X close
X close

6,6,6,6,6,- हार्दिक पांड्या ने तूफानी पारी में 9 गेंदों में 46 रन ठोककर रचा इतिहास, तोड़ा युवराज सिंह का रिकॉर्ड

हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने गुरुवार (10 नवंबर) को इंग्लैंड के खिलाफ एडिलेड ओवल में खेले गए टी-20 वर्ल्ड कप 2022 के दूसरे सेमीफाइनल में तूफानी पारी से धमाक मचा दिया। 190.91 की स्ट्राईक रेट से बल्लेबाजी करते हुए...

Saurabh Sharma
By Saurabh Sharma November 10, 2022 • 16:50 PM

हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने गुरुवार (10 नवंबर) को इंग्लैंड के खिलाफ एडिलेड ओवल में खेले गए टी-20 वर्ल्ड कप 2022 के दूसरे सेमीफाइनल में तूफानी पारी से धमाक मचा दिया। 190.91 की स्ट्राईक रेट से बल्लेबाजी करते हुए पांड्या ने 33 गेदों में 63 रन की पारी खेली। इस दौरान पांड्या ने चार चौके (16 रन) औऱ पांच छक्के (30 रन) जड़े यानी 46 रन उन्होंने 9 गेंदों बाउंड्रीज से ही बना डाले। 

पांड्या की शुरूआत धीमी थी और पहली 15 गेंद में वह सिर्फ 11 रन बना पाए थे। इसके बाद उन्होंने अगली 17 गेंद में 50 रन ठोक डाले। पांड्या ने 29 गेंदों में टी-20 वर्ल्ड कप इतिहास में अपना पहला अर्धशतक बनाया। हालांकि भारतीय पारी की आखिरी गेंद पर वह दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से हिटविकेट हो गए। वह पहले भारतीय खिलाड़ी हैं जो टी-20 वर्ल्ड कप में हिट विकेट आउट हुए हैं। 

Trending


तोड़ा युवराज सिंह का रिकॉर्ड

भारत के लिए टी-20 वर्ल्ड कप में नंबर 5 या उससे नीचे बल्लेबाजी करते हुए खेली गई यह सबसे बड़ी पारी है। इससे पहले यह रिकॉर्ड युवराज सिंह के नाम था, जिन्होंने 2007 टी-20 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के खिलाफ डरबन में हुए मैच में 58 रन बनाए थे।न 

एक साल में 500 रन

पांड्या पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं, जिन्होंने नंबर 5 या उससे नीचे बल्लेबाजी करते हुए एक साल में 500 या उससे ज्यादा रन बनाए हैं। 

Also Read: क्रिकेट के दिलचस्प किस्से

हालांकि पांड्या की तूफानी पारी भारत की जीत के लिए नाकाफी साबित हुआ। एलेक्स हेल्स औऱ जोस बटलर की तूफानी पारी के दम पर इंग्लैंड ने भारत दो दस विकेट से रौंदकर फाइनल में प्रवेश कर लिया। भारत के 168 रनों के जवाब में इंग्लैंड ने बिना कोई विकेट गवाएं 16 ओवरों में ही जीत हासिल कर ली। हेल्स ने 47 गेंदों में चार चौकों और सात छक्कों की मदद से नाबाद 86 रन की पारी खेली। वहीं बटलर ने 49 गेंदों में नाबाद 80 रन बनाए, जिसमें उन्होंने चौके और तीन छ्क्के जड़े।