Advertisement
Advertisement

'वो 37 साल का हो गया है और फील्डिंग में भी कमज़ोर है' बॉयकॉट का रोहित पर तीखा हमला

भारत के खिलाफ पहला टेस्ट जीतने के बाद इंग्लैंड के पूर्व खिलाड़ी भारतीय कप्तान रोहित शर्मा पर जमकर ज़ुबानी हमले कर रहे हैं। इसी कड़ी में जेफ्री बॉयकॉट का नाम भी जुड़ गया है।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav January 31, 2024 • 12:29 PM
'वो 37 साल का हो गया है और फील्डिंग में भी कमज़ोर है' बॉयकॉट का रोहित पर तीखा हमला
'वो 37 साल का हो गया है और फील्डिंग में भी कमज़ोर है' बॉयकॉट का रोहित पर तीखा हमला (Image Source: Google)
Advertisement

भारत के खिलाफ पहले टेस्ट में जीत के बाद इंग्लैंड के पूर्व खिलाड़ी भारतीय टीम और कप्तान रोहित शर्मा पर जमकर बयानबाज़ी कर रहे हैं। इसी कड़ी में इंग्लैंड के पूर्व सलामी बल्लेबाज ज्योफ्री बॉयकॉट ने भी रोहित शर्मा को लेकर काफी कुछ कहा है और उनका ये बयान किसी भी भारतीय फैन को पसंद नहीं आएगा। बॉयकॉट का मानना है कि भारतीय कप्तान रोहित शर्मा काफी समय पहले अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर चुके हैं और अब उम्र उनका साथ नहीं दे रही है।

बॉयकॉट का ये भी मानना है कि दूसरे टेस्ट में विराट कोहली और रवींद्र जडेजा की भारी कमी खलेगी। रोहित ने इंग्लैंड के खिलाफ हैदराबाद में पहले टेस्ट की दोनों पारियों में शानदार शुरुआत की लेकिन इसे आगे बढ़ाने में असफल रहे। रोहित साउथ अफ्रीका में भी कुछ खास नहीं कर पाए थे। अफ्रीकी दौरे पर खेली गई चार पारियों में उनका उच्च स्कोर 39 रन ही था।

Trending


द टेलीग्राफ के लिए अपने कॉलम में, बॉयकॉट ने कहा, "उनके कप्तान रोहित शर्मा लगभग 37 साल के हैं और अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर चुके हैं। वो शानदार कैमियो खेलता है, लेकिन चार साल में घरेलू मैदान पर केवल दो टेस्ट शतक बना पाया है। वो मैदान में भी कमजोर हैं। भारत की ये टीम चुनौती के लिए तैयार है और इंग्लैंड के पास 12 वर्षों बाद भारत को भारत में हराने वाली पहली टीम बनने का सुनहरा मौका है। भारत को विराट कोहली की कमी बहुत खल रही है और रवींद्र जडेजा को हैमस्ट्रिंग चोट है और वो दूसरा टेस्ट नहीं खेलेंगे।”

Also Read: Live Score

आगे बोलते हुए बॉयकॉट ने कहा, "जडेजा एक बहुत बड़ा झटका है। वो एक शानदार ऑलराउंडर, शीर्ष गेंदबाज, शानदार क्षेत्ररक्षक हैं और पहले टेस्ट में उनके सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज थे। कोहली उनके महान खिलाड़ी हैं। वो एक शानदार बल्लेबाज हैं, जिनका भारतीय पिचों पर औसत 60 है, लेकिन वो मैदान पर उन्हें जबरदस्त ऊर्जा भी देते हैं। वो एक बड़ी क्षति है और इंग्लैंड को तीसरे टेस्ट के लिए वापस आने से पहले इसका पूरा फायदा उठाना होगा।"

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement
Advertisement