X close
X close

होण्डा रेसिंग इंडिया टीम एशिया रोड रेसिंग चैम्पियनशिप के फाइनल मुकाबले के लिए तैयार

चैंग इंटरनेशनल सर्किट (थाईलैण्ड), 17 नवम्बरएशिया की सबसे मुश्किल रोड रेसिंग चैम्पियनशिप इस सप्ताहान्त समाप्त होने जा रही है, होण्डा रेसिंग इंडिया से राजीव सेथु एवं सेंथिल कुमार की जोड़ी 2022 एशिया रोड रेसिंग चैम्पियनशिप के फाइनल मुकाबले के लिए थाईलैण्ड के चैंग इंटरनेशनल सर्किट पहुंच गई है।

IANS News
By IANS News November 17, 2022 • 16:50 PM
Asia Road Racing:  Honda's Rajiv Sethu, Senthil Kumar aiming good show
Image Source: IANS

चैंग इंटरनेशनल सर्किट (थाईलैण्ड), 17 नवम्बरएशिया की सबसे मुश्किल रोड रेसिंग चैम्पियनशिप इस सप्ताहान्त समाप्त होने जा रही है, होण्डा रेसिंग इंडिया से राजीव सेथु एवं सेंथिल कुमार की जोड़ी 2022 एशिया रोड रेसिंग चैम्पियनशिप के फाइनल मुकाबले के लिए थाईलैण्ड के चैंग इंटरनेशनल सर्किट पहुंच गई है।

होण्डा रेसिंग इंडिया टीम एशिया प्रोडक्शन 250 सीसी (एपी250) क्लास की कुल 14 टीमों में से टॉप 9 इस राउण्ड में प्रवेश करेगी। 2018 में एकमात्र भारतीय टीम के रूप में शुरूआत करने के बाद लगातार सुधार करते हुए टीम ने कीमती पॉइन्ट्स स्कोर करने के लिए कड़ी मेहनत की। शुरूआती सीजन में 6 पॉइन्ट्स से आगे बढ़कर 2019 के सीजन का समापन 35 पॉइन्ट्स के साथ किया। लगातार सुधार के पथ पर अग्रसर, टीम अब कुल 42 पॉइन्ट्स के साथ 2022 के फिनाले तक पहुंच गई है।

 

आगामी राउण्ड के बारे में बात करते हुए प्रभु नागराज, ऑपरेटिंग ऑफिसर- ब्राण्ड एण्ड कम्युनिकेशन, होण्डा मोटरसाइकल एण्ड स्कूटर इंडिया ने कहा, एआरआरसी के 2022 सीजन में हमारे राइडरों को बहुत कुछ सीखने का मौका मिला। हमने चैंग इंटरनेशनल सर्किट से इस चैम्पियनशिप की शुरूआत की थी, जहां हमारे राइडरों ने देश के लिए अच्छे पॉइन्ट्स स्कोर किए। जबरदस्त रेसिंग के 4 राउण्ड्स के बाद सर्किट पर वापसी करते हुए, मुझे विश्वास है कि हमारे राइडर पिछले राउण्ड्स से मिले सबक का उपयोग कर देश के लिए और भी बेहतर परिणाम लेकर आएंगे। होण्डा रेसिंग इंडिया इस सप्ताहन्त थाई चैलेंज लेने और अपनी ओर से सर्वश्रेष्ठ परफोर्मेन्स के लिए तैयार है।

होण्डा रेसिंग इंडिया के अनुभवी राइडर राजीव सेथु कुल 31 पॉइन्ट्स के साथ एपी250 क्लास के आखरी राउण्ड में प्रवेश करने जा रहे हैं। राजीव ने चैंग इंटरनेशनल सर्किट पर हमेशा अच्छा परफोर्मेन्स दिया है। 2018 में उन्होंने यहां अपना पहला इंटरनेशनल पॉइन्ट स्कोर किया था। यहीं पर राजीव ने 2019 में एआरआरसी के तीसरे राउण्ड में एक भारतीय राइडर द्वारा पहली बार- टॉप 7 क्वालिफाइंग फिनिश किया। इसी साल 2022 सीजन के पहले राउण्ड में उन्होंने अपने परफोर्मेन्स को बरकरार रखते हुए 11वें स्थान पर फिनिश किया। राजीव पहले से एपी 250 क्लास के 24 राइडरों में से टॉप 15 में हैं और इस सप्ताहन्त अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए तैयार हैं।

इसी बीच, राजीव के टीम के साथी सेंथिल कुमार भी इस ट्रैक से अच्छी तरह परिचित हैं। चैंग पर ही उन्होंने थाईलैण्ड टैलेंट कप के साथ अपनी इंटरनेशनल शुरूआत की और 2019 एआरआरसी के तीसरे राउण्ड में टॉप 20 में फिनिश किया। इस सीजन के पहले राउण्ड में उन्होंने पावरफुल प्रदर्शन किया और अन्य इंटरनेशनल राइडरों को पीछे छोड़ते हुए अपना सर्वश्रेष्ठ- 13वें स्थान पर फिनिश किया। चौथे राउण्ड के बाद सेंथिल अब 11 पॉइन्ट्स पर हैं और टॉप 19 राइडरों में शामिल हैं- 2019 में 30वें पॉजिशन से आगे बढ़ने के बाद यह जबरदस्त सुधार है।

चैम्पियनशिप के आखरी राउण्ड को लेकर बेहद उत्सुक राजीव सेथु ने कहा, हम चैम्पियनशिप के अंतिम चरण में पहुंच गए हैं और मुझे खुशी है कि हम चैंग इंटरनेशनल सर्किट पर आखिरी राउण्ड में हिस्सा लेने जा रहे हैं। इससे पहले भी मैं इस सर्किट पर रेसिंग कर चुका हूं, मुझे उम्मीद है कि मैं यहां अच्छे परिणाम लेकर लौटूंगा और जहां तक हो सके ज्यादा से ज्यादा पॉइन्ट्स स्कोर कर लीडरबोर्ड पर टॉप पॉजिशन पर आने के लिए जीतोड़ कोशिश करूंगा।

अपने विचार व्यक्त करते हुए सेंथिल कुमार ने कहा, इस सीजन मुझे बहुत कुछ सीखने का अवसर मिला। मुझे खुशी है कि अब तक मैंने पॉइन्ट्स स्कोर किए हैं और पिछले साल के मुकाबले मैं बेहतर पॉजिशन पर हूं। इस साल चैंग में पिछली आउटिंग के दौरान मैंने टॉप 13 में फिनिश किया था। चैंग में आखरी राउण्ड को लेकर भी मैं बेहद उत्सुक हूं और अपने देश एवं टीम के लिए बेहतर फिनिश करने के लिए पूरी कोशिश करूंगा।

इसी सप्ताहानत चैंग इंटरनेशनल सर्किट पर 2022 थाईलैण्ड टैलेंट कप का फाइनल राउण्ड भी होगा (एशियाई राइडरों के लिए होण्डा का डेवलपमेन्ट प्रोग्राम)। चेन्नई (तमिलनाडु) से कवीन क्विंटल और मलप्पुरम (केरल) से मोहसीन पी इस अन्तर्राष्ट्रीय मंच पर भारतीय युवा रेसर्स का प्रतिनिधित्व करेंगे।

Also Read: क्रिकेट के अनोखे किस्से

This story has not been edited by Cricketnmore staff and is auto-generated from a syndicated feed