Advertisement
Advertisement

'विराट कोहली कवर ड्राइव पहले बहुत अच्छा लगाते थे, लेकिन अब वो बात नहीं'

इंडिया साउथ अफ्रीका के बीच खेली जा रही तीन मैचों की सीरीज का पहला टेस्ट सेंचुरियन में खेला जा रहा है। इंडियन टेस्ट टीम कैप्टन विराट कोहली के लिए बल्लेबाज के तौर पर ये मैच भी इस पूरे साल की

Nishant Rawat
By Nishant Rawat December 30, 2021 • 11:37 AM
Cricket Image for विराट कोहली कवर ड्राइव पहले बहुत अच्छा लगाते थे, लेकिन अब वो बात नहीं
Cricket Image for विराट कोहली कवर ड्राइव पहले बहुत अच्छा लगाते थे, लेकिन अब वो बात नहीं (Virat Kohli (Image Source: Google))
Advertisement

SA vs IND: इंडिया साउथ अफ्रीका के बीच खेली जा रही तीन मैचों की सीरीज का पहला टेस्ट सेंचुरियन में खेला जा रहा है। इंडियन टेस्ट टीम कैप्टन विराट कोहली(Virat Kohli)  के लिए बल्लेबाज के तौर पर ये मैच भी इस पूरे साल की तरह कुछ खास नहीं रहा है। विराट ने यहां पहले पारी में 35 और दूसरी पारी में सिर्फ 18 रन बनाए है। 

पिछले दो साल से कोहली के लिए उनका पसंदीदा शॉट कवर ड्राइव उनके लिए एक बुरे सपने जैसा हो गया है। विराट ने इस साल 11 टेस्ट में 28.2 की खराब औसत से सिर्फ 536 रन बनाए है। इस दौरान उनके बल्ले से सिर्फ 4 अर्धशतक ही निकले है। कोहली की इस खराब बैटिंग एवरेज का बड़ा कारण उनका लगातार ही बाहर जाती बॉल पर कवर ड्राइव मारना रहा है। विराट साउथ अफ्रीका के खिलाफ भी दोनों पारियों में बाहर निकलती बॉल पर कवर ड्राइव लगाने की कोशिश में आउट हुए हैं। विराट के लिए बल्लेबाज के तौर पर साल 2021 खत्म हो चुका है, ऐसे में अब भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाज आकाश चोपड़ा ने विराट कोहली पर बात करते हुए उनके कवर ड्राइव परेशानी बताया है।  

Trending


आकाश चोपड़ा ने अपने यूट्यूब चैनल पर विराट कोहली पर बात करते हुए उनके सबसे खुबसूरत शॉट कवर ड्राइव को उनके खराब प्रदर्शन का कारण बताया है। उन्होंने कहा कि "विराट कोहली बाहर की बॉल पर आउट हो रहे है, मैंने उनको ड्राइव पर इतना और इस प्रकार से आउट होते हुए नहीं देखा। विराट कवर ड्राइव पहले बहुत अच्छा लगाते थे, लेकिन इस समय वो परेशानी है।" 

इस पूर्व बल्लेबाज ने ये भी बताया कि विराट को इस प्रॉब्लम से बाहर निकलने के लिए सचिन तेंदुलकर का तरीका अपनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि विराट को सचिन तेंदुलकर की तरह ड्राइव ना मारने पर ध्यान देना होगा। जैसा उन्होंने इंग्लैंड के सेकंड टूर पर भी किया था, उन्हें बॉलर्स को बॉल शरीर के पास करने पर मजबूर करना होगा। वो काम उन्होंने पहले किया था और रन बनाए थे।

Also Read: Ashes 2021-22 - England vs Australia Schedule and Squads

बता दें कि इंडिया साउथ अफ्रीका के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच में भारत को आखिरी दिन में 6 विकेटो की जरूरत है, वहीं साउथ अफ्रीका के बल्लेबाजों को जीत के लिए 211 रन ओर बनाने होंगे। इसके अलावा मैच के आखिरी दिन बारिश की काफी संभावनाएं जताई जा रही है। ऐसे में अगर मैच शुरू होते ही दोनों की टीम्स को जीत के लिए ज्यादा मेहनत करने की जरूरत होगी।

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement
Advertisement