X close
X close
Indibet

भीड़ में भी अकेला महसूस करते थे विराट कोहली, सालों बाद बयां किया दर्द

एक एथलीट की जिंदगी में मेंटल हेल्थ कितनी जरूरी होती है, ये किसी से भी छिपा नहीं है।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav August 18, 2022 • 12:30 PM

मेंटल हेल्थ हमेशा से ही एक एथलीट के जीवन का महत्वपूर्ण पहलू रहा है। पहले लोग इसके बारे में कम ही बोलते थे लेकिन अब ये एक ऐसा टॉपिक है जिसके बारे में बात करने से कोई भी हिचकिचाता नहीं है। हाल ही में विराट कोहली ने भी मेंटल हेल्थ पर ध्यान देने के महत्व के बारे में बात की और अपना दर्द भी बयां किया।

पूर्व भारतीय कप्तान इस समय अपने करियर के सबसे बुरे दौर से गुजर रहे हैं और लगभग पिछले तीन साल से उनके बल्ले से शतक नहीं निकला है जिसके कारण उन्हें आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है। विराट आगामी एशिया कप 2022 के लिए तैयार हैं और दुनियाभर के क्रिकेट फैंस उम्मीद कर रहे हैं कि वो इस टूर्नामेंट से फॉर्म में वापसी करेंगे। एशिया कप जो 27 अगस्त को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में शुरू होगा।

Trending


इंडियन एक्सप्रेस के साथ बात करते हुए, कोहली ने कहा, “एक एथलीट के लिए, खेल एक खिलाड़ी के रूप में आप में से सर्वश्रेष्ठ ला सकता है, लेकिन साथ ही आप जिस दबाव में लगातार रहते हैं, वो आपके मानसिक स्वास्थ्य को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है। ये निश्चित रूप से एक गंभीर मुद्दा है और जितना हम हर समय मजबूत रहने की कोशिश करते हैं, ये आपको कमज़ोर कर सकता है। एथलीटों के लिए मेरा सुझाव ये होगा कि हां, शारीरिक फिटनेस और रिकवरी पर ध्यान एक अच्छा एथलीट बनने की कुंजी है, लेकिन साथ ही, खुद के साथ भी बात करना महत्वपूर्ण है।"

आगे बोलते हुए विराट ने कहा, "मैंने व्यक्तिगत रूप से ऐसे समय का अनुभव किया है जब मुझे समर्थन और प्यार करने वाले लोगों से भरे कमरे में भी, मैं अकेला महसूस करता था और मुझे यकीन है कि ये एक ऐसी भावना है जिससे बहुत से लोग खुद को जोड़ सकते हैं। इसलिए अपने लिए समय निकालें और खुद को बेहतर तरीके से जानें। यदि आप खुद के साथ संबंध को खो देते हैं, तो अन्य चीजों को आपके आस-पास उखड़ने में ज्यादा समय नहीं लगेगा। आपको ये सीखने की ज़रूरत है कि अपने समय को कैसे विभाजित किया जाए ताकि संतुलन बना रहे।"


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now