X close
X close

T20 World Cup: 3 कप्तान जो बन गए अपनी टीम पर बोझ, हार के रहे कारण

टी-20 वर्ल्ड कप 2022 के सेमीफाइनल में भारत, पाकिस्तान, न्यूजीलैंड और इंग्लैंड की टीम ने जगह बनाई है।

Nishant Rawat
By Nishant Rawat November 13, 2022 • 19:02 PM

टी-20 वर्ल्ड कप 2022 ऑस्ट्रेलिया में खेला जा रहा है जहां गेंदबाज़ों को कंडिशंस और पिच से काफी मदद मिली है। इसी बीच कई स्टार खिलाड़ी ऐसे भी हैं जो अपने नाम के अनुसार काम करके नहीं दिखा सके। आज इस आर्टिकल के जरिए हम आपको बताएंगे उन 3 कप्तानों के नाम जिनके लिए टी-20 वर्ल्ड कप 2022 बेहद ही बुरा रहा और इस दौरान वह खराब फॉर्म के कारण अपनी ही टीम के लिए बड़ी मुसीबत बन गए।

बाबर आज़म (Babar Azam)

Trending


पाकिस्तान के कप्तान बाबर आज़म बेहद ही खराब फॉर्म का सामना कर रहे हैं। टी-20 वर्ल्ड कप 2022 में उनकी फॉर्म टीम के लिए बड़ी परेशानी साबित हुई है। बाबर ने टूर्नामेंट में 7 मुकाबले खेलकर सिर्फ 124 रन जोड़े हैं। बाबर की औसत 17.71 और स्ट्राइक रेट 93.23 का रहा है।

बीते समय में पाकिस्तान के दिग्गजों और फैंस ने भी कप्तान बाबर को खूब लताड़ा है। वज़ह उनके आंकड़े हैं।

निकोलस पूरन (Nicholas Pooran)

वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के कप्तान निकोलस पूरन के लिए टी-20 वर्ल्ड कप 2022 बतौर कप्तान और बल्लेबाज़ बेहद ही निराशाजनक रहा। कैरेबियाई टीम टूर्नामेंट में सुपर-12 तक का सफर भी तय नहीं कर सकी। निकोलस ने तीन मैचों में 8.33 की औसत से सिर्फ 25 रन बनाए। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 86.20 का रहा।

कैरेबियाई टीम के खराब प्रदर्शन का बड़ा कारण कप्तान निकोलस पूरन भी हैं। उनके आंकड़े इसकी गंवाही देते हैं।

टेम्बा बावुमा (Temba Bavuma)

सितारों से सज़ी साउथ अफ्रीका की टीम जो टूर्नामेंट से पहले वर्ल्ड कप जीतने की बड़ी दावेदार मानी जा रही थी वह सेमीफाइनल तक में भी जगह नहीं बना सकी है। प्रोटियाज के खराब प्रदर्शन का बड़ा कारण कप्तान टेम्बा बावुमा हैं।

Also Read: Today Live Match Scorecard

टेम्बा बावुमा कप्तानी के साथ-साथ सलामी बल्लेबाज़ी करते हैं, लेकिन इस टूर्नामेंट में उनके बैट से सुपर-12 के 5 मुकाबलों में महज़ 70 रन निकले। बावुमा ने 112.90 की स्ट्राइक रेट से सिर्फ 70 रन बनाए, जिसके दौरान उनका सर्वाधिक स्कोर 36 रनों का रहा। बावुमा के कारण टीम के बाकी बल्लेबाज़ों पर दबाव रहा।