Advertisement
Advertisement

'मेरा सपना सच होने जैसा, कभी सोचा नहीं था ऐसा कर पाऊँगा'

ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज स्कॉट बोलैंड ने मंगलवार को कहा कि एमसीजी में तीसरे एशेज टेस्ट में इंग्लैंड के खिलाफ छह विकेट हासिल करना यह सपने का सच होने जैसा है, क्योंकि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि वह ऐसा कभी

IANS News
By IANS News December 28, 2021 • 15:25 PM
Cricket Image for 'मेरा सपना सच होने जैसा, कभी सोचा नहीं था ऐसा कर पाऊँगा'
Cricket Image for 'मेरा सपना सच होने जैसा, कभी सोचा नहीं था ऐसा कर पाऊँगा' (Image Source: Google)
Advertisement

ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज स्कॉट बोलैंड ने मंगलवार को कहा कि एमसीजी में तीसरे एशेज टेस्ट में इंग्लैंड के खिलाफ छह विकेट हासिल करना यह सपने का सच होने जैसा है, क्योंकि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि वह ऐसा कभी कर पाएंगे।

32 वर्षीय खिलाड़ी टेस्ट डेब्यू में ही लॉकल हीरो बनकर उभरे हैं, जब उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के लिए सबसे सफल गेंदबाज के रूप में उभरकर मात्र चार ओवरों में सात रन देकर छह विकेट ले लिए, जिससे इंग्लैंड की टीम महज 68 रनों पर ही ढेर हो गई। कंगारूओं ने यह मैच एक पारी और 14 रनों से अपने नाम कर लिया।

Trending


सेन रेडियो के अुनसार, 144 सालों में बोलैंड (6/7) द्वारा किए गए एमसीजी पर एक डेब्यू खिलाड़ी के रूप में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है और अधिक विकेट लेने वाले एकमात्र खिलाड़ी टॉम केंडल हैं, जिन्होंने 1877 में 7/55 रिकॉर्ड विकेट अपने नाम किए थे।

इस पर बोलैंड ने कहा, 'यह एक सपने के सच होने जैसा है, जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया को पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में 3-0 की अजेय बढ़त दिलाने में मदद की। साथ ही कहा कि मैंने नहीं सोचा था कि ऐसा कभी होगा। मैं वास्तव में भाग्यशाली हूं।'

विक्टोरिया के कोच रोजर्स ने कहा कि उन्हें इस साल की शुरुआत में राष्ट्रीय चयनकर्ता जॉर्ज बेली से बोलैंड के लिए उत्साहजनक शब्द सुनने को मिले थे।

रोजर्स ने याद करते हुए कहा, 'मेरी जॉर्ज बेली से उनको लेकर बातचीत हुई थी, उन्होंने बोलैंड को लेकर कहा था कि उन्हें शानदार मौका मिल रहा है।'

तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड के चोटिल होने के बाद उनकी जगह पर बोलैंड को तीसरे टेस्ट के लिए चुना गया था।

बोलैंड ने कहा, मैंने सिर्फ इसे एक मौके की तरह लिया है और कभी सोचा नहीं था कि टीम में खेलूंगा।

उन्होंने आगे कहा, 'जब हेजलवुड चोटिल हुए तो वास्तव में मैंने कभी नहीं सोचा था कि मुझे यह अवसर मिलेगा।'

बोलैंड को लगता है कि उनका टेस्ट डेब्यू घरेलू क्रिकेट में उनके प्रयासों का परिणाम है, क्योंकि उन्होंने पिछले दो शेफील्ड शील्ड सीजन में 45 विकेट लिए थे।

Also Read: Ashes 2021-22 - England vs Australia Schedule and Squads

1996 से 2006 के बीच 71 टेस्ट खेलने वाले तेज गेंदबाज जेसन गिलेस्पी के बाद बोलैंड दूसरे आदिवासी खिलाड़ी हैं।
 

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement
Advertisement