X close
X close

महिला हॉकी फाइनल में होगी पंजाब और हरियाणा की भिड़ंत

डिफेंडिंग चैंपियन पंजाब ने एक बार फिर से हरियाणा के साथ फाइनल की भिड़ंत पक्की कर ली है। दोनों टीमों ने शानदार जीत के साथ 36वें नेशनल गेम्स के महिला हॉकी टीम टूर्नामेंट के फाइनल में अपनी जगह बना ली है। मेजर ध्यानचंद...

IANS News
By IANS News October 10, 2022 • 09:15 AM
महिला हॉकी फाइनल में होगी पंजाब और हरियाणा की भिड़ंत
Image Source: Google

डिफेंडिंग चैंपियन पंजाब ने एक बार फिर से हरियाणा के साथ फाइनल की भिड़ंत पक्की कर ली है। दोनों टीमों ने शानदार जीत के साथ 36वें नेशनल गेम्स के महिला हॉकी टीम टूर्नामेंट के फाइनल में अपनी जगह बना ली है।

मेजर ध्यानचंद स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में पंजाब ने सेमीफाइनल में मध्य प्रदेश को 2-1 से हराया तो वहीं हरियाणा ने झारखंड के खिलाफ 5-2 की बड़ी जीत हासिल की है। सुहाने मौसम में खेले गए मुकाबले में पंजाब की टीम ने शानदार हॉकी खेली और 29वें मिनट में कप्तान गुरजीत कौर के गोल के साथ बढ़त हासिल की थी। 59वें मिनट में लालरेमसिायामी ने भी गोल दागा था। मध्य प्रदेश के लिए इकलौता गोल उनकी कप्तान इशिका चौधरी ने 42वें मिनट में दागा था।

हालांकि, दिन रानी रामपाल के नाम रहा जिन्होंने हरियाणा को फाइनल में पहुंचाया। झारखंड के खिलाफ मिली 5-2 की जीत में हरियाणा के लिए रानी ने सभी पांच गोल दागे। भारतीय कप्तान ने 11वें, 16वें, 30वें, 49वें और 58वें मिनट में गोल दागे। रानी के दम पर हरियाणा ने सीनियर नेशनल में मिली हार का बदला भी पूरा कर लिया है।

मैच के बाद रानी रामपाल ने कहा, "हमारे लिए यह बेहतरीन चैंपियनशिप रही है। हमारी टीम काफी अच्छी है और हमें निश्चित तौर पर गोल्ड मेडल के साथ घर लौटना चाहिए।"

झारखंड के डिफेंस ने काफी गलतियां की और विपक्षी टीम के लिए काफी खाली जगह छो़ड़ी जिसका फायदा लेते हुए रानी ने नेहा गोयल द्वारा राइट विंग से दिए गए पास पर गोल दागा। पांच मिनट बाद ही रानी ने अपनी टीम के पहले कॉर्नर पर गोल दागा।

रानी ने बताया, "हम कुछ समय से साथ खेल रहे हैं। हम में से अधिकतर लोग अनुभवी हैं और इसका बड़ा अंतर पड़ता है। इससे हमें प्रेशर को अच्छे से हैंडल करने में मदद मिलती है और हमारी सफलता का मूल मंत्र यही है।"

झारखंड की टीम को मौके नहीं मिल रहे थे, लेकिन तीसरे क्वार्टर में उन्होंने वापसी की उम्मीद दिखाई थी। संगीता कुमारी ने 45वें और सलीमा टेटे ने 47वें मिनट में गोल दागे और तीन मिनट के अंदर दो गोल दागकर झारखंड ने वापसी की उम्मीद दिखाई थी।

रानी ने कहा, "उस समय हमने अपना फोकस खो दिया था। हालांकि, जल्दी ही हमने दोबारा इसे हासिल किया और दो गोल दागते हुए बढ़ रहे दबाव को कम किया।"

Also Read: Live Cricket Scorecard

झारखंड टीम के कोच बिगन सॉय ने मैच पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा, "लड़कियों ने अच्छा खेल दिखाया। हरियाणा की टीम में भारतीय टीम की 10 से अधिक खिलाड़ी हैं और वे बेस्ट टीम साबित हुईं। हमने सीनियर नेशनल में कांस्य पदक जीता था और यहां से भी कुछ लेकर जाने की कोशिश करेंगे।"


TAGS