X close
X close

रणजी ट्रॉफी में कर्नाटक के मयंक अग्रवाल के शतक बदौलत दिल्ली के खिलाफ पहले दिन 4 विकेट पर 348 रन बनाए

by Vishal Bhagat Nov 09, 2017 • 19:38 PM

नई दिल्ली, 9 नवंबर | मयंक अग्रवाल (नाबाद 169) के शतक के दम पर कर्नाटक ने बेंगलुरू में खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी के ग्रुप-ए के मैच में दिल्ली के खिलाफ पहले दिन गुरुवार को अपनी स्थिति मजबूत कर ली है। मेजबान टीम ने दिन का अंत चार विकेट पर 348 रनों के स्कोर के साथ किया।  मयंक के अलावा कर्नाटक की पारी को मनीष पांडे (74) और रविकुमार समर्थ (58) की अर्धशतकीय पारियों से भी मजबूती मिली।

दिनेश कार्तिक की वाइफ है बला की खूबसूरत, देखकर आप दिवाना हो जाएगें

भारतीय टेस्ट टीम के सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल श्रीलंका के खिलाफ होने वाली सीरीज से पहले अपने बल्ले का जौहर पहली पारी में नहीं दिखा सके। वह नौ रन बनाकर कुलवंत खेतरोलिया का शिकार बने। इसके बाद मयंक ने समर्थ के साथ दूसरे विकेट के लिए 112 रनों की साझेदारी की और फिर मनीष पांडे के साथ मिलकर चौथे विकेट के लिए 236 रन जोड़े। कप्तान करुण नायर (15) एक बार फिर विफल रहे। 

वहीं इस ग्रुप के अन्य मैच में उत्तर प्रदेश ने गुवाहाटी में खेले जा रहे मैच में उपेंद्र यादव और सौरभ कुमार के बीच सातवें विकेट के लिए 246 रनों की साझेदारी के दम पर खराब स्थिति से वापसी करते हुए अपनी पहली पारी में 349 रन बनाए हैं। 

दिन का खेल खत्म तक असम ने बिना कोई विकेट खोए 25 रन बना लिए हैं। पहले बल्लेबाजी करने उतरी उत्तर प्रदेश की टीम ने अपने छह विकेट 74 रनों पर ही खो दिए थे। मेहमान टीम के कप्तान सुरेश रैना (6) एक बार फिर बल्ले से विफल रहे। 

उपेंद्र ने 143 गेंदों में 19 चौके और एक छक्के की मदद से 127 रनों की पारी खेली। वहीं सौरभ ने सिर्फ 118 गेंदों का सामना किया और 22 चौके तथा एक छक्के की मदद से 133 रनों की तूफानी पारी खेली।  ऋषव दास (10) और राहुल हजारिका (11) की सलामी जोड़ी ने दिन का खेल खत्म होने तक टीम को एक भी झटका नहीं लगने दिया। '

दिनेश कार्तिक की वाइफ है बला की खूबसूरत, देखकर आप दिवाना हो जाएगें

ग्रुप के तीसरे मैच में कप्तान अंकित बवाने (92) और रोहित मोटवानी (नाबाद 52) ने रलवे के खिलाफ पुणे में खेले जा रहे मैच में महाराष्ट्र को संभाल लिया है। 71 रनों पर ही अपने तीन विकेट खो चुकी महाराष्ट्र को बवाने ने बचाया। इसमें उनका नौशाद शेख (37) ने अच्छा साथ दिया।  अंत में बवाने और मोटवानी ने टीम के लिए पांचवें विकेट के लिए 95 रनों की साझेदारी की।