Advertisement
Advertisement

IRE vs IND: 3 खिलाड़ी जिन्हें चयनकर्ताओ ने बुरी तरह नज़रअंदाज किया

IRE vs IND: भारत को आयरलैंड के खिलाफ दो टी20 मुकाबले खेलने हैं, जो कि 26 और 28 जून को खेले जाएंगे।

Nishant Rawat
By Nishant Rawat June 18, 2022 • 16:01 PM
Cricket Image for IRE vs IND: 3 खिलाड़ी जिन्हें चयनकर्ताओ ने बुरी तरह नज़रअंदाज किया
Cricket Image for IRE vs IND: 3 खिलाड़ी जिन्हें चयनकर्ताओ ने बुरी तरह नज़रअंदाज किया (Image Source: Google)
Advertisement

Ireland vs India 2022: भारतीय टीम को आयरलैंड के खिलाफ जून के अंतिम हफ्ते में दो मैचों की टी-20 सीरीज खेलनी है। इस सीरीज के लिए बीसीसीआई ने 17 सदस्यों की टीम का ऐलान किया है। इस सीरीज से कुछ खिलाड़ियों की टीम में वापसी होने वाली है, वहीं कुछ नए खिलाड़ियों को पहली बार टीम में चुना गया है। आज इस आर्टिकल के जरिए हम आपको बताएंगे उन 3 खिलाड़ियों के नाम जिन्हें भारत-आयरलैंड टी-20 सीरीज में मौका दिया जा सकता था, लेकिन चयनकर्ताओं ने उन्हें पूरी तरह नज़र अंदाज किया।

पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw)

Trending


पृथ्वी शॉ भारतीय टीम के उभरते सितारों में से एक हैं। शॉ की कप्तानी में भारतीय टीम ने साल 2018 में अंडर-19 वर्ल्ड कप जीता था।

22 साल के पृथ्वी शॉ दुनियाभर की सबसे कठिन लीग आईपीएल में पिछले पांच सालों से हिस्सा ले रहे हैं। इस दौरान पृथ्वी के बल्ले से 63 मुकाबलों में 147.45 की स्ट्राइक रेट से 1077 रन निकले हैं।

इस युवा बल्लेबाज़ ने भारतीय टीम के लिए तीनों ही प्रारूपों में डेब्यू कर लिया है, लेकिन उन्हें टी20 क्रिकेट में ज्यादा मौके नहीं मिले हैं। ऐसे में चयनकर्ता पृथ्वी शॉ को आयरलैंड सीरीज में मौका दे सकते थे। हालांकि ऐसा हुआ नहीं और उन्हें इग्नोर किया गया।

थंगरासू नटराजन (T. Natarajan)

टी नटराजन यॉर्कर स्पेशिलिस्ट गेंदबाज़ माने जाते हैं। इस साल आईपीएल 2022 में उन्होंने ऑरेंज आर्मी के लिए 11 मुकाबले में गेंदबाज़ी करते हुए 18 विकेट चटकाए थे। 

नटराजन बाएं हाथ के गेंदबाज़ हैं जो कि टी-20 वर्ल्ड कप के नजरिए से भी भारतीय टीम के लिए काफी अहम खिलाड़ी साबित हो सकते हैं। नटराजन, भुवनेश्वर और बुमराह की जोड़ी विपक्षी टीम पर कहर बरपा सकती है। ऐसे में उन्हें आयरलैंड दौरे पर चयनकर्ता को नज़रअंदाज नहीं करना चाहिए था।   

राहुल तेवतिया (Rahul Tewatia)

आईपीएल 2022 में गुजरात टाइटंस को जीत का ताज पहनाने में राहुल तेवतिया ने अहम योगदान निभाया था। 29 साल के तेवतिया बैट और बॉल दोनों से ही टीम को जीत दिला सकते हैं।

इस सीजन राहुल ने ना सिर्फ गुजरात के लिए स्पिनर की भूमिका निभाई बल्कि बल्लेबाज़ी करते हुए फिनिशर का रोल भी बखुबी अदा किया। ऐसे में उन्हें भी भारतीय चयनकर्ता टीम का हिस्सा बना सकते थे।

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement
Advertisement