X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

ENG v AUS: जोस बटलर के धमाकेदार अर्धशतक की बदौलत इंग्लैंड ने दूसरे टी-20 में ऑस्ट्रेलिया को 6 विकेट से रौंदा

By Saurabh Sharma
Sep 07, 2020 • 08:25 AM

मैन ऑफ द मैच जोस बटलर की बेहतरीन अर्धशतकीय पारी के दम पर इंग्लैंड ने रविवार को द एजेस बाउल मैदान पर खेले गए दूसरे टी-20 मैच में ऑस्ट्रेलिया को छह विकेट से हरा दिया। इसी के साथ इंग्लैंड ने तीन मैचों की टी-20 सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त ले ली है।

ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए किसी तरह 20 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 157 रनों का स्कोर खड़ा किया था। आखिरी ओवर में 18 रन जुटाने के बाद ऑस्ट्रेलिया किसी तरह इस सम्मानजनक स्कोर तक पहुंची थी। मेजबान टीम ने 18.5 ओवरों में चार विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर सीरीज अपने नाम की।

Also Read: IPL 2020: दिल्ली कैपिटल्स को बड़ा झटका, टीम का अहम सदस्य हुआ कोरोना पॉजिटिव

सलामी बल्लेबाज के तौर पर उतरे बटलर ने शुरू से लेकर अंत तक एक छोर संभाले रखा और 54 गेंदों पर नाबाद 77 रन बनाए। उनके साथी जॉनी बेयरस्टो हालांकि 19 के कुल स्कोर पर ही मिशेल स्टार्क की गेंद पर हिट विकेट हो गए थे। जॉनी ने सिर्फ नौ रन बनाए।

इसके बाद डेविड मलान और बटलर ने टीम के जीत के अभियान का मोर्चा संभाला और दूसरे विकेट के लिए 87 रन जोड़ इंग्लैंड की जीत की उम्मीदों को और पुख्ता कर दिया।

इसी बीच 106 के कुल स्कोर पर एश्टन एगर की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के प्रयास में मलान, मार्कस स्टोइनिस के हाथों लपके गए। एश्टन ने ही टॉम बेंटन (2) को पवेलियन भेजा।

वहीं लेग स्पिनर एडम जाम्पा ने कप्तान इयोन मोर्गन (7) को आउट कर इंग्लैंड को परेशान करनी की कोशिश की लेकिन बटलर एक छोर पर खड़े हुए थे और उनका साथ देने आए मोइन अली ने 19वें ओवर में जाम्पा पर एक चौका और एक छक्का जड़ सारी परेशानी हटा दी।

फिर बटलर ने जाम्पा के इसी ओवर की पांचवीं गेंद पर छक्का मार टीम को जीत दिलाई।

बटलर की नाबाद पारी में आठ चौके और दो छक्के शामिल रहे। मोइन ने छह गेंदों पर एक चौका और एक छक्के की मदद से नाबाद 13 रन बनाए।

इससे पहले, टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलिया के विकेटों का पतन पहले ओवर से ही शुरू हो गया।

आर्चर ने पहले ओवर की तीसरी गेंद पर डेविड वार्नर को बिना खाता खोले पवेलियन भेज दिया। अगले ओवर में एलेक्स कैरी (2) को मार्क वुड ने विकेट के पीछे जोस बटलर के हाथों कैच करा टीम को दूसरी सफलता दिलाई।

ऑस्ट्रेलिया को स्टीव स्मिथ से उम्मीदें थीं। उन्होंने एक चौका और एक छक्का भी लगाया लेकिन एक जोखिम भरा रन लेने के प्रयास में इयोन मोर्गन की बेहतरीन फिल्डिंग के कारण रन आउट हो गए।

इस बीच कप्तान एरॉन फिंच और मार्कस स्टोइनिस ने पारी को संभालने की कोशिश की। यह साझेदारी जब इंग्लैंड के लिए मुसीबत बनती दिख रही थी तभी क्रिस जोर्डन ने फिंच को बोल्ड कर दिया। कप्तान ने 33 गेंदों पर चार चौके और दो छक्कों की मदद से 40 रन बनाए। उन्होंने स्टोइनिस के साथ 49 रनों की साझेदारी की।

स्टोइनिस भी 89 के कुल स्कोर पर आदिल राशिद की बेहतरीन लेग स्पिन में फंसकर स्लिप पर मलान के हाथों लपके गए। उन्होंने 26 गेंदों पर दो चौके और इतने ही छक्कों की मदद से 35 रन बनाए।

ग्लैन मैक्सवेल (26) और एश्टन एगर (23) ने किसी तरह टीम के स्कोरबोर्ड को चालू रखा लेकिन तेजी से रन नहीं ले पाए।

अखिरी ओवर में कमिंस ने एक चौके और एक छक्का लगा टीम को सम्मानजनक स्कोर दिया। कमिंस सात गेंदों पर 13 रन बनाकर नाबाद रहे। उनके साथ मिशेल स्टार्क दो रन बनाकर नाबाद लौटे।

इंग्लैंड के लिए जोर्डन ने दो विकेट लिए। वुड, राशिद और आर्चर ने एक-एक सफलता हासिल की। 
 


क्रिकेट समाचार टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है। यहां क्लिक करके आप सब्सक्राइब कर सकते हैं।