"
X close
X close

साउथ अफ्रीका क्रिकेट को एक औऱ बड़ा झटका, वनडे टीम की प्रायोजक से हटेगी मोमेंटम

By Saurabh Sharma
Sep 16, 2020 • 21:56 PM

क्रिकेट साउथ अफ्रीका (सीएसए) में जारी प्रशासकीय उठापटक का नतीजा यह हुआ है कि साउथ अफ्रीकी टीम की वनडे प्रायोजक मोमेंटम ने अप्रैल 2021 में टीम के साथ जारी अनुबंध के बाद करार को आगे नहीं बढ़ाने और टीम का साथ छोड़ने का फैसला किया है। क्रिकइंफो की रिपोर्ट के अनुसार, मोमेंटम ने टीम के साथ अपने प्रायोजक के लिए नया करार नहीं करने का निर्णय लिया है। मोंमेटम वनडे टीम के अलावा फ्रेंचाइजी वनडे कप, नेशनल कप चैंपियनशिप, अंडर-13, अंडर-15 और अंडर-17 के प्रायोजक से भी हट जाएगी। हालांकि वह 2023 तक महिला टीम की प्रायोजक बनी रहेगी।

वित्तीय सेवा प्रदाता कंपनी ने एक बयान में कहा कि सीएसए प्रशासन में मौजूदा समय में जो कुछ भी चल रहा है, वह उससे संतुष्ट नहीं हैं।

Also Read: ENG vs AUS: मिचेल स्टार्क ने घातक गेंदबाजी से मचाया धमाल, ऑस्ट्रेलिया के लिए 31 साल बाद किया ये कारनामा

गौरतलब है कि साउथ अफ्रीका में ओलंपिक से जुड़ी संस्था-साउथ अफ्रीकन स्पोर्ट्स कनफेडरेशन एंड ओलंपिक कमिटि (सैसकॉक) ने क्रिकेट साउथ अफ्रीका (सीएसए) के बोर्ड और सीनियर कार्यकारी को इस्तीफा देने को कहा है।

सीईओ कुग्रेंडी गोवेंडर, कंपनी के सचिव वेल्श ग्वाजा और कार्यकारी मुख्य वाणिज्य अधिकारी थामी मथेम्बु अब सीएसए में ज्यादा दिनों तक कामकाज नहीं देख पाएंगे।

सैसकॉक अब सीएसए में मामले की जांच के लिए एक टास्क टीम गठित करेगी। पैनल टास्क टीम के सदस्यों को अंतिम रूप देने के एक महीने के भीतर सैसकॉक और सीएसए की सदस्य परिषद के लिए सिफारिशें करेगा।

संस्था ने कहा कि सीएसए में कुप्रबंधन और कदाचर जारी है, जिसने क्रिकेट को अव्यवस्था में पहुंचा दिया है।

सीएसए ने पिछले महीने ही अपने पूर्व सीईओ थबांग मोरोए को उनके पद से बर्खास्त कर दिया था।

सैसकॉक के इस कदम से साउथ अफ्रीका क्रिकेट टीम की मान्यता पर खतरा मंडराने लगा है। ऐसे में आईसीसी से टीम की मान्यता खत्म हो सकती है और वह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से बाहर हो सकता है।


क्रिकेट समाचार टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है। यहां क्लिक करके आप सब्सक्राइब कर सकते हैं।