X close
X close
Indibet

IND vs AUS : तीसरे वनडे के बाद रविंद्र जडेजा ने किया खुलासा, कहा- 'दूसरे मैच में कैच छूटने के बाद पूरी रात सो नहीं सका था'

Shubham Sharma
By Shubham Sharma
December 03, 2020 • 13:57 PM View: 493

भारतीय टीम को तीसरे वनडे में जीत दिलवाने के बाद ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा ने खुलासा किया है कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चल रही सीरीज़ के दूसरे एकदिवसीय मैच में मारनस लाबुशाने का कैच छोड़ने के बाद वह सो नहीं पाए थे। उन्होंने भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही तीन मैचों की वनडे सीरीज के आखिरी एकदिवसीय मैच के बाद सोनी स्पोर्ट्स नेटवर्क के साथ बात की और इस दौरान यह खुलासा किया।

इस दौरान जडेजा से विराट कोहली द्वारा उनका स्पैल एक ही बार में खत्म करवाने के फैसले के बारे में भी पूछा गया। आपको बता दें कि जडेजा ने अपना 10 ओवर का स्पैल एक ही बार में खत्म कर दिया था जबकि कप्तान कोहली ने अन्य गेंदबाजों से तीन से चार स्पैल में गेंदबाजी करवाई थी।

Trending


इस सवाल के जवाब में जडेजा ने कहा कि हमारा इरादा था कि दूसरे पावरप्ले में अधिक से अधिक ओवर जल्दी से जल्दी खत्म किए जाएं क्योंकि उस दौरान 30-गज के घेरे में आपको पांच क्षेत्ररक्षकों को सर्कल के अंदर रखने होते हैं।

भारतीय स्टार ऑलराउंडर ने कहा, "यह केवल इतना है कि मैं बीच के ओवरों में कितनी जल्दी से कितने ज्यादा ओवर गेंदबाजी कर सकता हूं, यह अच्छा है। पांच क्षेत्ररक्षकों के प्रतिबंध के कारण, यह बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि बल्लेबाज अंत में बड़े शॉट खेलने की कोशिश करते हैं।"

रवींद्र जडेजा ने कहा कि रनों को रोककर रखने के अलावा, वह एक-दो विकेट लेने के लिए तैयार रहते हैं। उन्होंने कहा, "इसलिए जितने ओवर मैं बिना रन दिए बीच के ओवरों में डाल सकता हूं, यह टीम के लिए अच्छा है और एक या दो विकेट लेने की कोशिश भी करता हूं।"

पिछले कुछ मैचों में मैदान पर उनसे कैच छूट रहे थे और फील्डिंग में भी वो थोड़े ढीले नजर आ रहे थे। ऐसे में रवींद्र जडेजा से यह भी पूछा गया कि कुलदीप यादव की गेंदबाजी पर शानदार कैच लेने के बाद उन्होंने राहत महसूस की या नहीं ? 

भारत के इस क्षेत्ररक्षक ने जवाब दिया कि वह पिछले मैच में कैच छोड़ने के बाद से ही सो नहीं पा रहा था। जडेजा ने कहा, "बिल्कुल, जब मैंने पिछले मैच में कैच छोड़ा था, तो मैं पूरी रात सो नहीं सका था। जैसे ही मैंने अपनी आँखें बंद की, कैच मेरे सामने आ रहा था।"
 


 
Article