X close
X close

टेस्ट क्रिकेट से रिटायर होने वाले हैं डेविड वॉर्नर, बोले- 'ये मेरे आखिरी 12 महीने हो सकते हैं'

ऑस्ट्रेलिया के धाकड़ ओपनर डेविड वॉर्नर ने एक बड़ा ऐलान किया है जिसने उनके फैंस में खलबली मचा दी है। वॉर्नर ने कहा है कि वो आने वाले 12 महीनों के बाद टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले सकते हैं।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav November 14, 2022 • 11:43 AM

ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर ने संकेत दिया है कि वो अगले साल इंग्लैंड में होने वाली एशेज सीरीज के बाद टेस्ट क्रिकेट से रिटायरमेंट ले लेंगे। इसके साथ ही वॉर्नर ने ये भी कहा कि उनकी कम से कम 2024 टी-20 विश्व कप तक सफेद गेंद से क्रिकेट खेलने की योजना है। गत चैंपियन ऑस्ट्रेलिया घरेलू टी20 विश्व कप के सेमीफाइनल में जगह नहीं बना सका था। ऑस्ट्रेलिया की नाकामी का एक बड़ा कारण वार्नर भी थे जो बल्ले से फ्लॉप रहे थे।

वार्नर ने ट्रिपल एम के डेडसेट लेजेंड्स शो में कहा, "मैं शायद टेस्ट क्रिकेट से सबसे पहले रिटायरमेंट लूंगा। क्योंकि शायद ये इसी तरह प्लान होगा। टी20 वर्ल्ड कप 2024 में है। संभावित रूप से ये टेस्ट क्रिकेट में मेरे आखिरी 12 महीने हो सकते हैं। लेकिन मुझे सफेद गेंद का खेल पसंद है, ये काफी मज़ेदार है। मुझे टी-20 से प्यार है। मैं 2024 तक पहुंचना चाह रहा हूं। उन सभी लोगों के लिए जो कह रहे हैं कि मैं इसे पार कर चुका हूं और बहुत सारे पुराने लोग जो इसे पार कर चुके हैं, बाहर देखो और अपनी इच्छाओं के बारे में सजग रहो।"

Trending


अगले साल ऑस्ट्रेलिया के टेस्ट कार्यक्रम में 50 ओवरों के विश्व कप से पहले भारत और इंग्लैंड के दौरे शामिल हैं। वेस्टइंडीज और संयुक्त राज्य अमेरिका 2024 में 20 ओवरों के विश्व कप की सह-मेजबानी करेंगे। ऐसे में इस बात की संभावना काफी प्रबल है कि ऑस्ट्रेलिया वार्नर और साथी बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा को अगले साल खो सकता है क्योंकि ये दोनों ही खिलाड़ी 36 साल के हो जाएंगे। ऐसे में ये देखना दिलचस्प होगा कि क्या ये दोनों टेस्ट क्रिकेट खेलना जारी रखते हैं या नहीं।

Also Read: LIVE अपडेट्स (T20 WC 2022 Final) - इंग्लैंड बनाम पाकिस्तान

आपको बता दें कि डेविड वॉर्नर को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन टेस्ट में बॉल टैम्परिंग के लिए दोषी माना गया था और इस आरोप के चलते उन्हें कप्तानी से भी बैन कर दिया गया था। उस समय वो ऑस्ट्रेलियाई टीम के उप कप्तान थे और स्टीव स्मिथ कप्तान थे। उस घटना के बाद से वॉर्नर पर कप्तानी का बैन अभी भी बरकरार है और अब कई दिग्गजों द्वारा मांग की जा रही है कि वॉर्नर का कप्तानी बैन हटाया जाना चाहिए।