X close
X close

IPL 2020: प्लेऑफ की ओर पंजाब का एक और मजबूत कदम, केकेआर को 8 विकेट से रौंदा

By Shubham Shah
Oct 27, 2020 • 00:18 AM

मनदीप सिंह, क्रिस गेल की अर्धशतकीय पारियों के बूते किंग्स इलेवन पंजाब ने सोमवार को शारजाह क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन के मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स को आठ विकेट से हरा दिया।


इस जीत ने पंजाब को प्लेऑफ की रेस में बनाए रखा ,लेकिन कोलकाता की राह मुश्किल कर दी है। यह पंजाब की लगातार पांचवीं जीत है। पंजाब ने कोलकाता को बल्लेबाजी के लिए बुलाया था। शुभमन गिल(57रन,45गेंद,3चौके,4छक्के)की मदद से कोलकाता ने 20 ओवरों में नौ विकेट खोकर 149 रनों का स्कोर खड़ा किया। 

Also Read: केकेआर के कप्तान इयोन मोर्गन ने बल्लेबाजों को ठहराया हार का जिम्मेदार, कही ये बात

इयोन मॉर्गन ने 25 गेंदों में 40 रन की महत्वपूर्ण पारी खेली। पंजाब ने इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए दो विकेट ही खोए और 19वें ओवर की पांचवीं गेंद पर लक्ष्य हासिल कर लिया। लोकेश राहुल के साथ इस मैच में भी मनदीप पारी की शुरुआत करने आए थे। इस जोड़ी ने टीम को धीमी शुरुआत दिलाई, लेकिन शुरुआत में विकेट नहीं गिरने दिया। 

वरुण चक्रवर्ती ने आठवें ओवर की आखिरी गेंद राहुल के पैड पर मारी और अंपायर ने उंगली उठा दी। राहुल ने 28 रन बनाए। गेल ने वरुण के अगले ओवर में दो शानदार छक्के दिए और इसी के साथ पंजाब का स्कोर 10 ओवरों में एक विकेट के नुकसान पर 67 रन हो गया।

गेल के साथ साथ मनदीप भी रंग में आ गए थे। मनदीप ने राहुल के जाने के बाद अपनी जिम्मेदारी को अच्छे से समझा और निभाया भी। 16वें ओवर की चौथी गेंद पर एक रन लेकर उन्होंने इस सीजन का अपना पहला अर्धशतक पूरा किया। गेल ने भी अपने पचास रन पूरे किए। जब टीम को जीत के लिए दो रनों की जरूरत थी तभी गेल लॉकी फग्र्यूसन की गेंद पर आउट हो गए। गेल ने 25 गेंदों का सामना कर 51 रन बनाए। उन्होंने पांच छक्के और दो चौके मारे।

मनदीप के साथ गेल ने 100 रनों की साझेदारी की। मनदीप 60 रनों पर नाबाद रहे। अपनी पारी में मनदीप ने 56 गेंदों का सामना कर आठ चौके और दो छक्के मारे। 

इससे पहले कोलकाता के बल्लेबाज इस मैच में निरंतर विकेट खोते रहे। पंजाब के गेंदबाजों के सामने टिक सके तो गिल और कप्तान मोर्गन। इन दोनों ने चौथे विकेट के लिए 81 रनों की साझेदारी निभाई। 10 रनों तक ही कोलकाता ने नीतीश राणा(0),राहुलत्रिपाठी(7) औरदिनेश कार्तिक(0)के विकेट खो दिए।

यहां टीम पर दबाव था जिसे गिल और मोर्गन ने हटा दिया। लेकिन जैसे ही यह साझेदारी रवि बिश्नोई ने तोड़ी कोलकाता फिर दबाव में आ गई। बिश्नोई ने मोर्गन को मुरुगन अश्विन के हाथों कैच कराया। इस समय कोलकाता का स्कोर 91 रन था। मोर्गन के जाने के बाद जो भी बल्लेबाज आया उसमें से सिर्फ फग्र्यूसन ही कुछ कमाल कर सके।

कमलेश नागरकोटी(6),पैट कमिंस(1) जल्दी आउट हो गए। गिल भी 19वें ओवर में पवेलियन लौट लिए। फग्र्यूसन हालांकि टिके रहे। वह 13 गेंदों पर 24 रन बनाकर नाबाद रहे। उन्होंने अपनी पारी में तीन चौके और एक छक्का मारा।