X close
X close

पीवी सिंधु की निगाहें दिसंबर में बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स के साथ वापसी पर

अगस्त में कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में गोल्ड मेडल जीतने के बाद से टीम इंडिया की स्टार शटलर पीवी सिंधु ने बुधवार को कहा कि उनका रिहैब और रिकवरी अच्छी चल रही है और उन्हें बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स में वापसी की उम्मीद है।...

IANS News
By IANS News October 13, 2022 • 10:19 AM
पीवी सिंधु की निगाहें दिसंबर में बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स के साथ वापसी पर
Image Source: Google

New Delhi: Double Olympic medalist PV Sindhu during the closing ceremony of the 6th edition of PNB MetLife's Junior Badminton Championship 2022 at IG Stadium in New Delhi on Wednesday अगस्त में कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में गोल्ड मेडल जीतने के बाद से टीम इंडिया की स्टार शटलर पीवी सिंधु ने बुधवार को कहा कि उनका रिहैब और रिकवरी अच्छी चल रही है और उन्हें बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स में वापसी की उम्मीद है। जो 14 से 18 दिसंबर 2022 तक चीन के ग्वांगझू में आयोजित किया जाएगा।

टूर्नामेंट की शुरुआत में चोटिल होने के बावजूद, सिंधु ने बर्मिघम में महिला एकल फाइनल में कनाडा की मिशेल ली को हराकर अपना पहला व्यक्तिगत सीडब्ल्यूजी स्वर्ण पदक जीता था। वह अपने ज्यादातर मैच चोट के साथ खेलती नजर आई थीं। बाद में, यह पता चला कि दो बार के ओलंपिक पदक विजेता गंभीर रूप से घायल थीं।

सिंधु ने राष्ट्रीय राजधानी में जूनियर बैडमिंटन चैंपियनशिप (जेबीसी) 2022 इवेंट से इतर एक साक्षात्कार में आईएएनएस को बताया, "सब कुछ ठीक चल रहा है। उम्मीद है कि मैं दिसंबर में बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स में भाग लूंगी।"

उन्होंने कहा, "पीएनबी मेटलाइफ जूनियर बैडमिंटन चैंपियनशिप (जेबीसी) 2022' के छठे सीजन का अंतिम चरण बुधवार को इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में पांच श्रेणियों में 10 बैडमिंटन चैंपियनों की जीत के साथ संपन्न हुआ।"

27 वर्षीय शटलर ने कहा कि वह अपनी चोट के कारण बीडब्ल्यूएफ विश्व चैंपियनशिप में भाग नहीं ले सकीं, लेकिन अगले साल व्यस्त शेड्यूल से पहले उनके शरीर को उचित आराम देने के लिए ब्रेक भी महत्वपूर्ण था।

उन्होंने आगे कहा, "निश्चित रूप से, एक फ्रैक्चर के कारण बीडब्ल्यूएफ विश्व चैंपियनशिप को मिस करना दुखद था, लेकिन मुझे लगता है कि मेरे शरीर की देखभाल करना भी महत्वपूर्ण था। मैं सकारात्मक रूप से ब्रेक ले रही हूं। मुझे लगता है कि यह एकमात्र ब्रेक का समय है, क्योंकि अगला साल एक के बाद एक टूर्नामेंट के साथ व्यस्त रहने वाला है।"

मौजूदा खिलाड़ियों में सर्वश्रेष्ठ बैडमिंटन खिलाड़ी के बारे में पूछे जाने पर सिद्धू ने कहा कि शीर्ष दस और पंद्रह में से अधिकतर खिलाड़ी समान स्तर के हैं और वह उनमें से सर्वश्रेष्ठ को नहीं चुन सकती हैं और न ही उन्हें हल्के में ले सकती हैं।

उन्होंने कहा, "शीर्ष दस खिलाड़ी वास्तव में अच्छा कर रहे हैं। आप एक से सर्वश्रेष्ठ होने की उम्मीद कर सकते हैं क्योंकि हर टूर्नामेंट में एक नया विजेता होता है। साथ ही, एक दिन जो बेहतर अच्छा खेलता है और अपना सर्वश्रेष्ठ देता है वह विजेता होता है।"

देश में सबसे बेहतरीन एथलीटों में से एक सिंधु ने ओलंपिक, विश्व चैंपियनशिप, राष्ट्रमंडल खेलों और अन्य टूर्नामेंटों में देश के लिए कई प्रतिष्ठित पदक जीते हैं। हालांकि उनकी शानदार रिकॉर्ड से ओलिंपिक गोल्ड गायब है और स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी भी अपने अगले बड़े लक्ष्य से वाकिफ हैं।

सिंधु ने कहा, "निश्चित रूप से, मैं ओलंपिक में स्वर्ण पदक लाने के बारे में सोचूंगी। लेकिन साथ ही, कुछ टूर्नामेंट भी आ रहे हैं और हमारे पास ओलंपिक क्वोलीफाई भी जल्द ही शुरू हो रही है। इसलिए, पहले इसे देखकर अपना सर्वश्रेष्ठ देने के बारे में सोच रही हूं।"

Also Read: Live Cricket Scorecard

पेरिस ओलंपिक के लिए अपनी तैयारी के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, "बहुत सारी तैयारी होने वाली है लेकिन उससे पहले, मुझे मानसिक और शारीरिक रूप से फिट होना होगा। ताकि, मैं पेरिस के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकूं और जैसा कि मैंने बताया है। आपको शीर्ष पर रहने के लिए ओलंपिक क्वालीफिकेशन में भी अच्छा प्रदर्शन करना होगा।"


TAGS