KXIP के खिलाफ करो या मरो वाले मैच में मुंबई इंडियंस इन खिलाड़ियों के साथ मैदान पर उतरेगी
X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

KXIP के खिलाफ करो या मरो वाले मैच में मुंबई इंडियंस इन खिलाड़ियों के साथ मैदान पर उतरेगी

by Vishal Bhagat May 03, 2018 • 19:28 PM

3 मई (CRICKETNMORE)। तीन बार इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का खिताब अपने नाम कर चुकी मुंबई इंडियंस को लीग के 11वें संस्करण में शुक्रवार को किंग्स इलेवन पंजाब के दूसरे घर होल्कर क्रिकेट स्ट्रेडियम में एक और मुश्किल चुनौती का सामना करना है। स्टार खिलाड़ियों से सजी मुंबई की टीम इस सीजन में अंकतालिका में सबसे निचले स्थान पर है। प्लेऑफ में जाने के लिए मुंबई को अपने बचे हुए सभी मैच जीतने होंगे। दिनेश कार्तिक की वाइफ है बला की खूबसूरत, जरूर देखिए

दूसरी तरफ पंजाब इस सीजन में शानदार प्रदर्शन कर रही है और खिताब की प्रबल दावेदारों में से एक है। सात मैचों में पांच जीत के साथ 10 अंक लेकर वह तीसरे स्थान पर आत्मविश्वास से बनी हुई है।

इस सीजन में मुंबई की बल्लेबाजी नहीं चली है। कप्तान रोहित शर्मा का बल्ला भी एक-दो मैचों में ही चला है। उनकी टीम में केवल सलामी बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव ही लगातार रन बना रहे हैं। उन्होंने आठ मैचों में 283 रन बनाए हैं। बाकी कोई बल्लेबाज निरंतर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाया है।

रोहित छह मैचों में 20 के आंकड़े को भी पार नहीं कर पाए हैं। मुंबई के तूफानी बल्लेबाज केरन पोलार्ड का बल्ला भी खामोश ही रहा है। उन्होंने अभी तक छह पारियों में 76 रन ही बनाए हैं। 

हार्दिक और क्रुणाल पांड्या भाइयों ने बल्ले से पिछले मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन किया था। इन दोनों पर टीम के निचले क्रम को संभालने की जिम्मेदारी है।

गेंदबाजी में मुंबई एक बार फिर मयंक मरक डे पर निर्भर रहेगा। लेग स्पिनर मयंक ने आठ मैचों में 11 विकेट अपने नाम किए हैं। मयंक इस सीजन में उन गेंदबाजों में शामिल हैं जिन्हें खेलना बल्लेबाजों के लिए मुश्किल साबित हुआ है। तेज गेंदबाजी में जसप्रीत बुमराह, मिशेल मैक्लेघन और मुस्तफिजुर रहमान पर बड़ी जिम्मेदारी है। 

उधर, पंजाब की टीम तीनों विभागों में संतुलित प्रदर्शन कर रही है।

उसकी क्रिस गेल और लोकेश राहुल की सलामी जोड़ी पंजाब की सफलता का मुख्य कारण रही है। राहुल ने सात मैचों में 268 रन जड़े हैं। गेल ने सिर्फ चार मैचों में 252 रन बना डाले हैं जिसमें एक शतक शामिल है। 

इन दोनों ने टीम को मनमाफिक शुरुआत दी है और इस मैच में इन दोनों से यही उम्मीद है। 

टीम के मध्यक्रम को करूण नायर ने अच्छे से संभाला है और कई उपयोगी पारियां खेली हैं। लेकिन, पंजाब के लिए युवराज सिंह, मयंक अग्रवाल और एरॉन फिंच का बल्ला शांत रहा है। इन तीनों की फॉर्म टीम प्रबंधन के लिए परेशानी का सबब है।

गेंदबाजी में कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने आगे आकर टीम की अगुआई की है। मोहित शर्मा और बरिंदर सरण ने भी अच्छा प्रदर्शन किया है। 

एंड्रयू टाई गेंदबाज के तौर पर अपने प्रदर्शन में निरंतरता नहीं रख पाए हैं। 

इस क्षेत्र में टीम की सबसे बड़ी जिम्मेदारी अफगानिस्तान के लेग स्पिनर मुजीब उर रहमान ने निभाई है। वह टीम के लिए काफी उपयोगी साबित हुए हैं। 

टीमें : 

किंग्स इलेवन पंजाब: रविचंद्रन अश्विन (कप्तान), अक्षर पटेल, युवराज सिंह, करूण नायर, लोकेश राहुल, क्रिस गेल, डेविड मिलर, एरॉन फिंच, मार्कस स्टोइनिस, मयंक अग्रवाल, अंकित राजपूत, मनोज तिवारी, मोहित शर्मा, मुजीब उर रहमान, बरिंदर शरण, एंड्रयू टाई, अक्षदीप नाथ, प्रदीप साहू, मयंक डागर, मंजूर दार। 

मुंबई इंडियंस: रोहित शर्मा (कप्तान), जसप्रीत बुमराह, हार्दिक पांड्या, केरन पोलार्ड, मुस्तफिजुर रहमान, सूर्यकुमार यादव, क्रुणाल पांड्या, ईशान किशन, राहुल चहर, इविन लुइस, सौरभ तिवारी, बेन कटिंग, प्रदीप सांगवान, ज्यां पॉल ड्यूमिनी, तजिन्दर सिंह, शरद लुंबा, सिद्धेश लाड, आदित्य तारे, मयंक मरक डे, अकिला धनंजय, अनुकूल रॉय, मोहसिन खान, एमडी निधीश, मिशेल मैक्लेघन, एडम मिलने