को एक विकेट हासिल हुआ। 

न्यूजीलैंड की ओर से मिले लक्ष्य को हासिल करने उतरी भारतीय टीम के लिए पारी की शुरुआत थोड़ी खराब रही। दूसरे ओवर की दूसरी ही गेंद पर उसे जेमिमाह रोड्रिगेज के रूप में अपना पहला विकेट गंवाना पड़ा। 

रोड्रिगेज को एना पीटरसन ने खाता खोलने का मौका दिए बगैर एमीलिया कैर के हाथों कैच आउट कर पवेलियन की राह दिखाई। 

इसके बाद, मंधाना का साथ देने आईं दीप्ति शर्मा (8) भी अधिक समय तक मैदान पर नहीं टिक सकीं। उन्हें ली ताहुहु ने विकेट के पीछे खड़ीं बर्नाडिने के हाथों कैच आउट कर भारतीय टीम का दूसरा विकेट गिरा दिया। 

भारतीय टीम ने 15 के स्कोर पर अपने दो विकेट गंवा दिए थे। दीप्ति के आउट होने के बाद टीम की सबसे अनुभवी बल्लेबाज और कप्तान मिताली ने भारत की पारी को संभाला। 

मिताली ने मंधाना के साथ मिलकर बिना कोई और नुकसान किए 151 रनों की शानदार शतकीय साझेदारी कर भारतीय टीम को 35.2 ओवरों में ही उसके लक्ष्य तक पहुंचाया और आठ विकेट से जीत दिलाई। दोनों नाबाद लौंटी। 

मंधाना ने अपनी पारी में 83 गेंदों का सामना किया। उन्होंने 13 चौके और एक छक्का लगाया, वहीं मिताली ने 111 गेंदें खेलीं और उसमें चार चौके और दो छक्के लगाए। भारत के लिए सबसे अधिक रन बनाने वाली बल्लेबाज मंधाना को प्लेयर ऑफ द मैच के पुरस्कार से नवाजा गया।