X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

रणजी ट्रॉफी 2017 में हिमाचल प्रदेश और पंजाब की टीम का औसत परफॉर्मेंस, मैच हुए ड्रा

by Vishal Bhagat Oct 09, 2017 • 20:00 PM

नई दिल्ली, 9 अक्टूबर | हिमाचल प्रदेश और पंजाब के बीच खेला गया रणजी ट्रॉफी के ग्रुप-डी का मैच बेनतीजा रहा। हिमाचल प्रदेश ने मैच के चौथे और आखिरी दिन छह विकेट के नुकसान पर 145 रन बना लिए थे। 

मनोज तिवारी की वाइफ है काफी खूबसूरत, जरूर देखें

हिमाचल प्रदेश ने प्रशांत चोपड़ा के तिहरे शतक के दम पर पहली पारी आठ विकेट के नुकसान पर 729 रनों पर घोषित कर दी थी। पंजाब ने अभिषेक गुप्ता (202) के शानदार दोहरे शतक के दम पर इस स्कोर का अच्छा सामना किया और अपनी पहली पारी में 601 रन बनाए। 

पंजाब ने तीसरे दिन का अंत छह विकेट के नुकसान पर 484 रन के साथ किया था। इसी स्कोर के साथ आखिरी दिन की शुरुआत करने वाली पंजाब को अभिषेक ने आगे बढ़ाया।  उन्हें हालांकि तीसरे दिन 84 रनों पर नाबाद जाने वाले अभिषेक शर्मा का ज्यादा साथ नहीं मिला और वह शतक से छह रन दूर पहले ही पवेलियन लौट गए। हालांकि संदीप शर्मा (17) ने अभिषेक का अच्छा साथ दिया और विकेट पर खड़े रहे। 

मनोज तिवारी की वाइफ है काफी खूबसूरत, जरूर देखें

अभिषेक 590 के कुल स्कोर पर आउट हुए। बरिंदर सरन के रूप में पंजाब का आखिरी विकेट गिरा।  पंजाब के पास 128 रन की बढ़त थी। यहां से इस मैच का नतीजा ड्रॉ ही लग रहा था। हुआ भी यही। अपनी दूसरी पारी खेलने उतरी हिमाचल ने दिन का खेल खत्म होने तक छह विकेट खो दिए। पंजाब ने 40 रनों पर ही उसके चार विकेट गिरा दिए थे, लेकिन पारस डोगरा (नाबाद 45) ने एक छोर संभाले रखा। 

मनोज तिवारी की वाइफ है काफी खूबसूरत, जरूर देखें

वहीं राष्ट्रीय राजधानी के फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में ग्रुप-ए में खेला गया दिल्ली और असम का मैच भी ड्रॉ पर खत्म हुआ। 

असम को पहली पारी में 258 रनों पर समेटने के बाद दिल्ली ने गौतम गंभीर (137) और नीतिश राणा (110) की शतकीय पारियों की बदौलत 435 रन बनाते हुए असम पर 177 रनों की बढ़त ली थी। असम ने दूसरी पारी में शुभशंकर रॉय के 87 और तरजिंदर सिंह के 63 रनों की बदौलत 255 रन बनाते हुए मेजबानों के सामने अंतिम दिन आखिरी सत्र में 79 रनों का लक्ष्य रखा। दिल्ली दिन का खेल खत्म होने तक दो विकेट खोकर 49 रन ही बना पाई। 

तीसरे दिन के अपने स्कोर तीन विकेट के नुकसान पर 60 रनों से आगे खेलने उतरी असम ने दिन का पहला विकेट तरजिंदर के रूप में खोया वह 100 के कुल स्कोर पर चौथे विकेट के रूप में आउट हुए। रॉय ने वासिकुर रहमान (63) के साथ मिलकर टीम का स्कोर 161 रनों तक पहुंचाया। इसी स्कोर पर रॉय आउट हो गए। असम की टीम दिन के आखिरी सत्र में 255 रनों पर ढेर हो गई। दिन का खेल खत्म होने तक दिल्ली लक्ष्य से 30 रन पीछे रह गई।  राष्ट्रीय राजधानी के पालम मैदान पर खेला गया ग्रुप-डी का बंगाल और सर्विसेस का मैच भी ड्रॉ पर समाप्त हुआ। 

मनोज तिवारी की वाइफ है काफी खूबसूरत, जरूर देखें

बंगाल ने सुदीप चटर्जी (115) के शतक के दम पर पहली पारी नौ विकेट के नुकसान पर 552 रनों पर घोषित कर दी थी और आमिर गानी के पांच विकेट की बदौलत सर्विसेस को पहली पारी में 359 रनों पर ढेर कर दिया था। 

बंगाल ने दूसरी पारी पांच विकेट के नुकसान पर 161 रनों पर घोषित करते हुए सर्विसेस के सामने 355 रनों का लक्ष्य रखा। बंगाल ने सर्विसेस के सात विकेट लेकर उसे परेशान किया लेकिन वह जीत दर्ज नहीं कर पाई। 

अपने तीसरे दिन के स्कोर 77 रनों पर बिना कोई विकेट से आगे खेलने उतरी बंगाल की कोशिश कम समय में ज्यादा से ज्यादा रन बनाने की थी और इसी कारण उसके बल्लेबाज आक्रामक खेल खेल रहे थे। 

कम समय में 300 से ज्यादा लक्ष्य का पीछा करने उतरी सर्विसेस लगातार विकेट खोती रही। हालांकि नवनीत सिंह (49) और विकास हाथवाला (64) ने उसे हार से बचा लिया और मैच ड्रॉ करा ले गए।