X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

बिना आईपीएल के क्रिकेट कैलेंडर के बारे में सोचना मुश्किल - जोंटी रोड्स

By Sahir Usman Jul 09, 2020 • 16:17 PM

नई दिल्ली, 9 जुलाई - दक्षिण अफ्रीका के पूर्व खिलाड़ी और किंग्स इलेवन पंजाब के फील्डिंग कोच जोंटी रोड्स को उम्मीद है कि इस साल के अंत तक स्थिति बेहतर होगी और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का आयोजन हो सकेगा। उन्होंने कहा कि वह इस लीग से इस कदर भावनात्मक रूप से जुड़ चुके हैं कि उनके लिए बिना आईपीएल के साल बीत जाने के बारे में सोचना काफी मुश्किल है।

जोंटी ने कहा कि आईपीएल-2008 से ही क्रिकेट कैंलेंडर का अहम हिस्सा हैं और भारत के लिए नहीं बल्कि पूरे क्रिकेट जगत के लिए यह काफी अहम टूर्नामेंट है क्योंकि इसमें विश्व के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर खेलते हैं।

जोंटी ने आईएएनएस से विशेष बातचीत में कहा, "बिना आईपीएल के साल गुजर जाने के बारे में सोचना काफी मुश्किल है। यह 2008 से ही क्रिकेट कैलेंडर का काफी अहम हिस्सा है। शुरू से ही बीसीसीआई की कोशिश रहती है कि हर साल आईपीएल हो। यह आर्थिक रूप से भी काफी अहम है और खिलाड़ियों के भविष्य को लेकर भी। इसमें दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी खेलते हैं। इसलिए इसके बिना किसी साल के गुजर जाने की कल्पना करना मुश्किल है। मेरे लिए तो इसके बिना क्रिकेट कैलेंडर के समाप्त होने की उम्मीद भी बेमानी है।"

मुंबई इंडियंस के फील्डिंग कोच रह चुके जोंटी ने कहा, "उम्मीद है कि साल के अंत तक स्थिति बेहतर हो और हम आईपीएल देख सकें। हम जानते हैं कि यह खाली स्टेडियमों में खेला जाएगा। इस बार यह टीवी के लिए होगा। टीवी के प्रोड्यूसर कैसे बिना दर्शकों के माहौल बनाते हैं यह देखना दिलचल्प होगा।"

आईपीएल की शुरुआत 29 मार्च से होनी थी लेकिन कोविड-19 के कारण इसे अनिश्चितकाल तक के लिए टाल दिया गया है। अब बीसीसीआई इसके लिए सितंबर-अक्टूबर की समय सीमा देख रही है लेकिन उस समय टी-20 विश्व कप भी होना है। हालांकि ऐसी अटकलें हैं कि इस महामारी के कारण टी-20 विश्व कप को भी स्थगित किया जा सकता है।

टी-20 विश्व कप के आयोजन पर जोंटी ने कहा कि मौजूदा स्थिति को देखते हुए यह काफी मुश्किल लग रहा है। टी-20 विश्व कप इसी साल 18 अक्टूबर से 15 नवंबर के बीच आस्ट्रेलिया में होना है।

उन्होंने कहा, "आस्ट्रेलिया में शायद खेल होने लगे हैं, लेकिन मुझे नहीं पता कि वह खाली स्टेडियम में हो रहे हैं या नहीं। लेकिन अगर आप दूसरे देश से आते हो तो स्थिति अलग है। विश्व कप में बाहर से टीमें आएंगी और प्रशंसक भी आएंगे।"

फील्डिंग को नए आयाम देने वाले जोंटी ने कहा, "आईपीएल के साथ यह होगा कि खिलाड़ी बाहर से आएंगे, आप उन्हें क्वारंटीन करेंगे। टीमों का टेस्ट कराएंगे, लेकिन आईपीएल में प्रशंसक भारत के ही होंगे जबकि विश्व कप के साथ यह है कि दूसरी टीमों के प्रशंसक भी मैच देखने आएंगे। इसलिए मुझे लगता है कि ऐसी स्थिति में काफी मुश्किल होगी। इस महामारी के कारण ओलम्पिक भी स्थगित किया गया है। मौजूदा स्थिति को देखते हुए मुझे लगता है कि टी-20 विश्व कप कप पर काले बादल हैं।"

कोविड-19 के कारण दर्शकों के स्टेडियम में आने पर प्रतिबंध है। इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच बुधवार से शुरू हुआ टेस्ट मैच भी खाली स्टेडियम में खेला जा रहा है। जोंटी ने कहा कि खाली स्टेडियम में खेलने से टेस्ट मैच पर ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ेगा लेकिन टी-20 में दर्शकों की कमी खलेगी क्योंकि टी-20 में दर्शक माहौल बनाते हैं जो खिलाड़ियों को प्रेरित करता है।

उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि टी-20 मैच में प्रशंसक, माहौल, का खिलाड़ी पर असर होता है। आप प्रशंसकों के समर्थन से प्रेरित होकर कई बार मैच का रूख बदल देते हैं। हालांकि प्रथम श्रेणी क्रिकेट खाली स्टेडियम में ही होती है। रणजी ट्रॉफी में देखेंगे तो वहां प्रशंसक नहीं होते हैं। लेकिन टेस्ट क्रिकेट की बात है तो मुझे लगता है कि जो प्रतिस्पर्धा है वो नहीं जाएगी, चाहे कोई स्टेडियम में हो या नहीं। क्योंकि खिलाड़ी के तौर पर आप हर तरह की स्थिति से तालमेल बिठाना सीख लेते है। खिलाड़ी पूरी प्रतिस्पर्धा से खेलेंगे।"

दक्षिण अफ्रीका के लिए 52 टेस्ट और 245 वनडे खेलने वाले इस खिलाड़ीने कहा, "हां आपको टीम में कुछ खिलाड़ी चाहिए होंगे जो लगातार बोलते रहें, लेकिन मुझे नहीं लगता कि टेस्ट क्रिकेट पर ज्यादा असर पड़ेगा क्योंकि हर टेस्ट मैच में स्टेडियम भरा नहीं होता और खिलाड़ियों को कम दर्शकों के सामने टेस्ट मैच खेलने की आदत होती है।"

जोंटी ने हाल ही में गोनट्स नाम की एप के साथ करार किया है जो प्रशंसकों को अपने पसंदीदा स्टार के करीब लाने का और सीधे तौर पर उनसे रूबरू होने में मदद करती है।

इस करार पर जोंटी ने कहा, "गोनट्स जैसे प्लेटफॉर्म के साथ फायदा यह है कि आप अपने पसंदीदा स्टार्स से आसानी से जुड़ सकते हो। भारत में अगर देखा जाए तो ऐसा करना आसान नहीं हैं। बॉलीवुड और क्रिकेटर की भारत में काफी ज्यादा फैन फोलोइंग है। ऐसे में अपने पंसदीदा स्टार से मिलना, उन तक पहुंचना काफी मुश्किल होता है। इस लॉकडाउन के कारण भी अगले कुछ महीनों तक सैलेब्रिटी अपने प्रशंसकों से जुड़ नहीं पाएंगे। यहां गोनट्स काफी असरदार है, सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में। आप इसके माध्यम से अपने पसंदीदा स्टार से जुड़ सकते हैं। हर स्टार के अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स होते हैं, वहां अगर प्रशंसक उनको सीधे मैसेज भेजता है तो वह काफी ज्यादा फॉलोअर होने के कारण वह जवाब नहीं दे पाते। लेकिन गोनट्स के माध्य से प्रशंसक सीधे तौर पर अपने स्टार से जुड़ सकते हैं।"


आईएएनएस