X close
X close

मुझे लगा कि IPL सीजन 13 में मुझे एक भी गेम खेलने को नहीं मिलेगा: रुतुराज गायकवाड़

By Prabhat Sharma
Nov 05, 2020 • 12:48 PM

IPL 2020: चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के बल्लेबाज रुतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) ने सीएसके के लिए आईपीएल सीजन 13 के अंत में धमाकेदार बल्लेबाजी करते हुए टीम को जीत दिलाने में अहम योगदान निभाया था। आईपीएल के शुरुआती मैचों को मिस करने के बाद गयाकवाड़ ने चैन्नई के लिए इस सीजन 6 मैचों में शिरकत की जिसमें उन्होंने 51 की औसत से 204 रन बनाए।

आईपीएल सीजन 13 में अपने प्रदर्शन पर बोलते हुए गायकवाड़ ने कहा, 'मुझे लगा कि मुझे इस आईपीएल से बाहर बैठना पड़ेगा। कोविड-19 पॉजिटिव आना और 22 दिनों के लिए होटल के कमरे में बंद रहना काफी कठिन था। चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलना मेरा सपना था। जैसे ही 14 दिन का क्वारंटीन समाप्त हुआ, बुखार की गति से अधिक बुरी खबरें आने लगीं। एक और सकारात्मक कोविद टेस्ट आइसोलेशन और भय का एक और सप्ताह। तब मैं चिंतित हो गया और मुझे लगा कि मुझे एक भी गेम खेलने को नहीं मिलेगा।'

Also Read: "इन दो बल्लेबाजों का फॉर्म में ना होना दिल्ली को दे सकती है बड़ी परेशानी", आकाश चोपड़ा ने मुंबई के खिलाफ मैच से पहले दिया बयान

रुतुराज गायकवाड़ ने अपने आइडल और सीएसके के कप्तान धोनी की भी जमकर तारीफ की। रुतुराज गायकवाड़ ने बताया कि कैसे एम एस धोनी ने उन्हें क्वारंटीन के दौरान अपने शब्दों से प्रेरित किया था। गायकवाड़ ने कहा कि मैं टीवी-सीरीज़ देख रहा था और अपने साथियों के साथ जूम कॉल पर था, तब धोनी ने मुझसे कहा, 'मुस्कान के साथ उसका सामना करो, यह 14 दिनों में खत्म हो जाएगा'

गायकवाड़ ने कहा, 'आईपीएल ने मुझे एक बेहतर इंसान बनाया है। मैंने महसूस किया है कि जीवन में, किसी को भी कुछ भी हल्के में नहीं लेना चाहिए। मैंने अब खेल का आनंद लेना सीख लिया है और वर्तमान में बना हुआ हूं। दुनिया में बहुत कुछ होने के साथ, आपको कभी नहीं पता कि भविष्य क्या होने वाला है।'