X close
X close

पांच महंगे खिलाड़ी जिन्हें IPL 2021 से पहले टीमें बाहर का रास्ता दिखा सकती है

By Shubham Shah
Nov 12, 2020 • 17:41 PM

आईपीएल के 13 वें सीजन में कई टीम में ऐसे खिलाड़ी शामिल रहे जिन्हें टीम मालिकों की तरफ से भारी भरकम राशि मिली लेकिन वो हिसाब से प्रदर्शन नहीं कर पाए। कहीं ना कहीं उन खिलाड़ियों का नाम बड़ा था और ऐसे में उन्हें कम से कम टूर्नामेंट के आधे लीग मैचों में खेलाना टीम मैनेजमेंट की मजबूरी रही। अब आने वाले आईपीएल सीजन में हो सकता है की इनमें से कुछ खिलाड़ियों को ये टीमें रिलीज कर दे। 

ऐसे में आइये आज जानते है कुछ ऐसे महंगे खिलाड़ियों के नाम जो अगले सीजन में अपनी वर्तमान टीम के साथ खेलते हुए नजर ना पाएं। 

Also Read: टी-20 वर्ल्ड कप 2022 तक के लिए पाकिस्तान क्रिकेट टीम के बल्लेबाजी कोच बने यूनिस खान

स्टीव स्मिथ - राजस्थान रॉयल्स के कप्तान स्टीव स्मिथ का बल्ला इस पूरे सीजन में जमकर नहीं बोला। राजस्थान की टीम ने उन्हें इस सीजन के लिए 12.5 करोड़ रूपए दिए थे लेकिन स्मिथ का प्रदर्शन उस हिसाब से नहीं रहा। इस साल स्मिथ ने 14 मैच खेले जिसमें वो 25.91 की औसत से केवल 311 रन ही बना पाए। ये देखना दिलचस्प होगा कि अगले साल राजस्थान की टीम इन्हें रिटेन करती है या नहीं। 

ग्लेन मैक्सवेल - ऑस्ट्रेलिया के इस विस्फोटक ऑलराउंडर ने अपने नाम के अनुरूप प्रदर्शन नहीं किया है। आईपीएल में आने से पहले ग्लेन मैक्सवेल का बल्ला इंग्लैंड के खिलाफ जमकर बोला था लेकिन वो आईपीएल में बिल्कुल खामोश रहे। आईपीएल की 13 पारियों में केवल 108 रन ही बना पाए और गेंदबाजी में भी सिर्फ 4 विकेट निकालने में ही सफल रहे। पंजाब की टीम ने मैक्सवेल को 10.75 करोड़ में खरीदा था।

शिमरोन हेटमायर - वेस्टइंडीज के इस युवा विस्फोटक बल्लेबाज को दिल्ली कैपिटल्स ने इस आईपीएल में फिनिशर की भूमिका में टीम में शामिल किया था लेकिन 1-2 मैचों के अलावा वो सभी मैचों में फीके रहे। अगले साथ दिल्ली की टीम इनके नाम पर विचार करेगी और हो सकता है कि इस बल्लेबाज को टीम से बाहर का रास्ता देखना पड़े। हेटमायर ने इस साल दिल्ली के लिए 12 मैच खेले जिसमें वो केवल 185 रन ही बना पाए। दिल्ली की टीम ने हेटमायर को 7.75 करोड़ में खरीदा था लेकिन वो टीम को अपनी कीमत नहीं चूका सके। 

पैट कमिंस - पैट कमिंस इस बार आईपीएल के सबसे महंगे खिलाड़ी थी और कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम ने उन्हें 15.5 करोड़ में टीम में शामिल किया था। कमिंस ने आईपीएल में इस साल गेंदबाजी में कुछ खास कमाल नहीं किया और 14 मैचों में वो सिर्फ 12 विकेट चटकाने में ही सफल रहे। इसमें कोई संदेह नहीं है कि कमिंस को लेकर केकेआर मैनेजमेंट विचार करे और अगले साल उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दे। 

केदार जाधव - चेन्नई सुपर किंग्स के इस बल्लेबाज ने इस साल टीम के लिए बेहद ही खराब प्रदर्शन किया। जाधव इस आईपीएल सीजन में ना तो तेजी से रन बना पा रहे थे और नाहीं स्ट्राइक रोटेट कर पा रहे थे। जाधव को चेन्नई की टीम ने 7.8 करोड़ रूपए में खरीदा था लेकिन उनकी बल्लेबाजों को लेकर कई दिग्गजों ने उनके ऊपर सवाल उठाएं। उन्होंने इस सीजन में 8 मैच खेले है जिसमें उनके बल्ले से महज 62 रही ही निकले है। इसमें कोई दो राय नहीं है कि चेन्नई सुपर किंग्स की मैनेजमेंट अगले साल टीम से इनका पत्ता साफ कर देगी।