X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

CWC19: श्रीलंका के सामने इंग्लैंड को हराने की होगी मुश्किल चुनौती, ऐसी हो सकती है प्लेइंग XI (प्रीव्यू)

by Vishal Bhagat Jun 20, 2019 • 17:06 PM

20 जून। पांच मैचों में चार अंक लेकर अंकतालिका में छठे स्थान पर बैठी हताश श्रीलंका को शुक्रवार को आईसीसी विश्व कप-2019 के अपने अगले मैच में मजबूत टीम और खिताब की होड़ में आगे बढ़ रही मेजबान इंग्लैंड का सामना करना है। दोनों टीमें हेडिंग्ले मैदान पर आमने-सामने होंगी। 

श्रीलंका की शुरुआत बेहद खराब रही थी, लेकिन उसे फायदा दो रद्द मैचों से मिला है जो बारिश की भेंट चढ़ गए थे। इन दोनों मैचों से उसे एक-एक अंक मिला अन्यथा श्रीलंका का जो प्रदर्शन है उसे देखकर उससे जीत की उम्मीद बमुश्किल ही की जा सकती है। 

अपने पिछले मैच में उसे आस्ट्रेलिया से 87 रनों से मात खाने वाली श्रीलंका को अगर इंग्लैंड को हराना है तो उसे कुछ हैरतअंगेज प्रदर्शन ही करना होगा क्योंकि इंग्लैंड की जो फॉर्म है उसे देखकर लगता है कि वह वह श्रीलंका की टीम से मात खा जाएगी। 

इंग्लैंड ने इस मैच से पहले अफगानिस्तान के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन कर विशाल स्कोर खड़ा किया था। अफगानिस्तान की गेंदबाजी श्रीलंका की गेंदबाजी से थोड़ी बेहतर है और उसके पास श्रीलंका से बेहतर स्पिनर हैं, लेकिन इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने स्पिन के खिलाफ अपनी कमजोरी को बैकफुट पर रखा और फ्रंटफुट पर आकर राशिद खान जैसे कंजूस गेंदबाजी की बख्खियां उधेड़ी थीं। 

उस मैच में इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने विश्व कप इतिहास का चौथा सबसे तेज शतक जमाया था। उनके अलावा जॉनी बेयरस्टो, जोए रूट, मोइन अली ने तूफानी बल्लेबाजी की थी। इन चारों से तो श्रीलंका को सर्तक रहना होगा साथ ही जोस बटलर और बेन स्टोक्स को भी उसे भूलना नहीं होगा। 

श्रीलंका के पास लसिथ मलिंगा जैसा विश्व स्तरीय गेंदबाज है लेकिन मलिंगा अपनी उस फॉर्म में नहीं है जिसके लिए वे मशहूर हैं। फिर भी श्रीलंका की उम्मीदें उन पर ही होंगी। उनके अलावा नुवान प्रदीप से भी टीम उम्मीद लगा सकती है।

अगर श्रीलंकाई बल्लेबाजी की बात की जाए तो कप्तान दिमुथ करुणारत्ने और कुशल परेरा ने जिस तरह से आस्ट्रेलिया के खिलाफ शुरुआत की थी उससे मौजूदा विजेता के माथे पर शिकन आ गई थी। 335 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए इन दोनों ने पहले विकेट के लिए 15.3 ओवरों में 115 रन जोड़े थे। 

इन दोनों से पहले की तरह अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद होगी, लेकिन लाहिरू थिरिमाने, कुशल मेंडिस, एंजेलो मैथ्यूज साथ नहीं देते हैं तो नतीजा सिपर ही होगा। 

श्रीलंका की टीम में प्रतिभा है लेकिन अनुभव नहीं, यहां इंग्लैंड उस पर हावी पड़ रही है और इसलिए जीत के दावेदार भी।

टीमें (सम्भावित) : 

श्रीलंका : दिमुथ करुणारत्ने (कप्तान), अविश्का फनाडरे, लाहिरू थिरिमाने, एंजेलो मैथ्यूज, धनंजय डी सिल्वा, इसुरु उदाना, मिलिंदा श्रीवर्दना, थिसारा परेरा, जीवन मेंडिस, कुशल परेरा (विकेटकीपर), कुशल मेंडिस, जैफ्री वैंडरसे, लसिथ मलिंगा, सुरंगा लकमल, नुवान प्रदीप। 

इंग्लैंड : इयोन मोर्गन (कप्तान), मोइन अली, जोफ्रा आर्चर, जॉनी बेयरस्टो (विकेटकीपर), जोस बटलर, टॉम कुरैन, लियाम डॉसन, लियाम प्लंकट, आदिल राशिद, जोए रूट, बेन स्टोक्स, जेम्स विंसे, क्रिस वोक्स, मार्क वुड।