नकल बॉल के महारथी बने भुवनेश्वर कुमार, जानिए किसने सबसे पहले फेंकी थी ये जादुई गेंद
X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

'नकल बॉल' के महारथी बने भुवनेश्वर कुमार, जानिए किसने सबसे पहले फेंकी थी ये जादुई गेंद और इसका राज

by Saurabh Sharma Feb 19, 2018 • 02:39 AM

19 फरवरी, नई दिल्ली (CRICKETNMORE)। भुवनेश्वर कुमार ने (5/24) की बेहतरीन गेंदबाजी के दम पर टीम इंडिया ने पहले टी-20 मैच में साउथ अफ्रीका को 28 रनों से हरा दिया। भुवी ने जो 5 विकेट हासिल किए, उनमें से तीन खिलाड़ियों को नकल बॉल का इस्तेमाल कर आउट किया, जिसमें कप्तान जे पी ड्यूमिनी, जॉन जॉन स्मट्स, और क्रिस मॉरिस का नाम शामिल है। भुवनेश्वर पिछले एक साल से ज्यादा समय से नकल बॉल का खूब इस्तेमाल कर रहे हैं। आईपीएल 2017 में भी उन्होंने इस गेंद का खूब फायदा उठाया था। 

टी20 क्रिकेट में गेंदबाजों की जमकर पिटाई होती है। ऐसे में नकल बॉल इस फॉर्मेट में गेंदबाजों का सबसे असरदार हथियार साबित होती है। आइए आपको बताते हैं क्या होती है नकल बॉल और इसका इतिहास। 

क्या है 'नकल बॉल'

नकल बॉल अमेरिका में खेले जाने वाले खेल बेसबॉल की देन है। इसका इस्तेमाल गेंद की पूरी स्पिन खत्म करने के लिए किया जाता है। एक दशक पहले इसका इस्तेमाल क्रिकेट में शुरु हुआ। नकल बॉल की खास बात ये है कि ये गेंद हवा में घूमती हुई नजर नहीं आएगी, बल्कि किसी एक दिशा में बिना हरकत के बिलकुल सीधी जाती नजर आएगी। बल्लेबाज इस गेंद को खेलने में ज्यादा चकमा खा जाता है। 

कैसे फेंकी जाती है नकल बॉल

आमतौर पर गेंदबाज जब गेंद को पहली उंगली और मिडिल फिंगर से पूरी ग्रिप बनाकर पकड़ता है। लेकिन नकल बॉल में गेंदबाज ये दोनों उंगलियां मुड़ी रहती है और गेंदबाज नाखूनों से गेंद को पकड़ता है। इस गेंद को करने के दौरान एक्शन और हाथ की स्पीड में कोई बदलाव नहीं होता और लकिन जब गेंद हाथ से छूटती है तो उसमें रफ्तार नहीं आती। इससे ज्यादातर बल्लेबाज हमेशा चकमा खा जाते हैं।

इस गेंदबाज ने सबसे पहले डाली थी नकल बॉल

क्रिकेट में नकल बॉल के इस्तेमाल की शुरुआत साउथ अफ्रीका के तेज गेंदबाज चार्ल्स लैंगवेल्ट ने की थी। लेकिन इसका सही फायदा टीम इंडिया के दिग्गज गेंदबाज जहीर खान ने उठाया। जहीर ने लैंगवेल्ट की गेंदबाजी के वीडियो देखकर नकल बॉल की प्रैक्टिस की। सबसे पहले उन्होंने इस गेंद का इस्तेमाल 2010 टी20 वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज डेविड वॉर्नर के खिलाफ किया लेकिन पहली ही गेंद पर उन्हें छक्का पड़ गया। 

इसके बाद जहीर ने 6 महीने से ज्यादा समय तक इस गेंद की प्रैक्टिस की और 2011 वर्ल्ड कप में इस्तेमाल किया। पहले उन्होंने वेस्टइंडीज के बल्लेबाज डेवोन स्मिथ को इस गेंद से अपना शिकार बनाया है। इसके बाद क्वार्टर फाइनल मुकाबले में नकल बॉल डालकर खतरनाक बल्लेबाज माइकल हसी का विकेट चटकाया था।  

(सौरभ शर्मा/CRICKETNMORE)