X close
X close
Indibet

IND vs AUS: ऑस्ट्रेलिया के लिए मुश्किलें पैदा कर सकते है शमी और बुमराह, कैमरून ग्रीन ने अनुभव की कमी को बताया वजह

IANS News
By IANS News
December 09, 2020 • 15:45 PM View: 325

आस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम में जो नौ बल्लेबाज हैं, उनमें से सिर्फ दो- ट्रेविस हेड और टिम पेन ने टेस्ट स्तर पर जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी युक्त भारतीय गेंदबाजी आक्रमण को खेला है।

भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा कि वह तीनों प्रारूपों में खेलने वाले जैसे वह खुद, बुमराह और शमी को काम के बोझ के कारण दूसरे वार्मअप में आराम दे सकते हैं। आस्ट्रेलिया के कैमरून ग्रीन और सलामी बल्लेबाज जोए बर्न्‍स ने माना कि उन्हें भारत के मुख्य गेंदबाजों के खिलाफ अभ्यास करने का मौका नहीं मिला।

Trending


ग्रीन ने बुधवार को बुमराह जैसे गेंदबाज का सामना करने की चुनौती पर बात की। उन्होंने कहा कि बुमराह का गेंदबाजी एक्शन अलग है और इसलिए यह चुनौतीपूर्ण हो सकता है, लेकिन उन्होंने साथ ही माना कि कुछ गेंद खेलने के बाद वह इसके आदि हो जाएंगे।

ग्रीन ने बुधवार को मीडिया से बात करते हुए कहा, "मैं कुछ दिनों में गुलाबी गेंद से उनका सामना करूंगा (सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर दूसरे अभ्यास मैच में)। यह मेरे लिए और कुछ अन्य खिलाड़ियों के लिए नई चुनौती होगी। आप उनको समझने में कुछ समय लेते हो, वह विश्व स्तर के गेंदबाज हैं। आपको उनका सामना करने के लिए अपने खेल को अलग स्तर पर ले जाना होता है और कड़ी मेहनत करनी होती है। आप जितना उनका सामना करोगे उतना आपके लिए आसान हो जाएगा। मैं यही सोच के साथ मैच में जाऊंगा।"

आस्ट्रेलिया के लिए चुनौती यह है कि उसके मुख्य बल्लेबाज स्टीव स्मिथ ने भी बुमराह और शमी को एक साथ नहीं खेला है। स्मिथ पिछली बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में टीम में नहीं थे।

इसलिए काफी कुछ इस बात पर निर्भर करता है कि हेड और पेन कैसे दूसरे खिलाड़ियों की मदद करते हैं।

कोहली ने मंगलवार को कहा था कि बुमराह और शमी को संभालना काफी अहम है।

उन्होंने कहा, "जो खिलाड़ी मेरी तरह तीनों प्रारूपों में खेलते हैं, उनके लिए वर्कलोड मैनेजमेंट काफी अहम है, क्योंकि आपने 12 दिनों में छह मैच खेले हैं। शमी और बुमराह जैसे गेंदबाजों के लिए जरूरी है कि वह अपने शरीर का ख्याल रखें। सबसे अहम है कि आपको शारीरिक तौर पर तारोताजा होना चाहिए। आपको अपनी पूरी फिटनेस में होना चाहिए।"

भारतीय कप्तान ने कहा था कि वह नहीं चाहते कि खिलाड़ी पहले टेस्ट में दर्द के साथ जाए।

उन्होंने कहा, "आपको यह समझना होगा कि आपको पहले टेस्ट के लिए तरोताजा खिलाड़ी चाहिए और इस संबंध में आपको कुछ फैसले लेने होते हैं। हमने काफी कम समय में छह मैच खेले हैं। हम नहीं चाहते कि पहले टेस्ट मैच की शुरुआत में हमारे खिलाड़ियों की दर्द की शिकायत हो।"


 
Article