X close
X close
Indibet

दिल्ली कैपिटल्स के सीईओ ने कहा, आईपीएल ऑक्शन के दौरान गांगुली को मिस करेंगे !

Vishal Bhagat
By Vishal Bhagat
December 17, 2019 • 17:20 PM View: 534

नई दिल्ली, 17 दिसम्बर | सौरभ गांगुली इस समय बेशक बीसीसीआई के अध्यक्ष हों लेकिन वो हमेशा भारत के उस कप्तान के तौर पर जाने जाते हैं, जिसने देश की क्रिकेट बदली। उनका युवाओं का समर्थन करना राष्ट्रीय टीम में भी कारगर साबित हुआ दिल्ली कैपिटल्स की टीम में भी।

आईपीएल के अगले सीजन की नीलामी होने वाली है और ऐसे में दिल्ली कैपिटल्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी धीरज मल्होत्रा ने कहा है कि 'दादा' की कमी निश्चित तौर पर खलेगी। पिछले सीजन में गांगुली कैपिटल्स के साथ थे।

Trending


इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की नीलामी 19 दिसंबर को होनी है। नीलामी से पहले कैपिटल्स के सीईओ ने आईएएनएस से बात की और गुरुवार को कोलकाता में होने वाली नीलामी पर अपनी रणनीति पर बात की। इसके अलावा बताया कि रविचंद्रन अश्विन और अंजिक्य राहणे का टीम में आना टीम के लिए अच्छा साबित होगा।

उन्होंने कहा, "हमें उनकी (सौरभ) की कमी खलेगी। वह न सिर्फ चतुर और तेज प्रशासक हैं बल्कि बेहतरीन इंसान भी। उनका ड्रेसिंग रूम में होना, डग आउट में होना, टीम में होना, खिलाड़ियों से बात करना, यह सभी प्रेरणात्मक है। टीम के खिलाड़ी उनसे काफी प्रभावित हुए थे।"

उन्होंने कहा, "यह मायने नहीं रखता कि खिलाड़ी सीनियर है या जूनियर, वह हमेशा हर किसी के लिए उपलब्ध रहते थे। वह खेल को अच्छे से पढ़ते हैं। वह क्रिकेट के सबसे चतुर दिमागों में एक हैं। मुख्य कोच रिकी पोंटिंग के साथ उन्होंने बड़ा रोल निभाया था और इसलिए उनकी कमी हमेशा खलेगी।"

नीलामी में हालांकि टीम के कोच रिकी पोंटिंग भी नहीं होंगे क्योंकि वह इस समय आस्ट्रेलिया के साथ व्यस्त हैं। सीईओ ने हालांकि कहा है कि नीलामी में जाने से पहले जो काम किया जाना था वो किया जा चुका है।

उन्होंने कहा, "हमने खिलाड़ियों से बात की है, दुर्भाग्यवश हमारे कोच हमारे साथ नहीं होंगे क्योंकि उनकी आस्ट्रेलिया के साथ कुछ प्रतिबद्धताएं हैं। वह दो दिन के लिए आए थे और उन्होंने अपनी रणनीति हमें बता दी है। नीलामी में यह बात भी निर्भर करती है कि बाकी फ्रेंचाइजियां क्या करती हैं। हमने पहले ही रणनीति बना ली है और तय कर लिया है कि किस खिलाड़ी पर कितने रुपये खर्च करने हैं। यह सब के साथ मिलकर फैसला लेने की प्रक्रिया होगी।"

उन्होंने कहा, "अगर आप हमारी टीम देखेंगे तो, हमारे पास अच्छा मिश्रण है और टीम में संतुलन बनाने के लिए हमें एक दो खिलाड़ियों की जरूरत है। आपको खिलाड़ी और रणनीति नहीं बता सकता, लेकिन हमारी कोशिश पिछले सीजन के अच्छे प्रदर्शन को जारी रखने की है। हम कुछ हरफनमौला खिलाड़ियों की सूची को देखेंगे और कुछ तेज गेंदबाजों को भी।"

उन्होंने कहा, "निश्चित तौर पर हमारी रणनीति कोर टीम को बनाए रखने की होगी क्योंकि हमारे पास कुछ युवा खिलाड़ी हैं। हमारे पास ऋषभ पंत और श्रेयस अय्यर हैं। अब हमारे पास रविचंद्रन अश्विन, शिखर धवन और अजिंक्य रहाणे भी आ गए हैं। पिछले साल टूर्नामेंट में हम सबसे युवा टीम थे। हम इसे जारी रखना चाहेंगे।"

अश्विन और रहाणे के टीम में आने पर उन्होंने कहा, "यह दोनों अपने साथ काफी सारा अनुभव लेकर आ रहे हैं। और आप जानते हैं कि हम जीतने और अच्छा करने के अलावा एक परिवार और मजबूत फैन बेस का निर्माण करना चाहते हैं। दोनों से बात करने के बाद मैं यह कह सकता हूं कि यह दोनों टीम में अपना योगदान देना चाहते हैं। यह दोनों तैयार हैं। वह टीम में आकर अपने अनुभव और जानकारी से टीम का मार्गदर्शन करेंगे।"

बीसीसीआई 2021 सीजन को लेकर क्या रणनीति बना रही है इसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं दी गई है, लेकिन धीरज का कहना है कि उनका ध्यान मौजूदा सीजन पर है।

उन्होंने कहा, "अच्छा प्रदर्शन करने का हमेशा से दबाव होता है, लेकिन यह भी जरूरी है कि हम अच्छा खेलें और टीम का निर्माण करें। अभी हमें एक ही कन्फ्यूजन है कि हम नहीं जानते कि 2021 में क्या होगा। इसलिए टीम अभी सिर्फ 2020 के लिए तैयार की जा रही है। मुझे नहीं पता कि कितने खिलाड़ी रिटेन किए जाएंगे और क्या रणनीति होगी। इसलिए, अभी हम सिर्फ इसी साल को देख रहे हैं।"


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now