X close
X close

IPL 2020: पहले पायदान की लड़ाई के लिए भिड़ेगी दिल्ली और मुंबई इंडियंस, देखें दोनों टीमों का संभावित प्लेइंग इलेवन

By Shubham Shah
Oct 10, 2020 • 18:46 PM

आईपीएल के 13वें संस्करण की दो दमदार टीमें मुंबई इंडियंस और दिल्ली कैपिटल्स रविवार को जब शेख जाएद स्टेडियम में आमने-सामने होंगी तो श्रेष्ठता की जंग देखने को मिलेगी। इस सीजन में अभी तक इन दोनों टीमों ने अपना दबदबा दिखाया है और शीर्ष-2 में यह दोनों बनी हुई हैं। अब जब यह दोनों टीमें आमने-सामने होंगी तो रोमांच अपनी चरम सीमा पर होगा और क्रिकेट का स्तर भी। फैन्स को कांटे की टक्कर मिले, इस बात की पूरी उम्मीद है।

दोनों टीमें संतुलित हैं। बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग तीनों जगह दोनों टीमें अच्छी हैं। मैच के दिन जो टीम बड़े मैच के दबाव को झेल पाने में सक्षम साबित होगी वो जीत हासिल करेगी।

Also Read: फाफ डु प्लेसिस और क्रुणाल पांड्या का ये नया लुक हो रहा है वायरल, आप भी देखिये ये वीडियो

दिल्ली के बल्लेबाजों को पिछले मैच को भूल एक नई शुरूआत करनी होगी। राजस्थान के खिलाफ पृथ्वी शॉ, शिखर धवन, कप्तान श्रेयस अय्यर और ऋषभ पंत का बल्ला नहीं चला था। धवन अभी तक कोई बड़ी पारी नहीं खेल पाए हैं लेकिन शॉ, पंत और अय्यर फॉर्म में हैं। इन तीनों में से अगर कोई भी चल गया तो दिल्ली के लिए बड़ा स्कोर करना आसान होगा।

लेकिन जसप्रीत बुमराह और ट्रेंट बोल्ट जैसे दिग्गजों के सामने इन बल्लेबाजों के लिए यह आसान नहीं होगा। इन दोनों के पास अनुभव है जो युवा जोश पर भारी पड़ सकता है।

इसलिए दिल्ली के शीर्ष क्रम को इस मैच में अपने अनुभवी बल्लेबाज धवन से रन की ज्यादा उम्मीद होगा ताकि वह टीम को संभाल सकें और इन युवाओं को साथ लेकर चल मुंबई के अनुभवी गेंदबाजों को सफल होने से रोक सकें।

इस सीजन दिल्ली को बल्लेबाजी में काफी गहराई मिली है जो उसे मार्कस स्टोयनिस और शिमरन हेटमायेर ने दी है। राजस्थान के खिलाफ जब टॉप ऑर्डर फेल हो गया था तब इन दोनों ने ही टीम को 180 के पार पहुंचाया था।

स्टोयनिस खासकर काफी खतरनाक फॉर्म में हैं। वो टीम को संभाल भी रहे हैं और तेजी से रन बनाने की काबिलियत भी रखते हैं। डेथ ओवरों में उन्हें पोलार्ड और बुमराह की जोड़ी का सामना करना होगा। यह स्टोयनिस के लिए परीक्षा होगी जिसमें वो पास होते हैं या फेल वो मैच में पता चलेगा।

मुंबई के पास बुमराह और बोल्ट हैं तो दिल्ली के पास कैगिसो रबादा और एनरिक नॉर्खिया। इन दोनों की जोड़ी ने दिल्ली की गेंदबाजी को मजबूती दी है। इन दोनों के सामने रोहित शर्मा जैसा विश्व स्तरीय बल्लेबाज होगा तो क्विंटन डी कॉक का सामना भी इन्हें करना होगा। यह दोनों बल्लेबाज फॉर्म में हैं और दिल्ली अगर इन दोनों को जल्दी आउट कर लेती है तो मुंबई पर दबाव बढ़ जाएगा।

टीम के पास हालंकि फायर पावर है और शुरूआती झटकों से उबराने के लिए उसके पास सूर्यकुमार यादव का अनुभव और ईशान किशन का जोश है। दोनों ने साबित किया है कि वह टीम की नैया पार लगा सकते हैं।

रविचंद्रन अश्विन का रोल इस मैच में ज्यादा अहम हो जाएगा। वो जानते हैं कि तूफानी बल्लेबाजों को कैसे रोका जाता है। देखा गया है कि अय्यर शुरूआती ओवरों में ही अश्विन को लगा देते हैं और अश्विन विकेट भी निकाल लेते हैं। रबादा और एनरिक के साथ अश्विन के जिम्मे मुंबई के इन चार बल्लेबाजों को सस्ते में समेटने की जिम्मेदारी होगी।

लेकिन निचले क्रम में मुंबई के पास हार्दिक पांड्या, उनके भाई कूणाल पांड्या और पोलार्ड हैं जो किसी भी मजबूत गेंदबाजी आक्रमण को धराशायी कर सकते हैं। एक लिहाज से देखा जाए तो दोनों टीमों के बीच यही सबसे बड़ा अंतर है।

दिल्ली के पास निचले क्रम में स्टोयनिस और हेटमायेर तो हैं लेकिन पोलार्ड और हार्दिक के मुकाबले वो एक कदम पीछे ही हैं। यहां दिल्ली को परेशानी हो सकती है। उसके लिए इन दोनों को रोकना बड़ी चुनौती होगी।

दोनों टीमों का संभावित प्लेइंग इलेवन -

मुंबई इंडियंस - रोहित शर्मा (कप्तान), क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), सूर्यकुमार यादव, इशान किशन, हार्दिक पांड्या, कीरोन पोलार्ड, क्रुनाल पांड्या, जेम्स पैटिनसन, राहुल चाहर, ट्रेंट बोल्ट , जसप्रित बुमराह

दिल्ली कैपिटल्स  - पृथ्वी शॉ, शिखर धवन, श्रेयस अय्यर (कप्तान), ऋषभ पंत (विकेटकीपर), मार्कस स्टोइनिस, शिम्रोन हेटिमर, रविचंद्रन अश्विन, एक्सिस पटेल, हर्षल पटेल, कागिसो रबाडा, एनरिक नार्जे