X close
X close

VIDEO : मोहम्मद हफीज़ का रोहित शर्मा पर हमला, कहा- 'वो कन्फयूज़ और घबराया हुआ है'

हांगकांग के खिलाफ शानदार जीत के बाद भारतीय टीम ने एशिया कप के सुपर-4 में एंट्री कर ली है लेकिन इसी बीच मोहम्मद हफीज ने रोहित शर्मा की कप्तानी पर सवाल उठाए हैं।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav September 01, 2022 • 21:09 PM

टीम इंडिया ने अब तक एशिया कप 2022 में अपने दोनों मैच जीते हैं। रोहित शर्मा की अगुवाई वाली टीम ने रविवार (28 अगस्त) को अपने अभियान की शुरुआत करते हुए पाकिस्तान को 5 विकट से हराया था। इसके बाद बुधवार (31 अगस्त) को दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए अपने दूसरे मैच में रोहित शर्मा की टीम ने हांगकांग को 40 रनों से हराया। इस जीत के बाद टीम इंडिया अफगानिस्तान के बाद सुपर 4 के लिए क्वालीफाई करने वाली दूसरी टीम बन गई।

भारतीय टीम ने अपने ग्रुप में टॉप किया है और इसका मतलब ये है कि 4 सितंबर को फिर से भारत और पाकिस्तान का मैच हो सकता है, हालांकि, इसके लिए जरूरी होगा कि पाकिस्तान कल यानि 2 सितंबर (शुक्रवार) को हांगकांग को हराए। अब तक भारत के लिहाज से खेले गए दो मुकाबलों की बात करें तो टीम इंडिया की एक चिंता उनके कप्तान रोहित शर्मा की फॉर्म है, जिन्होंने पिछले कुछ समय से बड़े रन नहीं बनाए हैं। हांगकांग के खिलाफ भी रोहित का फ्लॉप शो जारी रहा जिसके बाद पाकिस्तान के पूर्व कप्तान मोहम्मद हफीज ने रोहित को फटकार लगाई है।

Trending


पीटीवी स्पोर्ट्स पर हफीज ने कहा, "क्या आपने मैच के बाद रोहित शर्मा के एक्सप्रेशन देखे। उनकी टीम 40 रन से जीती है। जब वो टॉस के लिए आए तो रोहित मुझे कमजोर लग रहे थे। वो घबराए हुए और भ्रमित दिखे। वो शानदार खेलने वाले पुराने रोहित शर्मा की तरह नहीं दिख रहे हैं। वो अत्यधिक दबाव वाला कप्तान लगता है। वो अभी अपनी फॉर्म सहित कई समस्याओं का सामना कर रहा है और वो नीचे गिरता ही जा रहा है।"

आगे बोलते हुए हफीज़ ने कहा, "उन्होंने आईपीएल में स्कोर नहीं किया और वa उसी प्रवाह के साथ नहीं खेल रहे हैं जिसमें वो खेलते थे। आप क्रिकेट के एक नए ब्रांड, सकारात्मक क्रिकेट आदि के बारे में बात कर सकते हैं लेकिन ये उनकी शारीरिक भाषा में नहीं दिख रहा है।"

Also Read: Asia Cup 2022 Scorecard

हफीज़ के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर तो इस पाकिस्तानी पूर्व कप्तान को फटकार लग रही है लकिन अगर हफीज़ की बातों में ज़रा सी भी सच्चाई है तो ये भारतीय क्रिकेट के लिए अच्छी खबर नहीं है।