X close
X close
Indibet

IND vs AUS: गति में लगातार बदलाव और सही दिशा में गेंदबाजी करने से मुझे फायदा मिला: मोइसेस हेनरिक्स

IANS News
By IANS News
November 29, 2020 • 22:21 PM View: 398

चोटिल आलराउंडर मार्कस स्टोयनिस की जगह भारत के खिलाफ खेले गए दूसरे वनडे के लिए आस्ट्रेलियाई टीम में शामिल किए गए मोइजेस हेनरिक्स ने गेंदबाजी और फील्डिंग में शानदार प्रदर्शन किया। 33 साल के आलराउंडर हेनरिक्स ने गेंदबाजी में 4.9 के इकॉनॉमी से रन दिए और श्रेयस अययर का विकेट लिया। इसके बाद उन्होंने फील्डिंग में भी बेहतरीन प्रदर्शन किया।

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम में तीन साल बाद वापसी करने वाले हेनरिक्स जोश हेजलवुड की गेंद पर विराट कोहली का अविश्वसनीय कैच लपका। विराट कोहली उस वक्त 89 रन पर थे और वो पूरी तरह सेट हो चुके थे।

Trending


कोहली ने हेजलवुड की गेंद पर पुल शॉट खेला और गेंद मिडविकेट पर हवा में गई। वहां तैनात हेनरिक्स ने अपने बाएं ओर जबर्दस्त डाइव लगाकर तेजी से जा रही गेंद को लपक लिया।

हेनरिक्स ने कहा कि गति में बदलाव के साथ गेंदबाजी करना अहम था। गेंदबाज ने कहा कि उन्होंने लेंथ के बीचों बीच गेंदबाजी की।

हेनरिक्स ने कहा, "मैंने बेहतर लेंथ के साथ सही एरिया में गेंदबाजी की। एक ऐसी लेंथ पर गेंदबाजी करना चाहता था, जहां वह हिट न कर सके। आमतौर आप गति में बदलाव के साथ गेंदबाजी करना चाहते हैं।"

भारतीय गेंदबाज हार्दिक पांड्या ने केवल चार ओवर की गेंदबाजी की, क्योंकि उनके लेंथ में निरंतरता नहीं थी। कप्तान विराट कोहली ने भी माना कि भारतीय गेंदबाज सही एरिया में गेंदबाजी नहीं कर सके।

उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि हम गेंद से ज्यादा प्रभावी नहीं थे। हमने लगातार अच्छे क्षेत्रों में गेंदबाजी नहीं की। उनका बल्लेबाजी क्रम मजबूत है और वह जानते हैं कि एंगल क्या है। उनका टोटल काफी ज्यादा था।"

जब राहुल से पूछा गया कि क्या गेंदबाजों ने संघर्ष किया? तो उन्होंने कहा, "संघर्ष सही शब्द नहीं होगा, लेकिन हां, हमने स्थिति से जल्दी तालमेल नहीं बैठाया। जैसा मैंने कहा, यह हमारे गेंदबाजों के लिए सीखने वाली बात है कि वह कितनी जल्दी तालमेल बैठाते हैं और विकेट लेते हैं और एक गेंदबाजी ईकाई के तौर पर सीखते हैं।"


 
Article