X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

KXIP के कोच बननें के बाद अनिल कुंबले का आया बयान, बताई इस बार IPL में कैसी रहेगी रणनीति !

by Vishal Bhagat Oct 16, 2019 • 17:33 PM

नई दिल्ली, 16 अक्टूबर । हाल ही में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की फ्रेंचाइजी किंग्स इलेवन पंजाब के डायरेक्टर ऑफ क्रिकेट ऑपरेशन नियुक्त किए गए भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और कोच अनिल कुंबले का ध्यान लीग के आगामी सीजन में टीम को हर विभाग में मजबूत बनाना और प्रदर्शन में निरंतरता लाने पर होगा ताकि टीम वो कर सके तो बीते 12 सीजन में नहीं कर पाई।

पंजाब ने आईपीएल में अभी एक भी बार खिताब नहीं जीता है। वह 2014 में लीग के फाइनल में पहुंची थी, लेकिन कोलकाता नाइट राइडर्स से हार गई थी। पंजाब ने इस साल माइक हेसन को हटा कुंबले को टीम की जिम्मेदारी सौंपी है और कुंबले की कोशिश होगी कि वह टीम के खिताबी सूखे को खत्म करें।

पंजाब ने बुधवार को टीम के प्रायोजक ईबिक्सकैश कंपनी के साथ मिलकर टीम की जर्सी लांच की। कार्यक्रम से इतर कुंबले ने आगामी सीजन को लेकर टीम के बारे में आईएएनएस से बात की। कुंबले से हालांकि जब भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के नए अध्यक्ष सौरभ गांगुली को लेकर प्रतिक्रिया देने को कहा गया तो उन्होंने कहा, "हम इस पर बाद में बात करेंगे।"

ऐसी खबरें थी कि बीते दो सीजन पंजाब की कप्तानी कर चुके रविचंद्रन अश्विन को टीम दिल्ली कैपिल्टस में ट्रेड कर सकती है, लेकिन हाल ही मीडिया रिपोटर्स के मुताबिक टीम ने अपना इरादा बदल लिया है और अश्विन को टीम के साथ बनाए रखने का फैसला किया है।

अश्विन को लेकर किए गए सवाल पर कुंबले ने कहा, "मुझे लगता है कि इस पर अभी तक कोई अंतिम फैसला नहीं लिया गया है। मैं अभी पिछले सप्ताह ही टीम के साथ जुड़ा हूं। हमें आने वाले समय में पता चलेगा कि हम क्या फैसले लेने वाले हैं। हमारी टीम क्या होगी, हम किसे रिटेन करेंगे, किसे खरीदेंगे मैं अभी तक इस मामले की बारीकियों में नहीं गया हूं।"

कुंबले टीम में सिर्फ एक-दो कमियों को दूर करने के बारे में नहीं सोच रहे हैं। उनका ध्यान हर विभाग में मजबूत टीम बनाने पर है साथ ही अच्छा बैकअप तैयार करने पर भी।

कुंबले ने कहा, "कुछ गैप हैं जिन्हें भरने की जरूरत है। यह अंतिम-11 में सिर्फ एक या दो जगह भरने की बात नहीं है। सिर्फ अंतिम-11 की नहीं बल्कि हमें बैकअप खिलाड़ी भी चाहिए होंगे। हमारे पास टीम में कुछ प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं लेकिन हमें फिर भी वो गैप भरने होंगे। नीलामी अभी कुछ दिन दूर है। हमारे पास अभी समय है। मैं अभी आया हूं मेरे लिए टीम को समझने में अभी समय लगेगा।"

बीते सीजन को अगर देखा जाए तो टीम के शीर्ष क्रम ने शानदार प्रदर्शन किया था लेकिन मध्य क्रम मजबूत न होने और अच्छे फिनिशरों की कमी पंजाब को खली थी। साथ ही तेज गेंदबाजी में मोहम्मद शमी के अलावा टीम के पास कोई मजबूत विकल्प नहीं था।

इस पर पूछे गए सवाल पर पूर्व लेग स्पिनर ने कहा, "ध्यान पूरी टीम को सभी विभागों में मजबूत करने पर होगा, गेंदबाजी, बल्लेबाजी, फील्डिंग, अनुभव, युवा जो टीम में अच्छा योगदान दे सकते हैं, कुछ बिग हिटर्स। कोई आइडियल टीम नहीं होती है क्योंकि नीलामी में आपको आपकी आइडियल टीम नहीं मिलती है। आपको नीलामी में थोड़ा स्मार्ट होना पड़ता है। हमें अपने तेज गेंदबाजी, स्पिन गेंदबाजी, बल्लेबाजी मजबूत करना है। साथ ही मुझे लगता है कि अनुभव भी टीम में लेकर आना है।"

अश्विन की कप्तानी में खेल रही पंजाब ने बीते दो सीजनों में शुरुआत तो अच्छी की लेकिन लीग के दूसरे हाफ में वह निरंतरता नहीं रख पाई और पिछड़ गई। कुंबले का मानना है कि टी-20 में निरंतरता बनाए रखना काफी मुश्किल होता लेकिन वह पूरी कोशिश करेंगे कि टीम यहां भी सफलता हासिल करे।

पूर्व में मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के साथ काम कर चुके कुंबले ने कहा, "टी-20 फॉर्मेट में निरंतरता बनाए रखना आसान नहीं होता है क्योंकि दो टीमों के अंतर काफी बारीक होता है। इस मायने में देखें तो हमें सभी चीजों पर ध्यान देना है, यही हमारी प्राथमिकता होगी। यह सिर्फ अनुभव की ही बात नहीं है। हमें जरूरी स्किल्स की भी जरूरत होगी। मैं पीछे नहीं देखना चाहता हूं मैं आगे की तरफ देखना चाहता हूं। मैं एक ऐसी टीम बनाना चाहता हूं जो न सिर्फ एक सीजन में निरंतर रहे बल्कि सभी सीजनों में निरंतर रहे।"


TAGS KXIP