X close
X close

रणजी ट्रॉफी में दिल्ली की टीम का कमाल, महाराष्ट्र की हालत हुई पतली

by Vishal Bhagat Nov 18, 2017 • 21:33 PM

नई दिल्ली, 18 नवंबर | कप्तान ईशांत शर्मा की आगुआई में मेजबान दिल्ली ने पालम ग्राउंड पर खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी के ग्रुप-ए के मैच में महाराष्ट्र को बुरी स्थिति में पहुंचा दिया है। दिल्ली ने दूसरे दिन शनिवार का खेल खत्म होने तक महाराष्ट्र के आठ विकेट महज 59 रनों पर ही गिरा दिए हैं। दिल्ली ने अपनी पहली पारी में 419 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया। 

दिल्ली की तरफ से कप्तान ईशांत ने तीन विकेट लिए। नवदीप सैनी ने दो विकेट लिए। मनन शर्मा ने एक विकेट लिया। ललित यादव ने दो सफलता हासिल की।  महाराष्ट्र के सिर्फ तीन बल्लेबाज ही दहाई के आंकड़ें में पहुंच सके। राहुल त्रिपाठी ने 10, रोहित मोटवानी ने 12 रन और नौशद शेख ने 23 रन बनाए। 

दिनेश कार्तिक की वाइफ हैं बेहद खूबसूरत, देखकर दिवाने हो जाएगें आप    

इससे पहले दिल्ली ने नितिश राणा के 174 रनों की पारी के दम पर विशाल स्कोर बोर्ड पर टांगा। पहले दिन के स्कोर चार विकेट के नुकसान पर 260 रनों से आगे खेलने उतरी दिल्ली को दिन का पहला झटका मिलिंद कुमार (13) के रूप में लगा। 

निचले क्रम में ललित यादव ने नितिश का साथ दिया और 52 रनों की पारी खेली। नितिश 400 के कुल स्कोर पर आउट हुए। उन्होंने 264 रनों की पारी खेली और 18 चौके तथा चार चौके लगाए। 
महाराष्ट्र के लिए सत्यजीत बाचाव ने सबसे ज्यादा चार विकेट लिए। चिराग खुराना ने तीन सफलता हासिल कीं। 

वहीं ओंगोले में खेले जा रहे ग्रुप-सी के मैच में मुंबई के सामने आंध्र प्रदेश की टीम को ज्यादा अच्छी शुरुआत नहीं मिली। मुंबई के पहली पारी में बनाए गए 332 के कुल स्कोर के सामने दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक आंध्र प्रदेश की टीम ने दो विकेट खोकर 74 रन बना लिए हैं। 

दिनेश कार्तिक की वाइफ हैं बेहद खूबसूरत, देखकर दिवाने हो जाएगें आप    

छह विकेट के नुकसान पर 248 रनों से दूसरे दिन की शुरुआत करने वाली मुंबई को धवल कुलकर्णी ने 134 गेंदों में पांच चौके तथा दो छक्कों की मदद से खेली गई पारी से 300 के आंकड़े के पार पहुंचाया।  पहले दिन पृथ्वी शॉ ने 114 और सिद्देश लाड ने 86 रनों की पारियां खेल टीम को संभाला था।

आंध्र प्रदेश ने 23 रनों पर ही अपने दो विकेट खो दिए थे। प्रशांत कुमार (11) और श्रीकर भरत (11) पवेलियन लौट चुके थे। प्रशांत को अभिषेक नायर ने पगबाधा आउट किया तो भरत, श्रेयस अय्यर के हाथों रन आउट हुए।  दिन का खेल खत्म होने तक कप्तान हनुमंता विहारी 29 और रिकी भुई 23 रन बनाकर खेल रहे हैं।