X close
X close

भारतीय फैन्स के गड़बड़ रवैये से खुश नहीं है मिताली राज, आय़ा ऐसा बयान

by Vishal Bhagat Oct 11, 2017 • 18:06 PM

11 अक्टूबर। गुवाहाटी में खेले गए दूसरे टी-20 मैच में हार के बाद भारतीय प्रशंसकों द्वारा आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों की बस पर पत्थर फेंकने की घटना को भारत की महिला टीम की कप्तान मिताली ने दुखद बताया है। मिताली ने बुधवार को कहा कि मेजबान देश होने के नाते इस तरह का व्यवहार शोभा नहीं देता। 

मनोज तिवारी की वाइफ है काफी खूबसूरत, जरूर देखें

अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस (11 अक्टूबर) के मौके पर यूनिसेफ द्वारा आयोजित कराए गए कार्यक्रम 'बालिका सशक्तिकरण में खेलों की अहमित' में शिरकत करने आईं मिताली ने खिलाड़ियों की सुरक्षा के मुद्दे पर उठे सवाल पर कहा कि जनता को परिणाम से ज्यादा भावुक नहीं होना चाहिए और ध्यान रखना चाहिए की हम भी जब दूसरे देशों में जाते हैं तो सम्मान चाहते हैं।

मिताली ने कहा, "जो कुल हुआ वो काफी बुरा था क्योंकि लोग वहां मैच देखने आए थे। उन्हें मैच के परिणाम को देखकर बहुच ज्यादा भावुक नहीं होना चाहिए और इस बात को ध्यान में रखना चाहिए दूसरी टीम जब यहां आई है तो हम मेजबान हैं।"

महिला क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाली बल्लेबाज मिताली ने कहा, "एक मेजबान देश होने के नाते हम इस तरह का बर्ताव नहीं कर सकते क्योंकि जब हम वहां खेलने जाते हैं तो हम भी सम्मान चाहते हैं और यहां आई टीमें भी इसी की ख्वाहिश रखती हैं।"

आस्ट्रेलिया ने मंगलवार को दूसरे टी-20 मैच में भारत को आठ विकेट से हराते हुए तीन टी-20 मैचों की सीरीज 1-1 से बराबर कर ली है। मंगलवार रात बरसापारा स्टेडियम से मैच खेलकर वापस लौट रही आस्ट्रेलिया टीम की बस पर पत्थर फेंका गया। असम सरकार ने हालांकि इस घटना की जांच का आदेश दिया है। इसी क्रम में पुलिस ने घटना में संलिप्तता के संदेह में दो लोगों को गिरफ्तार किया है।

मनोज तिवारी की वाइफ है काफी खूबसूरत, जरूर देखें

फेसबुक और ट्विटर जैसी सोशल मीडिया साइटों पर लोग इस घटना को लेकर बयानबाजी कर रहे हैं और आलोचनाएं भी कर रहे हैं। कुछ लोगों का कहना है कि इस घटना के लिए असम के लोगों को दोषी नहीं ठहराना चाहिए। इस घटना के बाद आस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के खिलाड़ी एरॉन फिंच ने ट्वीट किया। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, "होटल जा रही टीम की बस की खिड़की पर पत्थर फेंका गया। थोड़ा डरावना था।"

इस पोस्ट के साथ फिंच ने टीम की बस की टूटी खिड़की का एक फोटो भी साझा किया। असम के मुख्यमंत्री सवार्नंद सोनोवाल ने एक ट्वीट में लिखा, "इस घटना में शामिल आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। जांच चल रही है और पुलिस ने दो संदिग्धों को गिरफ्तार कर लिया है।"