X close
X close
Indibet

IND vs AUS : विराट कोहली के वनडे करियर में पहली बार हुआ कुछ ऐसा, भारतीय कप्तान नहीं याद रखना चाहेंगे 2020 का साल

Shubham Sharma
By Shubham Sharma
December 02, 2020 • 13:06 PM View: 406

भारतीय टीम के कप्तान और 'रन मशीन' के नाम से मशहूर विराट कोहली ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे वनडे में 63 रन बनाकर आउट हुए।विराट ने अपनी 63 रनों की पारी में 78 गेंदों का सामना किया और इस दौरान उनके बल्ले से 5 चौके भी देखने को मिले। मगर, भारतीय फैंस जिस चीज का इंतजार कर रहे थे उन्हें उस चीज के लिए अगले साल का इंतजार करना पड़ेगा।

जी हां, भारतीय कप्तान विराट कोहली इस साल वनडे क्रिकेट में एक भी शतक नहीं लगा पाए हैं और उनके वनडे करियर में ऐसा बहुत कम हुआ है कि वो किसी कैलेंडर साल में शतक जमाने से चुक गए हैं. वनडे क्रिकेट में 2008 के बाद ऐसा पहली बार हुआ है जब कोहली साल में एक भी शतक नही लगा पाए हैं। साल 2020 में कोहली का सर्वोच्च वनडे स्कोर  89 रन रहा है, जो उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इसी सीरीज के दूसरे वनडे में लगाया था।

Trending


हमें कोहली के बल्ले से शतक देखने की आदत सी हो गई थी, लेकिन लगता है कि विराट शतक लगाना ही भूल चुके हैं। साल 2020 में विराट के बल्ले से शतक तो नहीं, लेकिन 5 अर्धशतक जरूर निकले हैं। इस साल कोहली ने कुल 9 वनडे मैच खेले हैं और इस दौरान कुल 9 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए उन्होंने 47.88 के औसत के साथ 431 रन बनाए हैं। 

विराट के बल्ले से बेशक हमें इस साल शतक देखने को नहीं मिला है, लेकिन इसके बावजूद उन्होंने कई रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए हैं। कंगारूओं के खिलाफ खेले जा रहे तीसरे वनडे में कोहली सबसे तेज 12000 रन बनाने में सफल रहे। कोहली ने सबसे कम पारियों में 12 हजार वनडे रन बनाकर मास्टर-ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। 

विराट ने 12 हजार का आंकड़ा पार करने के लिए 242 पारियों का समय लिया। कोहली ने भारतीय पारी के 13वें ओवर अपनी पारी का 23वां रन बनाकर इस आंकड़े को छूआ। कोहली ने सिर्फ 242 पारियों में 12000 रन पूरे किए हैं। जो किए एक वर्ल्ड रिकॉर्ड है। इस मामले में उन्होंने सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़ा। तेंदुलकर ने 300 पारियों में यह मुकाम हासिल किया है। 


 
Article