शुभमन गिल और कप्तान दिनेश कार्तिक की पारी के बदौलत केकेआर ने चेन्नई सुपरकिंग्स को 6 विकेट से दी मात
X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

शुभमन गिल और कप्तान दिनेश कार्तिक की पारी के बदौलत केकेआर ने चेन्नई सुपरकिंग्स को 6 विकेट से दी मात

by Vishal Bhagat May 03, 2018 • 23:56 PM

3 मई, कोलकाता (CRICKETNMORE)। युवा बल्लेबाज शुभमन गिल (नाबाद 57) और कप्तान दिनेश कार्तिक (नाबाद 45) की सुलझी हुई पारियां गुरुवार को चेन्नई सुपर किंग्स पर भारी पड़ गईं। इन दोनों के दम पर कोलकाता नाइट राइडर्स ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण के मैच में छह विकेट से शानदार जीत दर्ज कर चेन्नई के विजयी रथ को रोक दिया। स्कोरकार्ड

ईडन गार्डन्स स्टेडियम में खेले गए इस मैच में चेन्नई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में पांच विकेट खोकर 177 रन बनाए। मेजबान कोलकाता ने इस लक्ष्य को 17.4 ओवरों में चार विकेट खोकर हासिल कर लिया। 

शुभमन ने अपनी अर्धशतकीय पारी में 36 गेंदों का सामना किया और छह चौकों के अलावा दो छक्के लगाए। कप्तान कार्तिक ने 18 गेंदों पर सात चौके और एक छक्का लगाया। दोनों ने मुश्किल समय में पांचवें विकेट के लिए 83 रनों की साझेदारी कर टीम को जीत दिलाई।   आईपीएल के 8 कप्तानों की हॉट वाइफ्स और गर्लफ्रेंड,देखें PICS 

यह साझेदारी तब आई जब मेजबान टीम ने अपने चार विकेट 97 रनों पर ही खो दिए थे। क्रिस लिन ने पहले ओवर में लुंगी नगिदी पर दो शानदार छक्के जड़े, लेकिन आखिरी गेंद पर शेन वाटसन के हाथों लपके गए। उनके साथ पारी की शुरुआत करने आए सुनील नरेन दूसरे छोर से आक्रामक रुख अखित्यार किए हुए थे। उन्होंने 20 गेंदों में चार चौके और दो छक्कों की मदद से तेजी से 32 रन बनाए।

नरेन को हालांकि के.एम. आसिफ द्वारा फेंके गए दूसरे ओवर में रवींद्र जडेजा ने दो जीवनदान दिए। इसी बीच रोबिन उथप्पा (6) को आसिफ ने ड्वायन ब्रावो का हाथों कैच करा 40 के कुल स्कोर पर पवेलियन भेज दिया था। सातवें ओवर की चौथी गेंद पर जडेजा ने अपनी गलती सुधारी और नरेन को ब्रावो के हाथों कैच करा चेन्नई को थोड़ी राहत दी, लेकिन नरेन जिस काम के लिए आए थे वो कर गए थे।

नितीश राणा के स्थान पर आए रिंकू सिंह 16 रनों का योगदान दे सके। यहां से शुभमन और कप्तान ने मोर्चा संभाला और अपने अंदाज में ही बल्लेबाजी करते हुए कोलकाता को जीत दिलाई। 

इससे पहले चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने अंत में आकर 25 गेंदों में चार छक्के और एक चौके की मदद से नाबाद 43 रनों की पारी खेले टीम को चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुंचाया। 

चेन्नई को एक बार फिर अच्छी शुरुआत मिली। फाफ डु प्लेसिस (27) और वाटसन (36) की सलामी जोड़ी ने टीम को पांच ओवरों में 48 के स्कोर तक पहुंचा दिया था। डु प्लेसिस अगले ओवर में पीयूष चावला की पहली गेंद पर बोल्ड हो गए। 

सुरेश रैना ने वाटसन का अच्छा साथ दिया और दूसरे विकेट के लिए 43 रनों की साझेदारी की। 91 के कुल स्कोर पर वाटसन एक बड़ा शॉट मारने के प्रयास में नरेन की गेंद पर शिवम मावी को कैच दे बैठे।

सुरेश रैना अपने पुराने अंदाज में नजर आ रहे थे। उन्होंने अपनी पारी में चार चौके लगाए, लेकिन जैसे ही वह लय पकड़ रहे थे तभी कुलदीप यादव की गेंद पर सीमा रेखा के पास मिशेल जॉनसन द्वारा लपक लिए गए। रैना ने 26 गेंदों में 31 रनों की पारी खेली। 

इस सीजन में बल्ले से बेहतरीन फॉर्म में चल रहे अंबाती रायुडू ने 17 गेंदों में तीन चौकों की मदद से 21 रन बनाए। रायुडू के जाने के बाद धौनी ने रवींद्र जडेजा के साथ पांचवें विकेट के लिए 54 रनों की साझेदारी कर टीम का स्कोर 174 तक पहुंचा दिया। इस साझेदारी में सिर्फ 12 रन ही जडेजा के थे। जडेजा का विकेट आखिरी ओवर की पांचवीं गेंद पर गिरा।  कोलकाता के लिए चावला और नरेन ने दो-दो विकेट लिए। कुलदीप यादव को एक सफलता मिली।