X close
X close

पीकेएल: उभरते सितारे जय भगवान ने पूरा किया अपने पिता का सपना

वीवो प्रो कबड्डी लीग सीजन 9 के लिए चुने जाने वाले खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स 2022 के एकमात्र खिलाड़ी, जय भगवान ने बेंगलुरु के श्री कांतीरवा इंडोर स्टेडियम में अपने शुरूआती दो मैचों में यू मुंबा के लिए अपने प्रदर्शन...

IANS News
By IANS News October 14, 2022 • 11:41 AM
पीकेएल: उभरते सितारे जय भगवान ने पूरा किया अपने पिता का सपना
Image Source: Google

वीवो प्रो कबड्डी लीग सीजन 9 के लिए चुने जाने वाले खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स 2022 के एकमात्र खिलाड़ी, जय भगवान ने बेंगलुरु के श्री कांतीरवा इंडोर स्टेडियम में अपने शुरूआती दो मैचों में यू मुंबा के लिए अपने प्रदर्शन से सबको चौंका दिया। 18 वर्षीय रेडर ने अब तक प्रतियोगिता में 11 अंक हासिल किए हैं। हालांकि, भगवान ने बहुत मुश्किलों का सामना किया है।

खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स 2022 में स्वर्ण पदक विजेता कोटा विश्वविद्यालय टीम का हिस्सा होने और अपनी यात्रा के बारे में बोलते हुए, भगवान ने कहा, "यह हमारे लिए एक कठिन समय था जब मेरे पिता का निधन हो गया। मैंने उस समय अपने अभ्यास सत्र कम कर दिए थे, लेकिन मेरे बड़े भाई ने मुझसे कहा कि अभ्यास करते रहो और कड़ी मेहनत जारी रखो।"

रेडर ने आगे कहा, "मेरे पिता मुझे टेलीविजन पर खेलते देखना चाहते थे। मैंने उनका एक सपना पूरा किया है। वह भी चाहते थे कि मैं भारत के लिए खेलूं। मेरी मां मुझे टेलीविजन पर देखकर बहुत खुश थीं।"

यह पूछे जाने पर कि वह पहले से ही शानदार प्रदर्शन कैसे कर पाए, राजस्थान के खिलाड़ी ने कहा, "पहले, मैंने इस साल अप्रैल-मई में खेलो इंडिया गेम्स में भाग लिया था। फिर हमने अपने प्री-सीजन कैंप के दौरान वास्तव में अच्छी तरह से प्रशिक्षण लिया। हमारे कोच ने हमें किसी भी चीज के बारे में चिंतित नहीं होने के लिए कहा। मैं यू मुंबा प्रबंधन की वजह से वीवो पीकेएल सीजन में स्वतंत्र रूप से खेलने में सक्षम हूं।"

भगवान ने यह भी कहा, "मैं वीवो प्रो कबड्डी लीग में खेलकर वास्तव में खुश हूं और मैं यू मुंबा टीम का हिस्सा बनकर और भी खुश हूं, क्योंकि इस फ्रेंचाइजी का प्रबंधन वास्तव में अच्छा है। मैं अपने शुरूआती मैच से पहले थोड़ा नर्वस था, लेकिन हमारे कोच ने मुझे आत्मविश्वास दिया।"

रेडर ने यह भी व्यक्त किया कि मैं शुरूआत में खो-खो खेलता था फिर मैंने स्कूल बदल दिए। मेरे नए स्कूल में, कबड्डी खेली जा रही थी और यहीं से मुझे खेल के लिए रुचि मिली। मेरे स्कूल के पीटी शिक्षक हमें विभिन्न टूर्नामेंटों में ले गए और फिर मैं रैंकों के माध्यम से आगे बढ़ता रहा।"

Also Read: Live Cricket Scorecard

जय भगवान अगली बार एक्शन में दिखाई देंगे जब यू मुंबा शुक्रवार को तमिल थलाइवाज से भिड़ेंगे।


TAGS