Advertisement
Advertisement

रिंकू सिंह:'पापा ने 2-3 दिनों से कुछ नहीं खाया', 2 रन लेते वक्त गिरा तो IPL के बारे में सोचा

रिंकू सिंह ने आईपीएल 2022 में अपनी बल्लेबाजी से काफी प्रभावित किया। रिंकू सिंह ने आईपीएल 2022 में 7 मैचों में 148.72 के स्ट्राइक रेट से 174 रन बनाए हैं।

Prabhat  Sharma
By Prabhat Sharma May 19, 2022 • 14:27 PM
Cricket Image for Kkr Player Rinku Singh Talks About His Struggling Days
Cricket Image for Kkr Player Rinku Singh Talks About His Struggling Days (Rinku Singh)
Advertisement

रिंकू सिंह (Rinku Singh) सुर्खियों में हैं। कोलकाता नाइट राइडर्स के इस बल्लेबाज ने लखनऊ सुपर जायंट्स के खिलाफ 15 गेंदों में दो चौके और चार छक्कों की मदद से 40 रन बनाए और लगभग-लगभग टीम को अकल्पनीय जीत दिला दी थी। केकेआर इस मुकाबले को भले ही 2 रनों से हार गई हो लेकिन रिंकू सिंह ने अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी से दिल जीत लिया। रिंकू सिंह ने उन पलों को याद किया जब चोटों की चिंता ने उनके लिए जीवन कठिन बना दिया था।

रिंकू सिंह ने स्वीकार किया है कि उनके करियर के पिछले पांच साल कठिन रहे हैं, लेकिन उन्होंने अपना आत्मविश्वास बनाए रखा। फ्रैंचाइज़ी द्वारा शेयर किए गए वीडियो में रिंकू सिंह ने कहा, 'वो पांच साल मेरे लिए वाकई मुश्किल भरे थे। पहले साल के बाद, जब मुझे केकेआर के लिए चुना गया और खेलने का मौका मिला तब मैं अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सका था।'

Trending


रिंकू सिंह ने आगे कहा, 'मैंने प्रदर्शन अच्छा नहीं किया था लेकिन फिर भी केकेआर ने मुझ पर बहुत भरोसा किया और अगले कुछ सीज़न के लिए रिटेन किया। मैंने अपनी बॉडी लैंग्वेज को मजबूत बनाए रखने के लिए कड़ी ट्रेनिंग की। टीम ने कभी नहीं सोचा था कि मैं डाउन हूं। पिछला साल मेरे लिए काफी कठिन था क्योंकि विजय हजारे ट्रॉफी के दौरान मेरे घुटने में चोट लग गई थी।'

रिंकू सिंह ने कहा, 'जिस वक्त 2 रन लेते वक्त मैं गिरा मुझे चोट लगी मैंने आईपीएल के बारे में सोचा था। उन्होंने मुझसे कहा कि मुझे ऑपरेशन की जरूरत है और ठीक होने में 6-7 महीने लगेंगे। मैं इतने लंबे समय तक क्रिकेट से दूर रहकर खुश नहीं था। मेरे पापा ने 2-3 दिनों से कुछ नहीं खाया था। मैंने उनसे कहा कि यह सिर्फ एक चोट है और यह क्रिकेट का हिस्सा है।'

यह भी पढ़ें: नो बॉल पर आउट हुए थे रिंकू सिंह, अंपायरिंग को लोग बोल रहे हैं 'घटिया'

रिंकू सिंह ने कहा, 'मैं अपने घर का एकमात्र कमाने वाला हूं और जब ऐसी चीजें होती हैं, तो चिंता होना तय है। मैं थोड़ा दुखी था, लेकिन मुझे पता था कि मैं जल्दी ठीक हो जाऊंगा क्योंकि मुझमें बहुत आत्मविश्वास था।'

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement
Advertisement
Advertisement