Advertisement
Advertisement

इंटरनेशनल नहीं अब विराट को खेलने होंगे डोमेस्टिक मैच, पाकिस्तानी कप्तान ने बताई वजह

मिस्बाह उल हक का मानना है कि विराट कोहली को इंटरनेशनल क्रिकेट में अच्छा करने के लिए एक बार फिर डोमेस्टिक क्रिकेट खेलना चाहिए। इससे वह आसानी से अपनी खोई हुई लय प्राप्त कर सकेंगे।

Nishant Rawat
By Nishant Rawat June 30, 2022 • 10:07 AM
Cricket Image for इंटरनेशनल नहीं अब विराट को खेलने होंगे डोमेस्टिक मैच, पाकिस्तानी कप्तान ने बताई वज
Cricket Image for इंटरनेशनल नहीं अब विराट को खेलने होंगे डोमेस्टिक मैच, पाकिस्तानी कप्तान ने बताई वज (Image Source: Google)
Advertisement

भारतीय टीम इंग्लैंड के दौरे पर है, जहां 1 जुलाई से रिशेड्यूल टेस्ट मैच खेला जाना है। इस मुकाबले में कप्तान रोहित शर्मा नज़र नहीं आएंगे क्योंकि वह कोविड-19 पॉजिटिव हो चुके हैं ऐसे में अब विराट कोहली पर एक बार फिर जिम्मेदारियां काफी बढ़ने वाली है। टीम इंडिया के लिए परेशानी वाली बात यह है कि विराट ने बीते समय में कुछ खास प्रदर्शन नहीं किया है। टीम इंडिया के स्टार बल्लेबाज़ को अपना आखिरी शतक लगाएं भी काफी लंबा समय हो चुका है। ऐसे में अब पाकिस्तान के पूर्व दिग्गज कप्तान मिस्बाह उल हक ने विराट को फॉर्म में लौटने का गुरु मंत्र दिया है।

मिस्बाह उल हक ने एक जाने माने पत्रकार से विराट कोहली के बारे में बातचीत करते हुए अपना उदाहरण दिया और कहा, 'मेरे साथ भी ऐसा हुआ है, तब मैंने क्लब क्रिकेट खेलना शुरू किया और वहां बड़े रन बनाए। बॉलिंग अटैक कैसा भी हो, लेकिन रन बनाने के बाद आपको कॉन्फिडेंस आता है। विराट को भी यही करना चाहिए, उसे डोमेस्टिक क्रिकेट खेलना होगा और वहां बड़े रन बनाकर कॉन्फिडेंस प्राप्त करना होगा।'

Trending


पूर्व पाकिस्तानी कप्तान ने आगे कहा, 'अगर विराट रन बनाते हैं तो उनका दिमाग उन्हें यह बताना शुरू कर देगा कि उन्होंने रन बनाए हैं। अगर वह लय प्राप्त कर लेंगे तो फिर सामने कोई भी बॉलिंग अटैक हो कुछ फर्क नहीं पड़ता। वह इंटरनेशनल क्रिकेट में भी रन बनाने शुरू कर देेंगे।' इसी बीच मिस्बाह उल हक ने यह भी साफ किया कि विराट ने खराब फॉर्म के दौरान लगातार ही क्रिकेट खेला जिस वज़ह से उन पर लगातार ही प्रेशर बढ़ता गया है।

बता दें कि बीते समय में भारतीय टीम के स्टार बल्लेबाज़ अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा जैसे नामी खिलाड़ियों ने भी खराब फॉर्म के कारण घरेलू क्रिकेट का रूख किया है। हाल ही में चेतेश्वर पुजारा तो इंग्लैंड में काउंटी क्रिकेट भी खेलते नज़र आए थे। ऐसे में अगर विराट को डोमेस्टिक क्रिकेट से फायदा मिलता है तो ऐसा करने में कोई बुराई नज़र नहीं आती।

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement
Advertisement