X close
X close

माइकल एथरटन ने कहा, भारत-पाकिस्तान के खेलने से टेस्ट क्रिकेट को मिलेगा बढ़ावा

By Saurabh Sharma
Aug 17, 2020 • 14:09 PM

साउथैम्पटन, 17 अगस्त| इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल एथरटन का मानना है कि भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज होने की कम से कम संभावना है और उनके अनुसार यह 'बहुत शर्मनाक' है। 

भारत और पाकिस्तान की टीमें आईसीसी के सभी बहु राष्ट्र टूर्नामेंटों एक दूसरे के खिलाफ खेलते आ रही हैं, लेकिन 2012-13 के बाद से दोनों टीमें एक बार भी द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज नहीं खेली है। दोनों टीमों ने पिछली द्विपक्षीय टेस्ट सीरीज 2007-08 में खेला था, जब पाकिस्तान ने भारत का दौरा किया था।

Also Read: सुरेश रैना के संन्यास पर आया सौरव गांगुली का रिएक्शन, कहा सीमित ओवरों में भारत के अहम खिलाड़ी रहे

एथरटन ने स्काई स्पोटर्स क्रिकेट डॉक्यूमेंट्री में कहा, " मुझे लगता है कि भारत-पाकिस्तान के बीच आईसीसी टूनार्मेंटों के खेलने, यहां तक कि तटस्थ स्थान पर भी खेलने संभावना कम से कम हैं।"

उन्होंने कहा, " वे एक-दूसरे का साथ खेलने से बहुत दूर लगते हैं जोकि एक बहुत शर्म की बात है क्योंकि यह एक ऐसी चीज होगी जो टेस्ट क्रिकेट को बहुत बढ़ावा देगी।"

एशिया की दो दिग्गज टीमें पिछली बार 2019 विश्व कप में एक दूसरे से भिड़ी थी जब विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय टीम ने पाकिस्तान को हराया था।

एथरटन ने कहा, " भारत और पाकिस्तान के बीच का मुकाबला अविश्वसनीय होता है और हम पिछले साल विश्व कप में ओल्ड ट्रेफर्ड में यह देख चुके हैं। मुझे लगता है कि इस मैच के लिए 600,000 आवेदन मिले और 25000 टिकट बिके थे।"