X close
X close

रणजी ट्रॉफी: पंजाब ने गोवा, कर्नाटक ने हैदराबाद को हराया, मुंबई-तमिलनाडु का मुकाबला ड्रॉ पर खत्म

by Saurabh Sharma Oct 27, 2017 • 19:08 PM

नई दिल्ली, 27 अक्टूबर (CRICKETNMORE)| गोवा के दर्शन मिसाल (64) और ऋतुराज सिंह (51) के अर्धशतकों ने पंजाब की जीत को कुछ देर के लिए जरूर टाल दिया था, लेकिन विनय चौधरी ने ऋतुराज के रूप में गोवा का अंतिम विकेट गिराते हुए रणजी ट्रॉफी के ग्रुप-डी के मैच में अपनी टीम को इस सीजन में पहली जीत दिलाई। पंजाब ने गोवा को दूसरी पारी में 258 रनों पर ढेर करते हुए पोरवोरिम में खेले गए मैच में पारी और 133 रनों से शानदार जीत दर्ज की।

पंजाब ने जीवनजोत के 238 और फिर अनमोल प्रीत सिंह के 113 तथा गुरकीरत सिंह के 114 रनों के दम पर अपनी पहली पारी में 635 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था। इसके बाद उसके गेंदबाजों ने गोवा को पहली पारी में 246 रनों पर समेटते हुए फॉलोऑन दिया था। 

गोवा ने चौथे और आखिरी दिन शुक्रवार की शुरुआत दो विकेट के नुकसान पर 67 रनों से की। दिन का पहला विकेट सगुम कामत (34) के रूप में खोने वाली गोवा संभल नहीं पाई और एक छोर से लगातार विकेट खोती रही। हालांकि मिसाल एक छोर पर खड़े थे। 166 रनों पर नौ विकेट गिर जाने के बाद ऋतुराज ने उनके साथ 10वें विकेट के लिए 90 रन जोड़ते हुए मुकाबला ड्रॉ कराने का भरपूर प्रयास किया, लेकिन विनय ने उन्हें जीवनजोत के हाथों कैच करा पंजाब को जीत दिलाई।

PHOTOS:भारतीय क्रिकेटर दिनेश कार्तिक की वाइफ है बेहद खूबसूरत, जरूर देखें 

मिसाल 111 गेंदों की पारी में आठ चौके और एक छक्का लगाते हुए नाबाद लौटे।

पंजाब के लिए विनय चौधरी और रघु शर्मा ने तीन-तीन विकेट लिए। 

उधर, ग्रुप-ए के मैच में कर्नाटक ने हैदराबाद को 59 रनों से हरा दिया है। कर्नाटक ने हैदराबाद के सामने 380 रनों का लक्ष्य रखा था लेकिन हैदराबाद 332 रन ही बना सकी। 

हैदराबाद ने दिन की शुरुआत तीसरे दिन के स्कोर दो विकेट के नुकसान पर 92 रनों से की। 11 रन बाद ही तन्मय अग्रवाल (44) पवेलियन लौट गए। कुछ देर बाद कप्तान अंबाती रायडू (31) भी स्टुअर्ट बिन्नी का शिकार हो गए।

यहां से बवांका संदीप (80) और आशीष रेड्डी (57) ने टीम को संभालने कोशिश की लेकिन जैसे ही यह दोनों आउट हुए हैदराबाद की पारी ढह गई। 

कर्नाटक के लिए श्रेयस गोपाल ने चार विकेट लिए। कृषप्पा गौतम को तीन सफलताएं मिली। कर्नाटक ने पहली पारी में सिर्फ 183 रन बनाए थे लेकिन हैदराबाद को 136 रनों पर ही ढेर करते हुए मामूली बढ़त ले ली थी। उसके बाद दूसरी पारी में 332 रन बनाते हुए हैदराबाद को चुनौतीपूर्ण लक्ष्य दिया था।

ग्रुप-सी में तमिलनाडु और मुंबई के मैच का परिणाम नहीं निकल सका। आखिरी दिन मुंबई ने अपनी दूसरी पारी पांच विकेट के नुकसान पर 371 रनों पर घोषित की और इसी के साथ मैच ड्रॉ घोषित कर दिया गया।

पहली पारी में 450 रनों का विशाल स्कोर खड़ा करने वाली तमिलनाडु को दूसरी पारी खेलने का मौका नहीं मिला। मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में 374 रन बनाए थे।

मुंबई ने दिन की शुरुआत एक विकेट के नुकसान पर 85 रनों के साथ की। हाल ही में भारत की टी-20 टीम में टीम जगह बनाने वाले श्रेयस अय्यर ने 124 गेंदों में 11 चौकों की मदद से 138 रनों की पारी खेली। उन्होंने अखिल हेरवाडकर के साथ दूसरे विकेट के लिए 187 रनों की साझेदारी की। अखिल ने 244 गेंदों का सामना करते हुए 132 रन बनाए। उनकी पारी में 14 चौके और तीन छक्के शामिल हैं। 

उनके अलावा सूर्यकुमार यादव ने 32 और सिद्देश लाड ने 40 रन बनाए। कप्तान आदित्य तारे 20 रनों पर नाबाद लौटे।