टी20 में धोनी बल्ले से कमजोर दिख रहे हैं, ऐसे में क्या है उनका विकल्प
X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

टी20 में अपनी बल्लेबाजी से धोनी हो रहे हैं फ्लॉप, ऐसे में जानिए कौन है उनका विकल्प

by Vishal Bhagat Feb 19, 2018 • 15:49 PM

19 फरवरी। साउथ अफ्रीकी टीम के खिलाफ जोहान्सबर्ग में खेले गए पहले टी-20 में भारत ने 28 रन से जीत हासिल कर कमाल कर दिया। भारत की टीम अब टी- 20 सीरीज में भी 1- 0 से साउथ अफ्रीकी टीम से आगे हो गई है। पहले टी- 20 में भारत की बल्लेबाजी औऱ साथ ही गेंदबाजी शानदार रही जिसके कारण ही 28 रन से शानदार जीत मिली।

एक तरफ जहां भारत ने ऑलराउंड परफॉर्मेंस करते हुए हर किसी का दिल जीत लिया तो वहीं एक बार फिर धोनी की बल्लेबाजी को लेकर आलोचना जोर पकड़ने लगी।

गौरतलब है कि पहले टी- 20 में धोनी नंबर 6 पर बल्लेबाजी करने आए थे और 11 गेंद का सामना करते हुए केवल 16 रन ही बना सके। धोनी ने अपनी पारी में 2 चौके जमाए। क्रिस मॉरिस की एक साधारण सी गेंद पर बोल्ड आउट होकर धोनी को पवेलियन लौटना पड़ा था।

धोनी के द्वारा धमाका ना कर पाने के कारण क्रिकेट पंडित से लेकर क्रिकेट फैन्स उनकी आलोचना करने लगे हैं। धोनी जब भी मैदान पर उतरते हैं तो हर किसी को उनसे उम्मीद रहती है कि वो एक धमाकेदार ‘धोनी’ जैसी पारी देखने को मिलेगी लेकिन पिछले कुछ समय से धोनी फैन्स के मुताबिक पारी खेलने में नाकाम हो रहे हैं।

ऐसे मेंये सवाल उठने लगा है कि धोनी को कम से कम अब टी- 20 फॉर्मेट से खुद को अलग कर लेना चाहिए। आपको बता दें कि धोनी ने अबतक टी- 20 इंटरनेशनल में 87 मैच खेल लिए हैं औऱ इस दौरान 36.31 की औसत के साथ 1380 रन बनाए हैं। धोनी का स्ट्राइक रेट 125.22 का रहा है।

आपको बता दें सबसे हैरानी की बात ये है कि धोनी टी- 20 इंटरनेशनल में केवल एक अर्धशतक जमा पाए हैं। इसके अलावा आखिरी 10 टी- 20 इंटरनेशनल की बात की जाए तो धोनी ने कुल मिलाकर 139 रन बनाए हैं जो निराश करने वाला है। ऐसे में धोनी को लेकर ये सवाल उठना लाजमी है।

अगर धोनी टी- 20 से बाहर हुए तो ये 4 दिग्गज ले सकते हैं धोनी की जगह

मान लीजिए अगर धोनी टी- 20 इंटरनेशनल से अलग हो गए तो क्या चयनकर्ताओं के पास धोनी का विकल्प मौजूद हैं। आईए डालते हैं उन 4 खिलाड़ियों के बारे में जो हो सकते हैं धोनी का विकल्प►

दिनेश कार्तिक

टी- 20 क्रिकेट में दिनेश कार्तिक एक सार्थक विकल्प हो सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि कार्तिक के पास अनुभव हैं औऱ उनका आईपीएल रिकॉर्ड बल्लेबाजी के तौर पर शानदार रहा है। आईपीएल में दिनेश कार्तिक ने 152 मैच खेले हैं और 2903 रन बनाए हैं जिसमें उनका औसत 24.81 है। आईपीएल करियर में कार्तिक का स्ट्राइक रेट 125.94 का है।  आईपीएल में कार्तिक ने 14 अर्धशतक जमाए हैं।

साल 2017 के आईपीएल की बात की जाए तो कार्तिक शानदार फॉर्में मे देखे थे और 14 मैच में 36.10 की औसत के साथ 361 रन बनाए थे। जिसमें 2 पचासा शामिल था। विकेटकीपर के तौर पर भी दिनेश कार्तिक एक अच्छ विकेटकीपर साबित हो सकते हैं।

केएल राहुल
केएल राहुल एक बेहतरीन बल्लेबाज हैं इसमें कोई दो राय नहीं हैं। हालांकि केएल राहुल ओपनर के तौर पर खेलते हैं लेकिन धवन औऱ रोहित के टीम में होने से शायद ही उनको ओपनिंग करने का मौका मिले। ऐसे में
यदि धोनी टी- 20 टीम में नहीं रहे तो केएल राहुल को मौका मिल सकते हैं।

टी- 20 क्रिकेट में केएल राहुल अपनी बल्लेबाजी से छाए रहते हैं। अबतक केएल राहुल ने 12 मैचों की 11 पारियों में 50.88 की औसत के साथ कुल 458 रन बनाये है जिसमें एक शतक भी शामिल है।

संजू सैमसन

भविष्य की टी- 20 टीम तैयार करने की ऱणनीति पर फोकस किया जाए तो संजू सैमसन एक सही विकल्प धोनी के साबित हो सकते हैं। हालांकि अभी कोई भी इंटरनेशनल टी- 20 मैच संजू ने नहीं खेला है लेकिन आईपीएल में परफॉर्मेंस प्रभावी रहा है।

आईपीएल में संजू सैमसन ने अबतक 66 मैच में 1426 रन बनाए हैं जिसमें एक शतक और 7 अर्धशतक शामिल है। सैमसन का स्ट्राइक रेट 124.43 का है। इस परफॉर्मेंस के बल पर यकिनन संजू सैमसन धोनी के सही विकल्प बन सकते हैं। 

ऋषभ पंत 

ऋषभ पंत भी इस कतार में खड़े हैं। ऋषभ पंत ने 2 इंटरनेशनल टी- 20 मैच खेले हैं औऱ इस दौरान उन्होंने 43 रन बनाए हैं। ऋषभ पंत एक युवा विकेटकीपर बल्लेबाज हैं ऐसे में यकिनन कोहली की यंग टीम में फिट बैठते हैं। पंत ने आईपीएल में अबतक 24 मैच खेले हैं और 564 रन बना लिए हैं। ऋषभ पंत का आईपीएल 2017 बेहद ही कमाल का गुजरा था।

आईपीएल 2017 में ऋषभ पंत 14 मैच में 366 रन बनानें में सफल रहे थे। इसके अलावा विजय हजारे ट्रॉफी 2018 में ऋषभ पंत ने 6 मैच की 5 पारियो में 228 रन बनाए हैं जिसमें एक शतक और एक अर्धशतक शामिल है। इन परफॉर्मेंस को देखकर यकिनन ऋषभ पंत भरोसा जगाते हैं।

Sports journalist Vishal