X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

वेस्टइंडीज के खिलाफ मैन ऑफ द मैच का खिताब जीतने पर रहाणे ने अवार्ड इन लोगों को किया समर्पित

by Vishal Bhagat Aug 26, 2019 • 12:46 PM

नोर्थ साउंड (एंटिगा), 26 अगस्त | वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट में शतक लगाने वाले भारतीय टीम के उप-कप्तान अंजिक्य रहाणे ने अपने इस सैंकड़े को विशेष बताया है। रहाणे ने 17 टेस्ट मैच के बाद खेल के सबसे लंबे प्रारुप में शतक जमाया है। 

अपनी शानदार पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुने गए रहाणे ने कहा, "मैं काफी विशेष महसूस कर रहा हूं। मुझे लगता है कि हमारे लिए पहली पारी काफी अहम थी। मेरे और लोकेश राहुल के बीच में हुई साझेदारी ने अच्छा काम किया। इससे पहले मैं हैम्पशायर के लिए काउंटी क्रिकेट खेल रहा था जिससे मुझे मदद मिली।"

रहाणे ने अपने अवार्ड को अपने समर्थकों को समर्पित किया।

उन्होंने कहा, "पिछले तकरीबन दो साल में जिन लोगों ने मेरा समर्थन किया मैं यह अवार्ड उन्हें समर्पित करता हूं। विकेट काफी अच्छी थी। हम जानते थे कि अगर हम विकेट पर टिके रहे तो रन अपने आप आएंगे। रणनीति सिर्फ बल्लेबाजी करने की थी।"

बल्ले से रहाणे तो गेंद से जसप्रीत बुमराह ने अपना कमाल दिखाया और दूसरी पारी में सात रन देकर पांच विकेट लिए।

बुमराह ने अपने प्रदर्शन पर कहा, "जीत कर अच्छा लग रहा है। एक गेंदबाजी ईकाई के तौर पर हमने दबाव बनाया जो अच्छा रहा। हमने हवा का फायदा उठाया और अपनी रणनीति पर बने रहे। आउटस्विंगर डालने में काफी मेहनत लगती है। मेरे पास इनस्विंगर पहले से थी, लेकिन मैं जितना खेलता गया उतना इसे लेकर आत्मविश्वास आता गया।"

उन्होंने कहा, "इंग्लैंड में ड्यूक गेंद से खेलने से मदद मिली। इससे मेरा आत्मविश्वास बढ़ा है और मैं हमेशा से नई चीजें करने की कोशिश करता हूं। अगर गेंद स्विंग नहीं करती है तो मैं कोशिश करता हूं कि सीम से गेंद को मूव करा सकूं।"