X close
X close

IPL 2020: मोहम्मद शमी ने की केएल राहुल और कोच कुंबले की तारीफ, कहा दोनों ने खिलाड़ियों की बीच समझ बढ़ाई है

By Shubham Shah
Oct 03, 2020 • 15:39 PM

भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी आईपीएल के 13वें सीजन में किंग्स इलेवन पंजाब के लिए अब तक बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं। वह चार मैचों में अब तक आठ विकेट ले चुके हैं और मौजूदा समय में उनके पास पर्पल कैप है, जोकि लीग में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों को दी जाती है। शमी का मानना है कि किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाड़ियों के बीच काफी समझ है और इससे उन्हें एक टीम के रूप में बेहतर प्रदर्शन करने में मदद मिली है। हालांकि किंग्स इलेवन पंजाब ने चार मैचों में अब तक केवल एक ही मैच जीता है।

शमी ने एम्सट्रेड इनसाइस्पोर्ट फेस टू फेस में कहा, " मैं लोकेश राहुल के साथ खेल चुका हूं और मैंने अनिल कुंबले सर के साथ काफी लंबे समय से काम किया है। मेरा मानना है कि अगर आपके पास लंबे समय से वह समझ हो तो एक कप्तान के लिए एक खिलाड़ी को प्रबंधित करना आसान हो जाता है।"
उन्होंने कहा, " टीम में कई सारे ऐसे खिलाड़ी हैं, जो एक दूसरे को अच्छी तरह से जानते हैं। आपको केवल उन्हें एक बार बताना होगा और वे समझ जाएंगे कि वे क्या करने की कोशिश कर रहे हैं। इससे हमें एक टीम के रूप में अच्छा प्रदर्शन करने में मदद मिली है और एक व्यक्ति को एक कप्तान के रूप में सामने आना पड़ा है और राहुल इसके लिए एकदम सही व्यक्ति हैं। वह हमारे कीपर है जो उन्हें हर किसी के बारे में स्पष्ट राय रखने की अनुमति देता है।"

Also Read: IPL 2020: रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ राजस्थान रॉयल्स ने टॉस जीतकर चुनी बल्लेबाजी,जानें प्लेइंग XI

भारतीय टीम के मौजूदा तेज गेंदबाजी आक्रमण को बढ़ावा देने में विराट कोहली की भूमिका के बारे में पूछे जाने पर शमी ने कहा कि इसके लिए सभी कप्तान की तारीफ कर रहे थे।

उन्होंने कहा, " मुझे लगता है कि इंटरनेशनल क्रिकेट में तेज गेंदबाज निश्चित रूप से अच्छा प्रदर्शन करेंगे, जब उनके पास कप्तान का समर्थन होगा और वह एक ऐसे व्यक्तित्व हैं।"

उन्होंने कहा, "विराट चुनौती लेना पसंद करते है। वह जो चाहते हैं उससे स्पष्ट है और वह हमें अपनी ताकत से खेलने की आजादी देते है। साथ ही वह हमारे फैसलों के भी पीछे खड़े रहते हैं। इससे हमें बेहतर प्रदर्शन करने में मदद मिली है।"

उन्होंने कहा, "सबसे बड़ा कारक टीम में प्रेरणा और फिटनेस की संस्कृति है। हमारे पास छह-सात तेज गेंदबाजों की एक इकाई है जो पिछले पांच साल से खेल रहे हैं। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप किसे चुनते हैं, वे अपना शतफीसदी देंगे।"