X close
X close
Indibet

4 इंटरनेशनल क्रिकेटर जिनका करियर मैदान पर लगी चोट ने खत्म कर दिया,एक खिलाड़ी टीम इंडिया का भी

कई बार देखा गया है कि चोटों ने कई क्रिकेटरों के करियर में बाधा डाली है। यहां तक की कुछ खिलाड़ियों का क्रिकेटर करियर मैदान पर चोट ने खत्म कर दिया। उनकी चोट इतनी गंभीर रही कि उनके पास क्रिकेट

By Saurabh Sharma August 13, 2022 • 10:17 AM

कई बार देखा गया है कि चोटों ने कई क्रिकेटरों के करियर में बाधा डाली है। यहां तक की कुछ खिलाड़ियों का क्रिकेटर करियर मैदान पर चोट ने खत्म कर दिया। उनकी चोट इतनी गंभीर रही कि उनके पास क्रिकेट छोड़ने के अलावा कोई और विकल्प नहीं रहा। आज हम आपको बतातें हैं उन 4 इंटरनेशनल क्रिकेटर्स के बारे , जिनका करियर एक चोट के कारण खत्म हो गया।  

मार्क बाउचर

Trending


साउथ अफ्रीका के दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज मार्क बाउचर का करियर एक चोट के कारण खत्म हो गया था। साल 2012 में समरसेट के खिलाफ मुकाबले में विकेटकीपिंग के दौरान एक गिल्ली बाउचर की आंख मे जाकर लग गई थी। इस चोट के चलते उनका क्रिकेटर करियर खत्म हो गया। बाउचर ने साउथ अफ्रीका के लिए 147 टेस्ट और 295 वनडे मैच खेले, जिसमें उन्होंने क्रमश: 5155 रन और 4686 रन बनाए। बतौर विकेटकीपर इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे ज्यादा शिकार करने का रिकॉर्ड भी बाउचर के नाम है। 


सबा करीम

भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज सबा करीम भी इस लिस्ट में शामिल हैं। साल 2000 में हुए एशिया कप में बांग्लादेश के खिलाफ मुकाबले में विकेटकीपिंग के दौरान गिल्ली करीम की आंख में आकर लगी थी। इस चोट के कारण करीम का करियर खत्म हो गया, क्योंकि उन्हें गेंद देखने में परेशानी हो रही थी। पटना के इस खिलाड़ी ने भारत के लिए एक टेस्ट और 34 वनडे मैच खेले। वनडे में उनके नाम 362 रन दर्ज हैं।  


डेविड लॉरेंस

डेविड लॉरेंस ने इंग्लैंड के लिए पांच टेस्ट औऱ एक वनडे मैच खेला। अपने करियर के पांचवें टेस्ट मैच के दौरान लॉरेंस के साथ ऐसा हादसा हुआ, जिसने उनका करियर खत्म कर दिया। फरवरी 1992 में वेलिंग्टन में न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट मैच के दौरान रनअप के दौरान नीकैप बुरी तरह क्षतिग्रस्‍त हो गई। छह साल बाद 1998 में लॉरेंस ने काउंटी क्रिकेट में वापसी करने की कोशिश की लेकिन असफल रहे। इसके बाद लॉरेंस ने बॉडीबिल्डिंग में अपना करियर बनाया, जिसमें उन्हें सफलता मिली।  


क्रेग कीस्वेटर

इंग्लैंड के बांए हाथ के विकेटकीपर बल्लेबाज क्रेग कीस्वेटर नॉर्थ हैम्पटनशायर के खिलाफ काउंटी मैच के दौरान डेविड विली की शॉर्ट गेंद खेलने के दौरान चोटिल हो गए थे। विली की गेंद हेलमेट के अंदर घुसकर कीस्वेटर की आंख में जाकर लगी थी। इसके लिए उन्हें सर्जरी करानी पड़ी, जिसके बाद उनका करियर खत्म हो गया। कीस्वेटर ने इस कारण 27 साल की उम्र में संन्यास ले लिया था। 


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now