X close
X close

'मैं भी इंसान हूं, मशीन नहीं', बुरी तरह टूट चुके हैं सरफराज खान; 25 साल के खिलाड़ी ने दर्द किया बयां

सरफराज खान ने यह खुलासा किया है कि उन्हें लगातार यह संकेत मिल रहे हैं कि उन्हें जल्द ही भारतीय टीम में चुना जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। यही वजह है वह टूट चुके हैं।

Nishant Rawat
By Nishant Rawat January 16, 2023 • 13:03 PM

सरफराज खान, 25 वर्षीय युवा बल्लेबाज़ जो बीते समय में लगातार घरेलू क्रिकेट में रनों का अंबार लगा रहा है। हालांकि इसके बावजूद वह भारतीय जर्सी से दूर हैं। हाल ही में बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी के शुरुआती दो मुकाबलों के लिए भारतीय टीम का ऐलान किया गया था, लेकिन इसमें सरफराज का नाम शामिल नहीं था। सरफराज बेहद दुखी हैं और अब उन्होंने अपनी खामोशी तोड़कर दुनिया के सामने अपना दुख रहा है। सरफराज बताते हैं कि वह बीते दिनों में सो नहीं पाए हैं, क्योंकि वह यह समझ नहीं पा रहे कि आखिर क्यों उनका सेलेक्शन नहीं हो रहा है। वहीं दूसरी तरह इस युवा टैलेंटिड खिलाड़ी ने यह भी साफ किया कि उन्हें लगातार चयनकर्ताओं से मौके मिलने की उम्मीद दी जा रही है। 

सरफराज ने इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत करते हुए कहा कि भारतीय टीम में सेलेक्शन ना होने के कारण वह ठीक से सो नहीं पा रहे हैं। वह इस कदर दुखी हैं कि उनकी आंखें तक झलक उठी। वह कहते हैं, 'मैं जहां भी जाता हूं, मुझे सब यही कहते हैं कि वह जल्द ही भारत के लिए खेलेंगें। सोशल मीडिया पर मेरे सेलेक्शन ना होने के बारे में बात करने वाले हजारों संदेश हैं। सब बोलते हैं मेरा टाइम आयेगा। मैं सेलेक्शन (भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया) के अगले दिन असम से दिल्ली आया, और पूरी रात सो नहीं पाया। मैं पूछता रहा कि मैं भारतीय टीम में क्यों नहीं हूं ? मैं काफी निराश था क्योंकि मेरी भी भावनाएं हैं। मैं भी एक इंसान हूं कोई मशीन नहीं। लेकिन अब पापा से बात करने के बाद मैं नॉर्मल हो गया हूं। मैं प्रैक्टिस कभी नहीं छोड़ूंगा, मैं डिप्रेशन में नहीं जाऊंगा।

Trending


अकेला महसूस कर रहे थे सरफराज: रन मशीन सरफराज अहमद ने यह भी बताया कि बीते समय में उनके घरेलू प्रदर्शन को देखकर उन्हें यह उम्मीद थी कि जल्द ही उनका सेलेक्शन भारतीय टीम में होगा और वह टेस्ट टीम का हिस्सा बनेंगे। वह कहते हैं, 'जब टीम की घोषणा की गई और मेरा नाम उसमें नहीं था, तो मैं बहुत दुखी हुआ। मेरी जगह कोई भी होता तो दुखी होता, क्योंकि मुझे चुने जाने की उम्मीद थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। कल, जब हम गुवाहाटी से दिल्ली की यात्रा कर रहे थे, तो मैं पूरा दिन उदास रहा। मैं सोच रहा था कि ऐसा क्या और क्यों हुआ। मैं बहुत अकेला महसूस कर रहा था। मैं रोया भी।”

Also Read: LIVE Score

चयनकर्ताओं ने किया था सेलेक्शन का वादा: 25 वर्षीय सरफराज ने खुलासा करते हुए यह भी बताया कि उनके प्रदर्शन को देखकर मुख्य चयनकर्ता चेतन शर्मा ने उन्हें वादा किया था कि जल्द ही उन्हें मौका मिलेगा। सरफराज ने कहा, 'बैंगलोर में रणजी ट्रॉफी के फाइनल के दौरान जब मैंने शतक बनाया, तो मैं चयनकर्ताओं से मिला। मुझे बताया गया कि आपको बांग्लादेश में मौका मिलेगा। उसके लिए तैयार रहें। हाल ही में, मैं मुख्य चयनकर्ता चेतन शर्मा सर से मिला जब हम मुंबई के होटल में चेक इन कर रहे थे। उन्होंने मुझे निराश न होने के लिए कहा और कहा कि मेरा समय आएगा। अच्छी चीजें होने में समय लगता है। आप बहुत करीब हैं ( सेलेक्शन)। आपको मौका मिलेगा। इसलिए, जब मैंने एक और महत्वपूर्ण पारी खेली, तो मुझे उम्मीद थी। लेकिन यह ठीक है।'