X close
X close
Indibet

VIDEO : 'हार्दिक पांड्या ने 1 ओवर में कर दिया था करियर तबाह, ये क्रिकेटर दोबारा नहीं खेल पाया क्रिकेट

Shubham Sharma
By Shubham Sharma
August 14, 2021 • 00:47 AM View: 1324

टीम इंडिया के लिए क्रिकेट खेलना हर भारतीय खिलाड़ी का सपना होता है लेकिन सभी खिलाड़ियों का ये सपना पूरा नहीं हो पाता है और उन्हीं खिलाड़ियों में से एक का नाम है आकाश सूदन, जिनके लिए जीवन काफी मुश्किलों भरा रहा है। सूदन का कहना है कि सिर्फ "एक खराब ओवर" के कारण उनका पूरा करियर तबाह हो गया।

अपने स्कूल के दिनों से ही खेल में गहरी रुचि रखने वाले सूदन, सैकड़ों और हजारों बच्चों की तरह, एक दिन अपने देश का प्रतिनिधित्व करने का सपना देखते थे। पेशेवर सेटअप में अपना पहला कदम रखते हुए, उन्होंने दिल्ली में RPCA क्रिकेट अकादमी में अपना एडमिशन करा लिया।

Trending


अकादमी और क्लब स्तर के क्रिकेट में कुछ शानदार प्रदर्शन के बाद, उन्होंने दिल्ली के कप्तान गौतम गंभीर का ध्यान भी खींचा। सूदन ने 2017 डीडीसीए लीग में आठ मैचों में आठ अर्धशतक और 37 विकेट हासिल किए थे। इसके साथ ही अपने टी20 डेब्यू (2016 सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में गोवा के खिलाफ) में, उन्होंने ऐसा रिकॉर्ड बना दिया जो पहले कभी नहीं देखा गया था।

उन्होंने उस मैच में 18वें ओवर में गेंदबाज़ी करते हुए ना सिर्फ मेडन ओवर फेंका बल्कि दो विकेट भी चटकाए। ये एक रिकॉर्ड है जो किसी ने भी अपने डेब्यू में हासिल नहीं किया था। उन्होंने अपनी इस उपलब्धि पर कहा, "मेरा डबल-विकेट मेडन एक ऐसा रिकॉर्ड था जिसे टी20 डेब्यू पर किसी और ने हासिल नहीं किया था। मैंने उस मैच में 17वें ओवर तक गेंदबाजी नहीं की, क्योंकि यह टर्नर विकेट था लेकिन 18वें ओवर में गौतम भैया ने मुझे गेंद दी और फिर जो हुआ आप सबको पता है।"

हालांकि, सूदन का करियर एकदम से तब पलट गया जब उनका सामना बड़ौदा के खिलाफ खेलते हुए हार्दिक पांड्या से हुआ। पांड्या ने 18 गेंदों में 51 रनों की पारी खेलकर अपनी टीम को 153/6 तक पहुंचाया था। इस दौरान पांड्या ने सूदन के खिलाफ एक ओवर में पांच छक्के लगाए, जिसके चलते सूदन ने अपने चार ओवरों में दो विकेट लेते हुए 47 रन लुटवा दिए। उनके इस प्रदर्शन के बावजूद दिल्ली मैच जीतने में सफल रही लेकिन उनके करियर का इस स्पेल के साथ ही अंत हो गया।


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now

Koo