X close
X close
Indibet

'पूरी दुनिया में 4000 टाइगर होंगे, लेकिन राहुल द्रविड़ सिर्फ एक है'

राहुल द्रविड़ को लेकर न्यूज़ीलैंड के पूर्व खिलाड़ी रॉस टेलर ने एक बयान दिया है।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav August 14, 2022 • 16:21 PM

न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान रॉस टेलर ने इस साल की शुरुआत में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। कई सालों तक कीवी मध्य क्रम की रीढ़ रहे रॉस टेलर एक बार फिर से लाइमलाइट में आ चुके हैं। हाल ही में, टेलर ने 'ब्लैक एंड व्हाइट' टाइटल से एक आत्मकथा लिखी है और उस पुस्तक में, उन्होंने भारत के मौजूदा मुख्य कोच राहुल द्रविड़ की एक घटना का वर्णन किया है। 

टेलर ने अपनी आत्मकथा में जिस घटना का वर्णन किया है उसके मुताबिक टेलर और राहुल दोनों बाघ को देखने के लिए राजस्थान के रणथंभौर नेशनल पार्क का दौरा किया था। टेलर ने ये भी बताया कि इस दौरान आम जनता को बाघ को देखने की तुलना में द्रविड़ में अधिक रुचि थी और वो उनकी फैन फॉलोइंग देखकर हैरान रह गए।

Trending


टेलर ने अपनी आत्मकथा में कहा, "मैंने द्रविड़ से पूछा, 'आपने कितनी बार बाघ देखा है?' उन्होंने कहा, 'मैंने कभी बाघ नहीं देखा।' मैं 21 बार आ चुका हूं और एक भी बाघ नहीं देखा। मैंने सोचा, 'क्या? 21 सफारी की और एक भी बाघ नहीं देख। सीरियसली, अगर मुझे ये पता होता, तो मैं भी नहीं जाता। मैंने कहा होता, “नहीं धन्यवाद, मैं डिस्कवरी चैनल देखूंगा।"

आगे बोलते हुए उन्होंने कहा, "टीवी पर कुछ बेसबॉल खेला जा रहा था जिसे वो देखना चाहता था इसलिए वो हमारे साथ दोपहर की सफारी पर नहीं आया। हमारे ड्राइवर को एक सहयोगी से रेडियो कॉल मिला कि उन्हें एक प्रसिद्ध बाघ दिखा है जिसे टी -17 कहा जाता है। द्रविड़ ये देखकर रोमांचित थे क्योंकि 21 सफारी बिना टाइगर देखे और आधे घंटे में 22 वी सफारी में वो एक टाइगर देख चुके थे।”

टेलर ने आगे लिखा, "हमने अन्य वाहनों के साथ आगे चलना शुरू किया। बाघ 100 मीटर दूर एक चट्टान पर था। हम जंगल में एक बाघ को देखने के लिए व्याकुल थे, लेकिन दूसरे वाहनों में सवार लोगों ने तुरंत राहुल पर कैमरे तान दिए। वो उसे देखने के लिए उतने ही उत्साहित थे जितना हम बाघ को देखने के लिए। शायद इससे भी ज्यादा। दुनिया भर में लगभग 4000 बाघ हैं, लेकिन राहुल द्रविड़ केवल एक है।”

आपको बता दें कि राहुल द्रविड़ और रॉस टेलर ने 2008 से 2011 के बीच आईपीएल के चार सीज़न में एक साथ खेला। दोनों 2008 से 2010 तक रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का हिस्सा थे, इसके अलावा ये दोनों खिलाड़ी राजस्थान रॉयल्स के लिए भी खेल चुके हैं।


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now